September 17, 2021
Uncategorized

आपदाकाल के 18कर्मियों को बगैर सूचना के निकाला, कर्मी सड़कों पर …..

Spread the love

जिओ न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा-आपदाकाल में 18 लोगों को कोविड मरीजों के सेवा के लिए आपदामोचन निधि के मद से भर्ती किये इन लोगों पर आये इस आपदा से कौन बचाएगा?इन्हें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने तुगलकी फरमान जारी करते 2 सितंबर 21 को बिना किसी पूर्व सूचना के नौकरी से निकाल दिया।अचानक आये इस आदेश से ये कर्मी हतप्रभ हैं और इन्हें समझ नहीं आ रहा हैं कि अब करें तो क्या ?राज्य में सरकार ने नारा दे रखा है अन्याय पर निशाना लेकिन जब इस प्रकार के आदेश निकलते हैं तो हैरानी होती है ।इनमें पूजा नाग,अंजली सलाम, ललिता नाग स्टॉफनर्स ने बताया कि हमने लोन लिया है और किसी तरह से उसकी किश्तें चुका रहे थे ।अब उनके पास बेहद मुश्किल समय है ।आपदा के समय कोविड ड्यूटी में अपनी जान जोखिम में डालकर हमने सेवाएं दी और बदले में सरकार ने हमें नौकरी से हटा दिया ।इनमें एक पुरुष लैब अटेंडेंट पुरुषोत्तम बघेल भी हैं ।अधिकांश नौकरी से निकाले गए आरक्षित वर्ग से है ।जिला कलेक्टर के गोलमोल जवाब ने इन्हें और भी अधिक निराश कर दिया है ।

Related posts

सर्व आदिवासी समाज के सदस्य पहुंचे बाढ़ पीड़ितों की मदद करने

jia

प्रदेश में बढ़ते अपराध के विरोध में भाजपा ने दिया धरना

jia

भाजपाइयो के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग को लेकर कांग्रेसी पहुँचे बस्तर एसपी से मिलने

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!