June 16, 2021
Uncategorized

रंगोली, अन्य कलाकृति के साथ-साथ बच्चों का कौशल विकास पर भी दिया जा रहा ध्यान नवाचारों के माध्यम से बच्चों को खेल खेल में दी जा रही शिक्षा गीदम विकासखंड के माधोपारा में चल रही मोहल्ला क्लास

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा/गीदम,

गीदम:-कोरोना कॉल में एक ओर जहां सभी स्कूल बंद है। वही शिक्षकों के द्वारा बच्चों की पढ़ाई की क्षतिपूर्ति के लिए पारा मोहल्ले, सामुदायिक भवन या किसी मंदिर परिसर में किसी या किस व्यक्ति के निजी मकान में भी कक्षाओं का संचालन किया जा रहा है।जिले के पारा मोहल्लों में पढ़ने के साथ-साथ बच्चे कुछ गतिविधियां भी सीख रहे हैं। शासन प्रशासन की मंशा भी यही है। कि बच्चों को शिक्षक खेल-खेल में ही पढ़ाएं। विकासखंड गीदम के माधोपारा के शिक्षक शिव कुमार गुप्ता के द्वारा बच्चों को रंगोली एवं अन्य कलाकृति के साथ-साथ बच्चों का कौशल विकास भी किया जा रहा है।इस प्रकार शिक्षक बच्चों को शिक्षा से जोड़े रखकर सभी प्रकार से कौशल सिखाने की कोशिश कर रहे हैं। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी किया जा रहा हैं। माधोपारा गीदम के शिक्षक शिव कुमार गुप्ता ने बताया कि वे शाला व समुदाय के साथ मिलकर सामूहिक रूप से बच्चों की शिक्षा के साथ साथ उनमे कौशल विकास को बढ़ाना चाहते है। इसके लिये वो लगातार नवाचारों के माध्यम से बच्चों को रुचिपूर्ण शिक्षा देने की कोशिश कर रहे है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों में काफी प्रतिभा हैं लेकिन उनको उचित अवसर न मिलने के कारण वो दब जाती है। इसे आगे लाने के लिये हमको कोशिश करने की आवश्यकता है।गीदम विकासखंड के माधोपारा में चल रही मोहल्ला क्लास का निरीक्षण जिला शिक्षाधिकारी ,डीएमसी ,बीइओ व टीम द्वारा किया जा चुका है।और इन नवाचारों की सभी अधिकारियों ने की सराहना की है।

Related posts

दशक बीतने को आया, सरकारें बदली, सरपंच बदले लेकिन नही बदला हल्बारास का डब्ल्यूबीएम सड़क

jia

डीआईजी कलेक्टर, एसपी सहित स्वास्थ्य विभाग के अमला पहुंचे तर्रेम
ग्रामीणों को कोरोना महामारी के दिशा-निर्देशों का पालन कर अनावश्यक भीड़-भाड़ नहीं करने की दी समझाईश

jia

कोरोना की रफ्तार को नियंत्रित करना हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी:उदयप्रकाश शुक्ला

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!