June 17, 2021
Uncategorized

प्रदेश सरकार की गौठान योजना में ढोल के अंदर पोल बेजुबान पशुओं की आँखों से बहते अश्रु कर रहे हालात बंया

Spread the love

जिया न्यूज़:-बब्बी शर्मा-कोंडागांव,

कोण्डागाँव:-प्रदेश सरकार की रोका-छेका व गौठान योजना बदहाली की कगार पर दम तोड़ती नजर आ रही है, सरकार भी पशुओं के प्रति लगातार असंवेदनशील नजर आ रही है।
भूपेश बघेल के नेतृत्व में प्रदेश में काँग्रेस सरकार के आते ही महत्वाकांक्षी योजना नरवा,गरुवा, घुरवा बाड़ी को प्रारम्भ किया गया,वहींं गाँव शहर की सड़कों पर घूम रहे मवेशियों से होने वाले दुर्घटनाओं को रोकने व खड़ी फसल को नुकसान से बचाने रोका-छेका की योजना प्रारम्भ की गई।
परन्तु जिला मुख्यालय के नगरपालिका अंतर्गत संचालित गौठान में लाये गए मवेशियो कीआँखों से बहते आंसू,शरीर पर जगह-जगह जख्म भूख-प्यास से तड़फते,हाँफते पशु प्रदेश सरकार की इस महत्वपूर्ण योजना की पोल खोल रहे हैं। रोका-छेका के तहत जिन मवेशियों को गौठान लाया गया है उनमें कई मवेशी गम्भीर रूप से जख्मी हैं लेकिन उनके उपचार के प्रति नगरपालिका के जिम्मेदार अधिकारी गंभीर नजर नहींं आ रहे हैं,यही नहींं कई मवेशी इलाज के अभाव में मरने की कगार पर पहुँच गए हैं.मौके पर मौजूद नगर पालिका अधिकारी से जख्मी बीमार पशुओं के बारे मेंं पूछे जाने पर अधिकारी गोल मोल जब देकर अपनी जिम्मेदारी से बचते रहे।
वहींं जिले के कलेक्टर ने कहा कि मुझे अभी जानकारी मिली है हम पशु चिकित्सकों की टीम भेज रहे हैं ।

Related posts

समलूर सोसाइटी भवन जर्जर, मरम्मत की दरकार

jia

आखिर क्या है “पप्पू” शब्द का असली अर्थ? क्या राहुल गांधी को “पप्पू” कहना किसी साज़िश का हिस्सा है? – प्रकाशपुन्ज पाण्डेय

jia

पुलिस ने खोज निकाला लेपटाॅप
कोतवाली थाने में प्रार्थी को किया गया सुपुर्द

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!