June 20, 2021
Uncategorized

कोरोना संक्रमण के चलते भंगाराम की अदालत में सजा पाने से बचे नौ परगना के देवी-देवता

Spread the love

जिया न्यूज़:-बब्बी शर्मा-कोण्डागांव,

कोण्डागांव:-वैश्विक महामारी कोविड 19के चलते इस वर्ष केशकाल घाटी के शिखर पर लगने वाली देवी-देवताओं की दुनिया की एक मात्र अदालत जिसमेें भंगाराम देवी द्वारा नौ परगना(८४गांव मिला कर एक परगना) के देवी देवताओं को उनकी गलतियों की सुनवाई कर सजा सुनाई जाती है,इस बार बहुत ही कम संख्या में देवी देवताओं का आगमन हुआ,गांव गांव से आने वाले सिरहा गुनिया पुजारी गांयता ग्राम प्रमुख एवं गांव वाले ही आ पाये.केवल गांव के प्रमुख देवी देवता आये। गांव वालों के द्वारा मां भंगाराम को प्रसन्न करने के लिए श्रद्धा भाव से दिये गये तेल हल्दी सेवा पूजा और भेंट गांव को आफत बला से मुक्ति दिलाने के लिए ले कर आए ।
महज परंपरा का निर्वाह करते रस्म अदायगी पूरी करने के लिए जातरा को संपन्न किया गया।
हर वर्ष आने वाले देवी देवताओं को दूसरे दिन देवी देवताओं की दरबार सजने एवं अदालत में पेशी के बाद बिदाई दी जाती थी पर इस वर्ष आवश्यक परंपरा निर्वाह की औपचारिकता पूर्ण कर दूसरे दिन लगने वाले देवी देवताओं के अदालत को स्थगित करके शाम को ही बिदाई दे दी गयी । जातरा अवसर पर क्षेत्रीय विधायक संतराम नेताम ने भी मां के दर पर पहुंचकर पूजा अराधना कर क्षेत्रवासियों के खुशिहाली की कामना करते क्षेत्रवासियों को कोरोना से बचाये रखने की प्रार्थना की,जातरा को निर्विघ्न संपन्न कराने के लिए पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात था तथा पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित उपस्थित रहे।
भंगाराम मंदिर के पुजारी-सरजू राम गौर एंव सचिव ने क्षेत्र के सभी ग्रामीणों को सहयोग व कोरोना महामारी के समय में नियमों के पालन करते हुए कार्यक्रम को समपन्न कराने हेतु धन्यवाद ज्ञापित किया है।

Related posts

सत्ता पक्ष के नेता के ड्राइवर ने डॉक्टर के साथ कि मारपीट आरोपी ड्राइवर पर कार्यवाही की डॉक्टरों ने की मांग

jia

jia

बस्तर हित मे ,अवैध लौह अवशेष डंपिंग मामले की बस्तर कमिश्नर की जांच रिपोर्ट हो सार्वजनिक-मोर्चा

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!