January 27, 2023
Uncategorized

गीदम व कटेकल्याण के खंड शिक्षा अधिकारियो ने वेतन भुगतान के मामले में जिले को राज्य में दिलाया अग्रणी स्थान मुख्यमंत्री की मंशा अनुरुप वेतन भुगतान कर किया सरकार के सपने को साकार 01 नवंबर 2020 में संविलियन हुये शिक्षकों ने वेतन मिलते ही खंड शिक्षा अधिकारी व संगठन को दिया धन्यवाद

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा/गीदम,

गीदम:-छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष उदयप्रकाश शुक्ला,जिला सचिव नोहर सिंह साहू व अन्य पदाधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भुपेश बघेल ने शिक्षक संगठनो की बीस वर्षो की मांगो को पुरा करते हुये व जनघोषणा पत्र के वादे को पूरा करते हुए 01 नवम्बर 2020 को 02 साल की सेवा अवधि या उससे अधिक सेवा पूर्ण करने वाले शिक्षकों को संविलियन की सौगात दी व अक्टूबर माह के अंत मे ही संविलियन आदेश जारी कर दिया। उसके बाद सबसे बड़ा कार्य खण्ड शिक्षा अधिकारी व सम्बंधित डीडीओ कार्यालयों की थी जिन्हें समय पर कार्मिक संपदा की एंट्री करते हुये कर्मचारी कोड जनरेट करना,ट्रेजरी के माध्यम से प्राण शिफ्टिंग की कार्यवाही करवाते हुये वेतन का भुगतान सुनिश्चित करना था वह भी रेगुलर बिल के साथ। इस चुनौती को स्वीकार करते हुये गीदम के खंड शिक्षा अधिकारी मोहम्मद शेख रफीक व लेखापाल डी के राय व कटेकल्याण के खंड शिक्षा अधिकारी गोपाल पांडेय व लेखापाल जितेंद्र कुमार सेठिया ने इस कार्य को समय पर पूरा करते हुए पूरे राज्य में वेतन भुगतान के मामले में दंतेवाड़ा जिले को अग्रणी स्थान दिलवाया। गौरतलब हैं कि सबसे पहले वेतन राज्य में जगदलपुर ब्लॉक का भुगतान किया गया था। उसके बाद गीदम व कटेकल्याण ब्लॉक का इस महत्वपूर्ण कार्य से शिक्षकों व संगठनों में खुशी की लहर दौड़ गयी। व शिक्षकों ने अपने अधिकारियों को धन्यवाद ज्ञापित किया व कहा कि आपने संविलियन की खुशी को दोगुनी करते हुये सपने को साकार कर दिया। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन ब्लॉक इकाई गीदम व कटेकल्याण के व जिला पदाधिकारीयो ने जिला शिक्षा अधिकारी राजेश कर्मा, जिला कोषालय अधिकारी मनोज कुमार लारिया को भी धन्यवाद दिया व कहा कि आप सभी के सहयोग से आज हमारे साथियो को समय पर वेतन प्राप्त हो सका।

Related posts

राज्य स्तरीय क्रीड़ा प्रतियोगिता में जिले को मिला स्वर्ण

jia

5 दिन में 184 जुआड़ी ,46 मामले और लाखों रुपये जब्त,
सबसे ज्यादा आरोपी कोतवाली में पकड़ाए

jia

शांति फाउंडेशन का ग्राम वासियों के समस्याओं को लेकर दौरा
जिला मुख्यालय से महज 7 किमी की दुरी पर ग्रामीण झरिया का पानी पीने को हैं मजबूर

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!