June 25, 2021
Uncategorized

1 जनवरी को दंतेवाड़ा जिले के हजारों एनपीएस कर्मचारियों ने मनाया काला दिवस काली पट्टी व काला मास्क लगाकर एनपीएस का किया विरोध राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के राष्ट्रीय आह्वान पर हैश एनपीएस ब्लैक डे” लिखकर पीएमओ व सीएमओ को टैग कर चलाया ट्वीटर अभियान

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा:-राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर दंतेवाड़ा के जिला संयोजक उदय प्रकाश शुक्ला सचिव नोहर सिंह साहू के नेतृत्व में काला दिवस का आयोजन दंतेवाड़ा के नारायण मंदिर पार्क में किया गया। पार्क की साफ सफाई करते हुए यह कार्यक्रम संचालित किया गया। शैलेश सिंह व संतोष मिश्रा के द्वारा बताया गया कि 01 जनवरी 2004 को पूरे देश मे पुरानी पेंशन के स्थान पर नवीन अंशदायी पेंशन योजना लागू किया गया था, एनपीएस रूपी काले कानून को वापस लेने के लिए 1 जनवरी 2021 को काली पट्टी व काला मास्क लगाकर काला दिवस मनाकर सभी एनपीएस कर्मचारी पुरानी पेंशन बहाली की मांग को सरकार तक नये अंदाज में पहुंचाने के लिए पीएमओ व सीएमओ को टेग करके ट्वीटर अभियान चलाने का आह्वान किया। तथा 1 जनवरी 2021 को नवीन पेंशन योजना का विरोध करते हुए एनपीएस ब्लैक डे मनाया गया। इस बार पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर नववर्ष के दिन एनपीएस कर्मचारियो में जागरूकता व एकजुटता का संदेश देते हुए कर्मचारी अपनी मांग को प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री तक सोशल मीडिया के माध्यम से पहुंचा रहे है। 1 जनवरी को एनपीएस काला दिवस मनाते हुए देश भर के 60 लाख एनपीएस कर्मचारी केंद्र सरकार से व छत्तीसगढ़ के 2.80 लाख कर्मचारी राज्य सरकार से मांग किया कि पुरानी पेंशन योजना की बहाली किया जावे अथवा एनपीएस कर्मचारियो को नई व पुरानी पेंशन योजना में विकल्प चुनने का अवसर दिया जावे।

सुरक्षित भविष्य के लिए पुरानी पेंशन ही एकमात्र विकल्प

राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के सदस्य खोमेंद्र देवांगन ने कहा कि एनपीएस कर्मचारियो के सुरक्षित भविष्य व बुढ़ापे के लिए पुरानी पेंशन योजना ही एकमात्र विकल्प है,,और इसीलिए लगातार पुरानी पेशन बहाली के लिए संघर्षरत है। वही कमल कर्मकार ने आगे कहा कि प्रधान मंत्री जी आप टैक्स, राशन, स्वास्थ्य, शिक्षा, कई सेवा को देश मे एक बराबर रखना चाहते है, तो देश मे एक ही पुरानी पेंशन योजना क्यो नही रखा जा रहा।अभी देश व प्रदेश मे 2004 के पूर्व के कर्मचारियों को पुरानी पेंशन दी जा रही है, वही 2004 के बाद देश व प्रदेश में नई पेंशन योजना लागू कर दी गई है। देश व छत्तीसगढ़ में समस्त विभाग के कर्मचारी, शिक्षक, लिपिक, स्वास्थ्य कर्मचारी, अधिकारी, रेलवे कर्मी, पुलिस कर्मी, बैंक कर्मी, पैरा मिलिट्री के जवानों के बुढ़ापे का सहारा पुरानी पेंशन बहाल किया जाये पुरानी पेंशन योजना के लिये राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली मोर्चा लगातार लामबंद है।

Related posts

पंचायत बना चारागाह-बोमड़ा
सरकार बदली, वादे बदले,लेकिन पंचायतों के हालात नहीं बदले टंकी तो है पर पानी है लापता

jia

कोरोना की रोकथाम के लिए सघन जांच और कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग पर दें जोर
कलेक्टर एवं एसपी ने बस्तर तहसील के भ्रमण के दौरान दिए निर्देश

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!