October 24, 2021
Uncategorized

कोरोना से हुई मौत के बाद शव को परिवार ने छूना तो दूर उसके पास भी नहीं दिखे और छोड़कर वापस अपने गृह ग्राम चले गए.. इस बीच नगर पालिका अध्यक्ष मृणाल राय ने मानवता का परिचय देते हुए शव का परिवार बना ।

Spread the love

शव को दफनाने नगर पालिका अध्यक्ष के साथ – साथ पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष शैलेंद्र सिंह तहसीलदार पीआर पात्रे, सीएमओ एचआर गोंदे, थाना प्रभारी डीके बरवा, गौरी शंकर तिवारी, सुनील जैन एवं नगर प्रशासन टीम की मुख्य भूमिका रही……

जिया न्यूज़:-रवि दुर्गा-किरंदुल,

किरंदुल । कोरोना मरीज की मौत के बाद परिवार संक्रमण की डर से शव को छुआ तक नहीं और शव को छोड़कर वापस अपने गांव चले गए फिर इस बीच नगर पालिका परिषद परिवार बनकर उस शव के साथ खड़ा रहा ।

ज्ञात हो कि जिला प्रशासन ने पुष्टि किया कि नागेश्वर राव की मौत कोरोना और पीलिया ये दोनों से हुई है जब इसकी सूचना परिवार को पता चला तब वह शव को छूना तो दूर उसके पास भी नहीं दिखे और मृतक के परिजन उसे छोड़कर वापस अपने गांव झारखंड चले गए ।

अब मृतक की शव को अंतिम संस्कार करने कोई नही है तब उस बीच नगर पालिका अध्यक्ष मृणाल राय ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए उस शव को दफनाने हेतु पालिका में अपने अधिकारी और कर्मचारियों के साथ आपातकालीन बैठक की जिसमें मुख्य रूप से पूर्व पालिका अध्यक्ष व वर्तमान पार्षद शैलेंद्र सिंह तहसीलदार पीआर पात्रे, थाना प्रभारी डीके बरवा सीएमओ, एच.आर गोंदे, सहायक राजस्व निरीक्षक गौरीशंकर तिवारी स्वास्थ्य विभाग व पुलिस बल मौजूद थे । इस आपातकालीन बैठक में यह निर्णय लिया गया कि इस शव की अंतिम संस्कार पालिका प्रशासन के द्वारा किया जाएगा और ऐसा ही हुआ ।

जब नगर प्रशासन शव को दफनाने किरंदुल पाड़ापुर पहुँचा तब संक्रमण फैलने की डर से लोगो ने इसका विरोध भी किया ।

मामला और भी गंभीर होता जा रहा था इसको ध्यान में रखते हुये नगर पालिका अध्यक्ष मृणाल राय ने एनएमडीसी की स्थानीय गेस्ट हाउस में आपातकालीन मीटिंग रखा जिसमें मुख्य रूप से तहसीलदार पीआर पात्रे, पूर्व पालिका अध्यक्ष शैलेंद्र से सीएमओ एचआर गोंदे, थाना प्रभारी डीके बरवा, एनएमडीसी उप महाप्रबंधक एस चटर्जी, सीआईएसएफ कमांडेट आलोक कुमार की मौजूदगी में शव को दफनाने स्थल का चयन किया गया जहाँ स्थल को गोपनीय रखा गया है ।

नगर प्रशासन ने पूरी कड़ी सुरक्षा के साथ शव को परियोजना हॉस्पिटल से निकालकर पूरे विध विधान के साथ दफनाया गया ।

इस गंभीर परिस्थिति में कोरोनावायरस और पीलिया से हुई मौत के बाद नागेश्वर राव की शव को दफनाने में मुख्य रूप से नगर पालिका अध्यक्ष मृणाल राय, पूर्व पालिका अध्यक्ष शैलेंद्र सिंह, तहसीलदार पीआर पात्रे, सीएमओ एचआर गोंदे, थाना प्रभारी डीके बरवा, डॉ. पीएस पटेल, सहायक राजस्व निरीक्षक गौरी शंकर तिवारी, सुनील जैन, दिनेश, एडमल स्वामी, बेनी प्रसाद आदि इन सभी लोगों ने नियमों का पालन करते हुए कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए शव को दफनाया

Related posts

ग्रामीणों द्वारा सिलगेर में crpf कैम्प का विरोध प्रदर्शन है जारी
गोलीबारी में ग्रामीण नहीं बल्कि नक्सली मारे गए-पी.सुंदर राज आई.जी बस्तर,

jia

शहीद विधायक भीमा मंडावी की द्वितीय पुण्यतिथि में मूर्ति अनावरण

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!