February 28, 2024
Uncategorized

शिक्षको के वेतन विसंगति,क्रमोन्नति, पदोन्नति की छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन ने शासन से की चरणबद्ध मांग, सहायक शिक्षक वर्ग विशेष रूप से प्रभावित, उपेक्षापूर्ण रवैय्ये के कारण शून्य में रिटायर हो रहे शिक्षक

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा/गीदम,

गीदम:-छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष उदयप्रकाश शुक्ला ने कहा है कि सभी विभाग में पदोन्नति जारी है। किन्तु शिक्षा विभाग ने अभी तक एल बी संवर्ग के शिक्षकों को पदोन्नति नही दी है। सबसे ज्यादा प्रभावित सहायक शिक्षक संवर्ग है, जिन्हें न्यूनतम वेतनमान मिलता है। 10 वर्ष की सेवा में क्रमोन्नति व 5 वर्ष की सेवा में पदोन्नति का नियम है, किन्तु हजारो शिक्षक संवर्ग को 23 वर्ष की शिक्षकीय सेवा में भी क्रमोन्नति व पदोन्नति नही दी गई है। हमेशा दो विभाग के बीच हमारी सेवाओं को उलझाया जाता रहा है।उन्होंने कहा कि प्रदेश में शिक्षा विभाग प्रयोगशाला बन चुका है। नित नयी कार्ययोजना के कारण एक लक्ष्य की प्राप्ति नही होती है। नये कार्य को प्रचारित कर विभाग सुर्खियों में होता है, वास्तव में विभाग के शिक्षको के सेवा शर्त व कल्याण पर कोई कार्य नही हो रहा है। 1998 से शिक्षक एल बी संवर्ग शालाओ में शिक्षण कार्य कर रहे है और कई शिक्षक बिना पेंशन, जीपीएफ, अवकाश नकदीकरण व क्रमोन्नति/पदोन्नति के सेवानिवृत्त हो गये। लेकिन विभाग ने कभी उन कर्मचारियों की सुध नही ली। लगातार मांग के बाद भी नियम का हवाला देकर सेवा के बाद रिटायर शिक्षक को उसके हाल में छोड़ दिया गया। जिला अध्यक्ष ने कहा कि 1998 से लगातार भर्ती किये गए हजारो शिक्षाकर्मियों को आज तक क्रमोन्नति व पदोन्नति नही मिली। एक ही पद पर 10 वर्ष की सेवा पूर्ण करने पर क्रमोन्नति का प्रावधान है, किन्तु नियम कायदे के चक्कर मे विभाग ने शोषण ही किया है।वर्तमान में प्रदेश में प्राथमिक शाला प्रधान पाठक के 22 हजार पद रिक्त है। सहायक शिक्षक एल बी संवर्ग ही वहाँ प्रभारी का दायित्व निर्वहन कर रहे है। उन्हें ही पदोन्नति देकर विभाग की गुणात्मक व्यवस्था में सुधार किया जा सकता है। साथ ही इससे शिक्षको को वित्तीय लाभ के साथ सेवा संतुष्टि मिलेगी। व्याख्याता व शिक्षक के वेतन अनुपात में ही शिक्षक व सहायक शिक्षक का वेतन भी निर्धारित करने आवश्यकता है, जिससे सहायक शिक्षको की वेतन विसंगति दूर होगी।छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन ने विशेष रूप से ऐसे सहायक शिक्षक सहित शिक्षक व व्याख्याता संवर्ग के लिये ही क्रमोन्नति, पदोन्नति देने व वेतन विसंगति दूर करने की मांग को लेकर चरणबद्ध मांग – ज्ञापन देने का निर्णय लिया है। जिसके तहत प्रदेश स्तर पर 23 व 24 जुलाई 2020 संभाग स्तर पर 30 व 31 जुलाई 2020 जिला स्तर पर 7 से 10 अगस्त 2020 ब्लॉक स्तर पर 17 से 20 अगस्त 2020 को मुख्यमंत्री महोदय व मुख्यसचिव के नाम तहसीलदार, एसडीएम, कलेक्टर, कमिश्नर को मांगपत्र दिया जायेगा। इस दौरान छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष उदयप्रकाश शुक्ला,नोहर सिंह साहू,खोमेन्द्र देवांगन, अमित देवनाथ,सुभाष कोडोपी, भरत कुमार दुबे,शंकर चौधरी,अजय साहू,केशव स्वर्ण,नारायण साहू व अन्य लोग उपस्थित रहे।

Related posts

छत्तीसगढ़ की धान खरीदी में धान बेचने वाले भाजपा नेताओं को धान खरीदी पर आंदोलन में शामिल होने का कोई नैतिक अधिकार नही है-विक्रम

jia

केरल से लौटते ही आरक्षक ने खुद को मारी गोली

jia

आरक्षक से प्रधान आरक्षक एवं प्रधान आरक्षक से एएसआई पद के लिए हुई परीक्षा
2978 आरक्षक एवं 308 प्रधान आरक्षक शामिल

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!