December 8, 2022
Uncategorized

विक्रम मण्डावी के बीजापुर विधायक बनने के बाद लगातार विकास दौड़ रहा है पटरी पर पामेडवासियो को अंधेरे से मिली निजात प्रदेश सरकार व क्षेत्रीय विधायक का जताया आभार

Spread the love

जिया न्यूज़:-राजेश जैन-बीजापुर,

बीजापुर : जिले का अतिसंवेदन शील क्षेत्र पामेड़ वर्षो से विकास की बाट जो रहा था,जो अब प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद व क्षेत्रीय विधायक की पहल पर पामेड़ पहुंच रहा है,15 वर्षो तक छत्तीसगढ़ में व 10 साल बीजापुर में भाजपा का कब्जा रहने के बाद भी पामेड़ विकास से कोषों दूर रहा,लोगो ने तो उम्मीद ही छोड़ दी थी, पूर्व विधायक हो या शासन प्रशासन किसी ने ध्यान नही दिया,लेकिन छत्तीसगढ़ में सत्ता परिवर्तन व क्षेत्रीय विधायक विक्रम शाह मण्डावी के बनने के बाद लोगो मे एक आस व भरोसा था,की अब कुछ तो जरूर होगा,क्षेत्रीय विधायक लगातार अपने क्षेत्र की समस्याओं को संज्ञान में लेकर उनका निराकरण कर रहे है,
विगत 1वर्ष पूर्व बीजापुर विधायक विक्रम शाह मण्डावी से वर्तमान बीजापुर जिला पंचायत उपाध्यक्ष कमलेश कारम ने पामेड़ के ग्रामीणों के साथ मिलकर विधायक से मुलाकात की थी,व मांग की थी कि पामेड़ की बिजली की समस्या को जल्द से जल्द निराकरण करवाये,बीजापुर विधायक व बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष ने पामेड़ की बिजली समस्या को प्राथमिता से लेते हुए,निराकरण करवाया है।
वर्षो से अपनी एक सूत्रीय मांग को लेकर हमेशा पामेड ग्राम के लोग हर मंच पर ज्ञापन दिया करते थे लेकिन अब पामेड़वासियो को अब ऐसा नही करना पड़ेगा क्योंकि वर्तमान भूपेश सरकार ने उनकी मांगों को मानते हुए गांव में तेलंगाना से विद्युत लाइन का विकल्प देकर एक बहुत बड़ी सौगात दी है जिसके लिए ग्रामीण प्रदेश सरकार साथ साथ बीजापुर के विधायक विक्रम शाह मंडावी की तारीफ करते नही थकते, ये इसलिए भी है क्योंकि आज से पहले ऐसा कभी भी नही हुआ कि पामेड जैसे अत्यंत पिछड़े क्षेत्र में बिजली पहुंची हो, इससे पहले पामेड के लोगो को अपने अपने घरों में रौशनी के लिए पारंपरिक मिट्टी के तेल से चिमनी का सहारा लेना पड़ता था। पामेड़ तक 11केवी लाइन तिपप्पुरम तेलंगाना से लाया गया है।

पामेड जिला मुख्यालय बीजापुर से लगभग 100 किलोमीटर की दूरी पर है और पामेड से तेलंगाना की सीमा महज 10 से 12 किलोमीटर की दूरी पर है। पामेड के लोग अपनी आजीविका व व्यापार के लिए पूरी तरह तेलंगाना पर ही निर्भर रहते है और पामेड़वासियो का कृषि ही एक मात्र मुख्य व्यवसाय है।
पामेड क्षेत्र में बिजली लाइन के आने से पामेड़वासियो में खुशी की लहर तो है ही साथ ही अब पामेड क्षेत्र में भी व्यवसाय की संभावनाएं बढ़ेंगी। इस पुनीत काम के लिए क्षेत्र के लोगों ने प्रदेश की भूपेश सरकार व क्षेत्रीय विधायक विक्रम शाह मंडावी का आभार जताते नही थक रहे है।

Related posts

सीमावर्ती क्षेत्र में पुलिस नक्सली मुठभेड़ मुठभेड़ में एक नक्सली महिला ढेर कुछ घायल
चांदामेटा इलाके के कुमाकोलेंग का मामला
मुठभेड़ में महिला नक्सली का शव और एक एके 47 बरामद

jia

तीरथगढ़ के जंगल में युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या
अपनी पत्नी के साथ आया था तीरथगढ़ का मेला देखने के लिए

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!