January 27, 2023
Uncategorized

कोरोना वॉरियर्स की सम्मान से नवाजे गये लौह नगरी किरंदुल और राष्ट्र के चौथे स्तम्भ…

Spread the love

जिया न्यूज़:-रवि दुर्गा-किरंदुल,

रिपोर्टिंग के साथ साथ जन मानस की सेवा कार्य भी कर रहे पत्रकार बंधु को काफी सराहनीय हैं : शेख नजमुल हक (जिलाध्यक्ष अल्पसंख्यक मोर्चा BJP)

किरंदुल । कोविड 19 की इस वैश्विक महामारी में यदि पत्रकारो को कोरोना योद्धा कहा जाये तो इसमें कोई अतिश्योक्ति नही होगी ! कोरोना काल की इस वैश्विक महामारी में लौह नगरी किरंदुल के पत्रकार बंधुओ ने लोगो के लिये शासन प्रशासन के साथ मिलकर जन जागरुकता लाने जो काम किया उसे भुलाया नही जा सकता क्योंकि मीडिया को राष्ट्र का चौथा स्तम्भ माना गया हैं और वाकई इस महामारी में लोगो के लिये एक स्तम्भ बनकर लॉक डाउन के दौरान लोगो की परेशानी को जमीनी स्तर से रिपोर्टिंग कर शासन प्रशासन तक पहुंचाने का काम पत्रकारों ने किया और प्रशासन की टीम भी इस दौरान लोगो की परेशानियों को दूर करने कदम से कदम मिलाकर काम किया तो कहीं न कही इन सारी चीजों के पीछे पत्रकार बंधुओ का बड़ा ही योगदान रहा कोविड 19 की इस दौर में पत्रकारो की समाज मे इन सभी सराहनीय योगदान को देखते हुये किरंदुल लायंस क्लब की टीम ने किरंदुल की सभी पत्रकार बंधुओ को कोरोना वॉरियर्स सम्मान से प्रशस्ति पत्र देकर नगर के स्थानीय फुटबॉल ग्राउंड में सम्मानित किया और सम्मान के दौरान लायन्स क्लब कमेटी के अध्यक्ष निर्मल बघेल, शंकर चौधरी, चंचल कुमार ने पत्रकारों को असली कोरोना वॉरियर्स का संबोधन कर कहा की वाकई किरंदुल के पत्रकार बंधु जमीनी स्तर से खबरों को एकत्र कर समाज तक सटीक रिपोर्ट पहुँचाते हैं चाहे वो ग्रामीण अचंल की हो या शहरी कोविड 19 की इस महामारी के दौरान भी कोरोना वायरस से जुड़ी हर पल पल की सटीक अपडेट हमे पत्रकार बंधुओ के माध्यम से ही मिलता रहा और वर्तमान में भी मिल रहा हैं तो कही न कहीं पत्रकार बंधु वाकई इस सम्मान के हकदार हैं और उन्हें इस सम्मान से सम्मानित किया गया.

कोविड 19 कोरोना वायरस की वजह से जब पूरा देश इस महामारी से जूझ रहा था तब भारत सरकार के द्वारा 22 मार्च 2020 को जनता कर्फ्यू लगाया गया था उस दौरान पूरा भारत बंद था तब न ही कोई दुकान खुली रही और न ही कोई होटल खुली रही उस बीच किरंदुल के पत्रकार बंधुओ ने जब नगर की जायजा लेने रिपोर्टिंग के लिये निकले तब उन्होंने देखा कि फुटपाथ पर बसे असहाय और मानसिक विक्षिप्त लोग जो भूखे प्यासे बैठे रहे उन लोगो के लिये पत्रकारों ने अपने घर से खाना सब्जी बनवाकर उन तक पहुँचाया गया जो नगर में काफी सुर्खियां बटोरीं तो वही दूसरी और एक घटना किरंदुल से दूर अतिसंवेदनशील क्षेत्र में एक बुजुर्ग महिला काफी दिनों से ज्वर से पीड़ित पड़ी रही जिसकी सुध लेने वाला कोई नही था लेकीन जब इसकी सूचना पत्रकारो को मिली तब उन्होंने ग्राउंड जीरो में पहुँचकर उस ज्वर से पीड़ित महिला की आवाज के अपनी कलम के माध्यम से प्रशासन तक पहुंचाई और और जिम्मेदार लोग ख़बर के प्रकाशन होते ही ज्वर से पीड़ित उस बुजर्ग महिला के पास पत्रकारो के साथ पहुँचकर तत्काल उपचार करवाकर उसे स्वस्थ और स्फूर्त बनाया गया तो हम देख सकते हैं समाज मे रिपोर्टिंग के साथ साथ पत्रकारों के द्वारा जन मानस की सेवा कार्य भी समाज के साथ मिलकर किया जा रहा है जो काफी सराहनीय हैं.

Related posts

अनियमित शासकीय कर्मी ने सरकार के खिलाफ बोला हल्ला, जलसमाधि में 23 कर्मी

jia

Chhttisgarh

jia

छत्तीसगढ़ शालेय शिक्षक संघ दंतेवाड़ा की जिला बैठक आहूत ! लिए गए कई अहम फैसले

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!