June 23, 2021
Uncategorized

जावंगा में 300 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर किया जा रहा तैयार
100 बिस्तरों में आक्सीजन की है सुविधा

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा:- पूरे विश्व के साथ ही देश-प्रदेश में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए दंतेवाड़ा जिले में इसके रोकथाम के लिए युद्धस्तर पर प्रयास जारी हैं। इसी कड़ी में कोरोना से पीडि़त मरीजों के उपचार के लिए दंतेवाड़ा जिला प्रशासन द्वारा जावंगा में 300 बिस्तर के कोविड केयर सेंटर को इलाज के लिए तैयार किया जा रहा है। यह कोविड केयर सेंटर 500 सीट के कन्या शिक्षा परिसर में तैयार किया जा रहा है। कलेक्टर दीपक सोनी द्वारा प्रदेश के अन्य जिलों के साथ ही पड़ोसी राज्यों में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए दंतेवाड़ा जिले में भी कोरोना मरीजों की उपचार के लिए आवश्यक व्यवस्थाओं को बेहतर करने के निर्देश देने के बाद जावंगा में यह व्यवस्था प्रारंभ की गई।

डिप्टी कलेक्टर सुश्री प्रीति दुर्गम ने बताया कि कोविड मरीजों को बेहतर उपचार उपलब्ध कराने और कोरोना के बढ़ते प्रभाव के कारण किसी भी आकस्मिक स्थिति से बचाव के लिये पहले से तैयारी की जा रही है। जिला के सिविल सर्जन डॉ संजय बघेल ने बताया कि यहाँ ऑक्सीजन युक्त 100 बिस्तर की व्यवस्था है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा यहां स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के साथ ही भोजन एवं सुरक्षा की व्यवस्था भी आदिम जाति विकास विभाग और पुलिस विभाग के सहयोग से प्रदान की जा रही है। उन्होंने बताया कि कोरोना की पिछली लहर में भी यहां क्वारंटाइन सेंटर स्थापित की गई थी। इस बार इसे कोविड केयर सेंटर बनाया जा रहा है।

यहां महिलाओं एवं पुरुष के अलग अलग वार्ड बनाए गए हैं। सुरक्षा दृष्टि से महिलाओं के वार्ड को छोड़कर शेष समस्त कक्षों में निगरानी हेतु सीसीटीवी कैमरा भी लगाया गया है। मेडीकल एवं अन्य स्टॉफ के लिए अलग रूम, सभी वार्ड से कनेक्ट पृथक वॉशरूम एवं पेयजल की व्यवस्था भी उपलब्ध है। वर्तमान में अभी इसे 300 बिस्तरों का बनाया गया है जरूरत पड़ने पर बिस्तरों की संख्या बढ़ाई जाएगी। इसके अलावा जिले के गीदम में 100 बिस्तरों का डेडीकेटेड कोविड अस्पताल भी संचालित है जिसमें 70 जनरल बैड,20 एच डी यू बैड और 10 आईसीयू बैड हैं। जिले के पातररास कन्या शिक्षा परिसर को भी कोविड केयर सेंटर के रूप में बदला जा रहा है।जो जल्द ही तैयार हो जाएगा।

Related posts

ग्राम पंचायत समलूर में देवगुड़ी निर्माण कार्य के स्थल का विरोध
सैकड़ों ग्रामीणों ने कलेक्टर से मिल कर देवगुड़ी निर्माण के स्थल के परिवर्तन की मांग की

jia

कांग्रेस के खोखले वादों से असंतुष्ठ हो कांग्रेसियों ने भाजपा का थामा दामन । जिला अध्यक्ष चैतराम आटामी का एक वर्ष का कार्यकाल हुआ पूरा। पोटाकेबिन में लगी आग कहीं षड्यंत्र तो नहीं हो निष्पक्ष जांच-चैतराम आटामी।

jia

450 रुपये के ट्रीगार्ड तैयार करने में वन परिक्षेत्र गीदम ने किया 420 का काम सरकार के पैसे की बर्बादी की हकीकत को बयां करता है ट्रीगार्ड

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!