December 4, 2021
Uncategorized

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी माओवादी एरिया कमेटी कटेकल्याण के सचिव मंतू पोडियाम ने जारी की प्रेस विज्ञप्ति नये पुलिस कैम्प खोलने का प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से किया विरोध

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा:-जिले के कटेकल्याण ब्लॉक के ग्राम पंचायत टेटम में पुलिस द्वारा खोले जा रहे नये पुलिस कैंप का माओवादी कम्युनिस्ट पार्टी एरिया कमेटी कटेकल्याण ने इसका विरोध किया है। कटेकल्याण एरिया कमेटी के सचिव ने प्रेस विज्ञप्ति कर दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव पर संविधान के अधिकारों के उल्लंघन का आरोप लगाते हुये कहा है कि वह ग्रामीणों की जमीन को छीनकर पुलिस कैंप खोलने की तैयारी में है जबकि कटेकल्याण ब्लॉक में रहने वाली जनता शांतिपूर्ण तरीकों से प्रदर्शन कर कैंप लगाने का विरोध कर रही है।उसने अपने प्रेस नोट में कहा कि नये पुलिस कैंप खोलने का ग्रामीण विरोध कर रहे हैं। लेकिन पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव इस बात को नकार रहे हैं। माओवादियों ने आरोप लगाया कि पुलिस द्वारा जन सुरक्षा के नाम पर कारपोरेट घरानों को सुरक्षा मुहैया कराने हेतु कैंप खोले जा रहे हैं। लोन वर्राटू अर्थात घर वापसी अभियान के नाम पर घर घर जाकर दुष्प्रचार किया जा रहा है। बेगुनाह ग्रामीणों को नक्सली बताकर उन्हें पकड़कर जबरदस्ती सरेंडर करवाया जा रहा है। प्रेस नोट में नक्सलियों ने सुरक्षा बलों द्वारा डब्बा गांव के ग्रामीणों के साथ मारपीट करने का भी आरोप लगाया है। केंद्र व राज्य सरकार मिलकर बस्तर बटालियन में जबरदस्ती युवक-युवतियों को भर्ती कर रही है। ग्रामीणों को फर्जी तरीके से नक्सली बनाकर उन्हें मुठभेड़ में मार रही है। कोरोना संक्रमण काल में भी जेलों में ठूंस कर उन्हें यातनाएं दी जा रही हैं व अत्याचार किये जा रहे हैं। इन पर रोक लगाने के लिए सभी ग्रामीण आदिवासियों को एकजुट होना पड़ेगा। शासन अभिषेक पल्लव जैसे पुलिस अधिकारियों को तैनात कर और लगातार पुलिस कैंप खोलकर प्राकृतिक संसाधनों को लूट कर कारपोरेट घरानों को बेच रही है। जिससे जनता को है नुकसान हो रहा है। इसलिये जनता पुलिस के विरोध में उतर होकर कैंप का विरोध कर रही है और अपना आक्रोश व्यक्त कर रही है।इस सबके विरोध के लिये सभी को एकजुट होना पड़ेगा।

Related posts

छत्तीसगढ़ में पत्रकारों को फ्रंटलाइन कोरोना वारियर्स का दर्जा आख़िर कब-अमित गौतम

jia

ज्ञापन सौप कर याद दिलाया जनघोषणा पत्र

jia

सईयां भये कोतवाल तो फिर डर काहे का वाली तर्ज पर कोविड़ नियमों को ताक पर रख चल रहा था शादी समारोह.
प्रशासन ने दबिश दे कर किया जुर्माना

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!