December 4, 2021
Uncategorized

जगदलपुर शहर के एयरपोर्ट स्थित वार्ड वासियों की गाथा अजीबो गरीब गरीबो के घर उजाड़ कर ,हवाई यात्रा का जश्न बनाना बस्तर की संस्क्रति नहीं-मोर्चा

Spread the love

लापरवाही निगम की ,खामियाजा गरीब गुरुघाशी दास वार्ड व विवेकानंद नन्द वार्ड के प्रधानमंत्री आवास हितग्राही क्यों भूगते-मोर्चा

निगम ने घर बनाने का नक्शा किया पास ,दिए योजना के पैसे अब निगम का घर तोड़ने का नोटिश हितग्राहियों को देना ,नाजायज हिटलर शाही कदम-मोर्चा

बस्तर अधिकार सयुक्त मुक्ति मोर्चा ,वार्ड के योजना हितग्राहियों की समस्याओं को लेकर जवाबदार अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों से मिलकर ,निगम के गैर कानूनी कार्यवाही को रोकने का करेगी मांग-मोर्चा

जिया न्यूज़:-बी महेश राव-जगदलपुर,

जगदलपुर:-बस्तर में केंद्र व राज्य सरकारें सभी को घर व पट्टा देने के सपने को दिखा अपनी योजनाओं के महिमा मंडन में ताकत झोंक रहे हैं। तो वही जगदलपुर नगर निगम के गुरुघाशी दास वार्ड में नगर निगम की गलती का खामियाजा वार्ड के प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राही भुगत रहे हैं। बस्तर अधिकार सयुक्त मुक्ति मोर्चा दल ने वार्ड के हितग्राहियों की समस्याओं को सुन कर नगर निगम जगदलपुर के नोटिश को हिटलर शाही कदम बताते हुए निगम प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि ,गरीब के लिए घर बनाना एक सपने की तरह होता है। जो वो अपने जीवन की सभी जमा पूंजी को लगाकर व कर्ज के बोझ के तले दब कर बनाने की कोशिश करता है। जिसमे अधिकतम गरीब परिवार घर नही बना पाता है। सरकार की हर गरीब को अपना घर देने की योजना प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गांव व शहर में संचालित की है। इसी तर्ज में जगदलपुर शहर के गुरुघाशी दास वार्ड के लगभग 50 हितग्राहियों को इस योजनाओं का लाभार्थियों बनना गले का फास बन गया है। निगम के आला योजना संचालन अधिकारियों द्वारा इस योजना का लाभ देते समय दिग्भर्मित कर हितग्राहियों से एयरपोर्ट के नजदीक दीवार से लगी जमीनों में मकान बनाने के नक्शे पास कर उन्हें अनुमति दे दी गई ,इस नक़्शे को देखे तो यह पता चलता है कि इस नक़्शे में ग्राउंड प्लोर के अलावा प्रथम तल पर भी मकान बनाने की शर्त लागू है। वार्ड के हितग्राहियों के द्वारा योजना के शर्तों तहत अपने जमा पूंजी व कर्ज लेकर यह मकान का निर्माण कर लिया है। पर अब निगम अमले द्वारा अपने ही पास किये गए नक्शे को नही मानते हुए एयरपोर्ट कार्यलय की आपत्ति की शिकायत को आधार बना अपनी ही योजनाओं के हितग्राहियों को उनके आशियाने के प्रथम तल पर बने कमरों को तोड़ने का तुगलकी फरमान जारी कर दिया गया है। जो पूरी तरह से गेरे कानूनी वह अमानवीय कृत्य है। वार्ड के हितग्राहियों द्वारा इस कि शिकायत विधयाक से भी की है।जो आज संसदीय सचिव नगरीय निकाय मंत्रालय है उनके जारी पत्र की अवेलना करते हुए पुनः मकान दो दिनों में तोड़ने का नोटिश बिना सुनवाई के एक तरफा शिकायत पर कर दी गई है। बस्तर अधिकार सयुक्त मुक्ति मोर्चा निगम की इस हिटलर शाही कदम का घोर निंदा करता है। वही यह निगम से मांग करता है। कि इस एक तरफा कार्यवाही को रोके इसकी जांच करे और दोषियों को सजा दे जिसने सब कुछ जान कर यह नक्शा पास किया वह राशि भी आहरण करवाया वह हितग्राहियों की जमा पूंजी भी इस घर में लगावा दी ,मोर्चा इन गम्भीर विषयो को लेकर हितग्रहियो जवाबदार अधिकारियो व जनप्रतिनिधियों से मिलकर ज्ञापन सोप निगम की गेरे कानूनी एक तरफ़ा कार्यवाही को रोकने का मांग करेगी

Related posts

कोरोना काल में इम्यूनिटी के लिए शराब है खतरनाक! तो सरकार शराब की होम डिलीवरी के पक्ष में क्यों है? – प्रकाशपुन्ज पाण्डेय

jia

ट्रक के पिछले चक्के में आया युवक मौके पर मौत
मोतीतालाब पारा में सुबह 10 बजे के लगभग हुई दुर्घटना

jia

नगर के प्रत्येक चौक चौराहों व प्रत्येक वार्ड में डिजिटल पेंटिंग के माध्यम से लोगों को किया जा रहा जागरूक

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!