October 21, 2021
Uncategorized

लोन वर्राटू को मिल रही सफलता के बाद दंतेवाड़ा पुलिस का नया अभियान बदलेम ऐडका कुछ पत्रकारो व कुछ ठेकेदारो का भी करवाया जायेगा बदलेम ऐडका- पुलिस अधीक्षक

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा पुलिस द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय दंतेवाड़ा में पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव द्वारा बदलेम ऐडका अर्थात बदलता मन अभियान की शुरुआत की गयी। इस दौरान उप पुलिस महानिरीक्षक विनय कुमार सिंह सीआरपीएफ दंतेवाड़ा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यू उदय किरण, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेंद्र कुमार जायसवाल एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। इस अभियान के अंतर्गत लोन वर्राटू अभियान के तहत आत्मसमर्पित नक्सली, जेल में बंद नक्सली, जेल से रिहा नक्सली, नक्सल पीड़ित परिवार एवं नक्सल संगठन में सक्रिय नक्सली के परिवार का काउंसलिंग कर आत्मविश्वास बढ़ाने और सरकार की नीति एवं योजनाओं का लाभ उठाकर परिवार के साथ सम्मान पूरा जीवन यापन करने हेतु प्रेरित किया जाएगा।

इस अभियान के तहत नक्सलवाद, नक्सली अत्याचार, नक्सली घटनाएं, नक्सली के परिवार की वर्तमान स्थिति, आत्मसमर्पित नक्सली की वर्तमान स्थिति एवं शहीद पुलिस परिवार की परिस्थिति का आकलन कर डेटाबेस तैयार किया जाएगा। नक्सलवाद से आदिवासी संस्कृति पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभाव, उनकी कला, सामाजिक जीवन, आर्थिक जीवन, सांस्कृतिक एवं धार्मिक जीवन पर बदलाव जिससे आदिवासी संस्कृति खतरे में पड़ गई है

इसका आकलन किया जाएगा। साथ ही इन लोगों को भारतीय संविधान, विभिन्न कानून, अनुसूचित जनजाति क्षेत्र के लिए बनाए गए विशेष कानून, प्रशासनिक संरचना, सरकार के समस्त विभागों की विकास योजनाओं के बारे में जानकारी दी जाएगी तथा दंतेवाड़ा जिला एवं अन्य नक्सल प्रभावित जिलों व सामान्य जिलों के निवासियों के जीवन स्तर की तुलना कर बताया जाएगा कि नक्सलवाद के कारण क्षेत्र विकास की दौड़ में कितने पिछड़े हुए हैं। कार्यक्रम में जनप्रतिनिधि एवं लोन वर्राटू के तहत आत्मसमर्पित नक्सली व जेल से रिहा नक्सली उपस्थित रहे। इस दौरान पुलिस अधीक्षक ने कहा कि कुछ ठेकेदारों व कुछ पत्रकारों का भी बदलेम ऐडका करवाया जायेगा। कुछ पत्रकार व कुछ ठेकेदार भी नक्सलियों से मिले हुये है।

Related posts

जिले के ग्यारह नालों को नरवा योजना में किया पुर्नजीवित बदली गाँवों की तस्वीर

jia

खतरे के बीच भी जारी है कोरोना योद्धाओं का साहसिक कार्य सभी कोरोना कर्मी अपनी जान की परवाह भी न करते हुये डटे हुये है लोगो की सेवा की

jia

बस्तर ,राज्य व केंद्र सरकारों के लिए राजस्व का सबसे बड़ा केंद्र ,तो विकास के नाम पर सौतेला व्यवहार की जिम्मेदारी किसकी ?बताये बस्तर के दोनो राष्ट्रीय पार्टियो के नेता -मुक्तिमोर्चा

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!