November 26, 2022
Uncategorized

बेरोजगारी समस्या को ले कर आमरण अनशन पर बैठी बस्तर की बेटी को मिला बस्तर के प्रबुध्दजीवियो का समर्थन बस्तर अधिकार सँयुक्त मुक्ति मोर्चा के संयोजक नवनीत चाँद पहुँचे अपने समर्थको के साथ आमरण अनशन स्थल

Spread the love

जिया न्यूज़:-जगदलपुर,

जगदलपुर:-मोर्चा के संयोजक नवनीत चाँद ने कहा—-छ. ग. के बेरोजगारों के हित तो वही बस्तर के पड़े लिखे बेरोजगारों के हित मे बस्तर संभाग में सभी विभागों में रिक्त पड़े शासकीय पदों में भर्ती को लेकर बस्तर की बेटी आम आदमी पार्टी के बैनर तले अनशन में बैठी है

आज इस अनशन का चौथा दिन है। न सरकार न जिला प्रशासन न ही बस्तर के हितों पर व बेरोजगारों के रुख पर कड़ा रुख रखने वाली दोनो ही राजनीतिक पार्टियों जो पूरे राज्य में सरकार चला चुकी हैं। और चला रही है। वो अपने लछेदार भाषण से ऊपर उठ कर जमीन पर बेरोजगारों के लिए कोई कार्य नहीं कर रही है

आज बेरोजगारी से तंग आकर दो युवको ने मुख्यमंत्री निवास के समीप अग्नि स्नान कर लिया । एक युवक की पूर्व में मृत्यु हो गई थी। और एक कि आज हुईं जिसका नाम हरदेव है यह घटना अपने आप में मानवता को शर्मसार करने वाला है। ऐसे में बस्तर में इस से बुरे हालात हैं बेरोजगारों को जो सरकार की उदासीनता व नक्सलियों की ज्याति दोनो झेलना पड़ रहा है। ऐसे में बस्तर की इस बेटी का यह सहाशिक कदम मुझे अचम्भा में डालता है

उन्होंने आगे कहा कि –बस्तर के बुध्दि जीवी क्यों? इस साहशिक कदम का उत्साहवर्धन व साथ नहीं दे रहे हैं। यह समझ से परे है। मेने व्यक्तिगत तौर पर अपने कुछ साथियों के साथ जो मेरे विचार से सहमत थे। वहाँ पहुच इस आंदोलन के विषय को समर्थन दिया, वह उन से वादा किया कि में स्वयं बस्तर अधिकार सयुक्त मुक्ति मोर्चा के संघटन में इस विषय को रख आप के आंदोलन के विषय को विस्तार देते हुए, मेरा रोजगार मेरा अधिकार अभियान चला कर बस्तर के बेरोजगार युवक व युवतियों के हक की लड़ाई सरकार से लड़ेंगे और जीतेंगे ,क्योंकि बस्तर का हर बेरोजगार साथी सरकार के उसे वादे को निभवायेगा जो सरकारो ने सत्ता में आने से पूर्व जनता से किया था

Related posts

पीजी कॉलेज में नही है लॉ विभाग का बिल्डिंग,
प्रशासन को किये वादे अभाविप ने करवाया याद
ई लाइब्रेरी,वाईकल स्टैंड बनाने का किया था जिला प्रशासन ने वादा

jia

जिला पंचायत सदस्य मुडामी की पहल से पानी की समस्या हुई दूर।

jia

पुलिस अधीक्षक के प्रयास से पीड़ित परिवार को मिला बीमा का लाभ।
उप निरीक्षक मुरली ताती की पत्नी को मिली 5 लाख रूपये की बीमा राशि
शासकीय कर्मचारियों के दुर्घटना बीमा योजना अन्तर्गत मिली राशि

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!