June 13, 2021
Uncategorized

आज़ादी के दशकों बाद अतिसंवेदनशील ग्राम कोई साँसद पहुँचा मदाडी में
पहली बार सांसद को अपने बीच पाके खिल उठे सभी के चेहरे

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा:-बस्तर साँसद दीपक बैज पहुँचे जिला दंतेवाड़ा के अतिसंवेदनशील ग्राम मदाडी में जहाँ 10 गांव के जनप्रतिनिधियो ने की साँसद से मुलाकात पहली बार सांसद को अपने बीच पाकर सभी के चेहरे खिल उठे

उसी गांव में मैदान के नज़दीक एक महिलाएं जो महुए के फूल एकत्र कर रही थी उसे देख साँसद दीपक बैज ने उसका हाल चाल जाना और आदिवासीयों के आजीविका का प्रमुख स्रोत महुआ जो कि आदिवासी संस्कृति में शराब ही नही बल्कि अब छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा लड्डू,हलवा और रेडी टू इट में शामिल कर माताओं और बच्चों के पोस्टिक आहार के रूप में दिया जा रहा है।

साथ ही साँसद श्री बैज ने उनमे से एक महिला देबे कुंजाम के साथ खुद ही टोकरी लेकर महुए के फूल एकत्र करने लगे साँसद का यह सरल अवतार देख सभी आश्चर्य चकित रहे

Related posts

अंगद की तरह जमे हुए हैं। बाबू…हालात बेकाबू बड़े बाबू तो बड़े बाबू छोटे बाबू शुभानअल्लाह

jia

हॉस्पिटल डिमरापाल–नाम बड़े और दर्शन छोटे मरीज़/परिजन दोनों ही बेहद परेशान

jia

अपमान मामला-महिलाओं ने दिया जिला प्रशासन को अल्टीमेटम,नवीन विश्वकर्मा ने प्रशासन पर लगाया फिजूलखर्ची का आरोप

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!