October 24, 2021
Uncategorized

लोन वर्राटू की सफलता से घबराये माओवादी

Spread the love

लोन वर्राटू की सफलता से घबराये माओवादी

बुजुर्ग दंपति को किया रिहा

आत्मसमर्पण को रोकने के लिये माओवादियों ने किया था अपहरण

पहली बार पुलिस जवान के परिजनों को अपहरण के बाद किया रिहा

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा:-यह दंतेवाड़ा जिले के गुमियापाल गांव में नक्सलियों ने 67 वर्षीय ग्रामीण लच्छू तेलाम को रात क़रीब दस बजे गावं पहुंच कर घर से उठा ले गये। बताया जा रहा है की बूजूर्ग को ले जाते देख उनकी पत्नी भी पीछे पीछे चली गयी।गौरतलब हैं कि लच्छू तेलाम का बेटा अजय तेलाम दंतेवाड़ा पुलिस में आरक्षक है और डीआरजी में शामिल है। दंतेवाड़ा पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि पुलिस की कार्यवाही से घबराये नक्सली इसके पहले भी दबाव बनाने के लिए धमकी भी देते रहे हैं। लेकिन दंतेवाड़ा में पुलिस के किसी जवान के परिजनों के अपहरण का पहला मामला है। सुबह गुमियापाल के सैकड़ों ग्रामीण जंगल की ओर गये हैं जिससे कि माओवादियों से संपर्क कर बूजूर्ग दंपत्ति को सुरक्षित वापस लाया जा सके। और आखिरकार माओवादियों को बुजुर्ग दंपति को रिहा करना पड़ा।पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव ने कहा कि माओवादी लोन वर्राटू की सफलता से घबरा गये हैं। एक दो दिन में लोन वर्राटू से प्रेरित होकर गुमियापाल क्षेत्र के 15 से 20 माओवादी आत्मसमर्पण करने वाले थे। जिसकी भनक माओवादियों को लग गयी थी जिसके कारण वहां भय व डर का वातावरण निर्मित करने के लिये माओवादियों ने इस तरह की कायराना हरकत की है।जिससे कि लोग आत्मसमर्पण न कर पाये।लोन वर्राटू से ग्रामीणों में काफी जागरूकता आयी हैं और लोग मुख्य धारा में जुड़ना चाहते है।

Related posts

नगर में माई जी की डोली का हुआ भव्य स्वागत
विधि विधान से की गई पूजा अर्चना

jia

जिले में रोका छेका अभियान फेल, लावारिश पशुओं पर नियंत्रण नहीं, दुर्घटनाएं बढ़ी ।

jia

पंचायत बना चारागाह-बोमड़ा
सरकार बदली, वादे बदले,लेकिन पंचायतों के हालात नहीं बदले टंकी तो है पर पानी है लापता

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!