September 26, 2021
Uncategorized

वरिष्ठ पत्रकार के साथ मारपीट करने वालो पर सख्त कार्यवाही की मांग

Spread the love

जिया न्यूज़:-अरुण कुमार सोनी बेमेतरा/दिनेश गुप्ता दंतेवाड़ा छत्तीसगढ़,

दंतेवाड़ा/बेमेतरा-अब तो देश का चौथा स्तंभ कहा जानेवाला पत्रकार भी सुरक्षित नजर नहीं आ रहा। छत्तीसगढ़ प्रदेश में बस्तर के कांकेर जिले से एक वीडियो तेजी से सोशल एडीजेएम वायरल हो रहा है। जिसमें स्थानीय वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ल के साथ मारपीट हो रही है। मारपीट करने वाले स्थानीय कांग्रेस नेता बताए जा रहे हैं। सुबह कांकेर के एक वरिष्ठ स्थानीय पत्रकार होटल में चाय पीते हुए बैठे थे। तभी कुछ लोगो ने किसी बात पर मारपीट करते हुए थाने तक लेकर गये है। प्रेस क्लब कांकेर के करीब 50 से अधिक पत्रकार इस गुंडागर्दी का विरोध दर्ज कराने कोतवाली पहुंचे ही थे। सरेबाज़ार वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ला से न केवल गालीगलौच किया बल्कि बुरी तरह से मारपीट भी किया,जो कि निंदनीय है। कांकेर में वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ला पर कतिपय राजनीतिक कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए हमले की घोर निंदा करते हुए छत्तीसगढ़ जनरलिस्ट यूनियन जिला अध्यक्ष बेमेतरा उमाशंकर दिवाकर ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी से मांग की है कि प्रदेश में पत्रकारों के उत्पीड़न की बढ़ती घटनाओं पर संज्ञान लेते हुए तत्काल पत्रकार सुरक्षा के व्यापक दिशा निर्देश दिए जाएं और उन पर सख्ती से अमल करने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए.ताकि पत्रकारों को कार्य के दौरान किसी प्रकार की असुरक्षा महसूस न हो। उन्होंने वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ला के साथ मारपीट करने वालो के खिलाफ जल्द से जल्द सख्त कार्यवाही करने की भी मांग की है।
इस घटना की घोर निंदा करते हुए कहा कि यह घटना हाल फिलहाल की कोई इकलौती घटना नहीं है।पूर्व में भी इस प्रकार की घटनाएं पूरे प्रदेश में देखने को मिल चुकी हैं .जिससे पत्रकार अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहें हैं। एक वरिष्ठ पत्रकार के साथ अराजक तत्वों द्वारा मारपीट की शिकायत कर थाने से लौट रहे पत्रकार पर राजनीतिक कार्यकर्ताओं द्वारा हमला यह निरूपित कर रहा है कि राज्य में चौथे स्तंभ की स्थिति चिंताजनक हो चुकी है। पत्रकारों के साथ उत्पीड़न की इस तरह की घटनाएं न हों, इस दिशा में तत्काल ठोस कदम उठाने की जरूरत है। उन्होंने राज्य में अभिलंब पत्रकार सुरक्षा कानून सख्ती के साथ जल्द लागू करने की मांग की है।राज्य सरकार एक ओर जहां प्रदेश में पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की बात करती है दूसरी तरफ सरकार के इशारों पर चलने वाले गुंडे-बदमाश पत्रकारों पर जानलेवा हमला करने पे आमदा हो गए हैं।,दबंगों ने आज उस पत्रकार पर हमला किया है ।जो हमेशा पत्रकारों के हितों की रक्षा के लिए पूरे सिस्टम से अकेले ही लड़ते रहे है,।
छत्तीसगढ़ प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि यह पूरे देश का पहला राज्य होगा जो कि पत्रकारो के लिए सुरक्षा नियम बनाने के दिशा निर्देश दिये गये हैं।

Related posts

विजेता टीम को मंगापेटा में विधायक विक्रम शाह मंडावी ने किया पुरस्कृत, और कहा हार से निराश नहीं होना चाहिए

jia

जिले के समग्र विकास के लिए टीम भावना के साथ करें काम- प्रभारी सचिव डाॅ. तम्बोली

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!