July 1, 2022
Uncategorized

किरन्दुल थाना में 2 इनामी सहित कुल 16 माओवादियों ने किया आत्मसमर्पण
आत्मसमर्पित माओवादियो को प्रोत्साहन स्वरूप दी गयी दस – दस हजार रुपये की राशि

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा:-जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत माओवादियों की दरभा डिवीजन के ।
मलांगीर / भैरमगढ़ एरिया कमेटी अंतर्गत नक्सल संगठन में कार्यरत 16 सक्रिय माओवादियों ने माओवादी संगठन की खोखली विचारधारा से तंग आकर लोन वर्राटू अर्थात घर वापस आइये अभियान से तथा छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास योजना से प्रभावित होकर समाज की मुख्यधारा में जुड़कर विकास में सहयोग करने की इच्छा व्यक्त करते हुए डॉ अभिषेक पल्लव पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा के समक्ष थाना किरंदुल में आत्मसमर्पण किया। गौरतलब है कि विगत 6 महीने से दंतेवाड़ा जिले के विभिन्न ग्रामों के नक्सली संगठन में सक्रिय सदस्यों की घर वापसी हेतु थाना, कैंपों एवं ग्राम पंचायतों में संबंधित क्षेत्र के सक्रिय माओवादियों के नाम चस्पा कर माओवादी संगठन की खोखली विचारधारा को छोड़कर समाज की मुख्यधारा में शामिल होने हेतु लोन वर्राटू अर्थात घर वापस आइए अभियान चलाया जा रहा है। एवं पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अभिषेक पल्लव द्वारा नक्सली संगठन में सक्रिय माओवादियों से आत्मसमर्पण कर सम्मान पूर्वक जीवन यापन करने के लिए लगातार आह्वान कर अपील की जा रही है। लोन वर्राटू अभियान के तहत अब तक 74 इनामी सहित कुल 288 माओवादियों ने आत्मसमर्पण किया है।

छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास नीति के तहत आत्मसमर्पण पश्चात समाज की मुख्यधारा में शामिल होने पर सभी आत्मसमर्पित माओवादियों को पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा द्वारा प्रोत्साहन राशि स्वरूप दस हजार रुपये प्रदान किए गये। आत्मसमर्पण करने वाले माओवादियों में एक लाख रुपये का इनामी मिलिशिया कमांडर मडकाम हुर्रा, एक लाख का इनामी डीकेएमएस अध्यक्ष हुगा बारसा, मिलिशिया सदस्य मडकाम लखमा, मड़काम लिंगा,मड़काम आयतु,मड़काम जोगा, वेटटी हिड़मा,मड़कामी राजू, मड़कामी सन्नू, मड़कामी भीमा,व कमालूर डीएककेएमएस सदस्य जोगा कर्मा, बुधराम तामो,राजू कर्मा,जोगा कुंजामी,राजू मुडामि शामिल है।

Related posts

भूपेश सरकार की अभिनव पहल, नगरीय क्षेत्रों में दे रही वनाधिकार पट्टा
नगरीय क्षेत्रों में पट्टा वितरण करने वाली देश की पहली सरकार – विक्रम शाह मंडावी

jia

लौह नगरी किरंदुल में कुर्बानी का त्योहार बकरीद शनिवार को सौहार्दपूर्वक मनाई गई।

jia

कोरोना कोविड-19 से लड़ने में प्रशासन गम्भीर नहीं,अधिकारी कर रहे घोर लापरवाही बस्तर के सुदूर क्षेत्रों में कवारेन्टाइन सेंटरों में दिया जा रहा घ टिया भोजन,ग्रामीण क्षेत्रों में मास्क और सेनेटाइजर की व्यवस्था नहीं।कोरोना से लड़ने में सरकार नाकाम-कोमल हुपेण्डी, कवारेन्टाइन सेंटर बन चुके हैं भ्रष्टाचार के अड्डे,लचर व्यवस्था से ग्रामीण हो रहे परेशान- समीर खान,

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!