January 26, 2022
Uncategorized

एक माह के बाद हुआ खुलासा सराफा व्यापारी से लूटपाट का
25 लाख रूपये का मशरूका बरामद
सराफा व्यापारी के साथ हुयी लूट की घटना की गुत्थी बस्तर पुलिस द्वारा सुलझायी गई।

Spread the love

जिया न्यूज़:-जगदलपुर,

जगदलपुर:-आज से एक माह पहले शहर के वृंदावन कालोनी में कुछ नकाबपोश युवकों के द्वारा एक सराफा व्यापारी को गोली मारते हुए उसके पास से नगदी पैसों के साथ ही सोने के आभूषण छीनकर फरार हो गए थे, जिसके बाद पुलिस की कई टीमो ने अलग अलग जांच करते हुए एक माह के बाद आरोपियों को पकड़ने में सफलता हासिल कर लिया है।
आज बस्तर पुलिस अधीक्षक जितेंद्र मीणा ने पत्रकार वार्ता लेते हुए बताया कि 18 जुलाई को सराफा व्यापारी त्रिलोकचंद सिसोदिया रात 8 बजे संजय मार्केट में अपनी ज्वेलरी शॉप बंद करके ज्वेलरी अपनी स्कूटी की डिक्की में रखकर सहकर्मी के साथ अपने घर की ओर जा रहे थे कि उनके घर के कुछ दूर पहले ही अज्ञात आरोपियों द्वारा उनके ऊपर फायर करते हुए उन्हें घायल कर स्कूटी की डिक्की में रखे हुए सोने के जेवरात लगभग 500 ग्राम से अधिक लूट कर फरार हो गये थे, पुलिस अधीक्षक द्वारा घटना स्थल जाकर व प्रार्थी से पूछताछ के बाद अज्ञात आरोपियों की पतासाजी के लिए एक टीम बनाई, घटना की गंभीरता को देखते हुए तत्काल 6 टीमों का गठन किया गया, संदिग्ध आरोपियों की पतासाजी के लिए घटना स्थल से लेकर जगदलपुर शहर से लेकर उडीसा राज्य की सीमा तक लगभग 200 सी.सी.टी.व्ही. फुटेज तथा लाखों सेल मुव्हमेंट का जांच सी.सी.टी.व्ही फुटेज टीम व सायबर एक्पर्ट द्वारा किया गया है। प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए बस्तर रेंज आईजी सुंदरराज पी. 10 सदस्यीय एस.आई.टी टीम का गठन करते हुए अज्ञात आरोपियों के संबंध में जानकारी देने पर 30 हजार रूपये की ईनाम की घोषणा की गयी, उडीसा, आन्ध्रप्रदेश व तेलंगाना में टीमों को भेजकर कैम्प कराकर अज्ञात आरोपियों के संबध में उनकी आपराधिक प्रकरण के आधार पर इस तरह की घटना कारित करने वाले अपराधियों के गैंग के संबंध में जानकारी प्राप्त किया गया,
घटना को कुल 6 आरोपियों ने 3 मोटर सायकलों में आकर अंजाम दिया है। सी.सी.टी.व्ही. फुटेज से अज्ञात आरोपियों के कद-काठी व हुलिया के आधार पर उडीसा में कैम्प कर रही टीम ने स्थानीय सम्पर्को के माध्यम से उनमें से 1 की पहचान आर. रवि निवासी आस्का जिला गंजाम के रूप में किया, सूचनाओं के आधार पर टीमों द्वारा लगातार उडीसा, आन्ध्रप्रदेश व तेलंगाना के आर.रवि. और उसके गैंग के सदस्यों के रूकने के ठिकानों पर लगातार दबिश दी जा रही थी। गैंग के रूकने व छुपने के स्थानों पर मुखबीरों को सक्रिय किया जा कर उनकी भी मदद ली जा रही थी इसी क्रम में यह जानकारी प्राप्त हुई कि सरहदी राज्य उडीसा के ग्राम चांदली में आर.रवि व उसके गैंग के अन्य सदस्यों का मूव्हमेंट है। इस महत्वपूर्ण सूचना पर तत्काल पुलिस टीम द्वारा चांदली के आर. रवि के ठिकाने पर दबिश दी गयी जहां पर आर. रवि और उनके टीम के अन्य 3 सदस्य शिबा राव, पी. रवि कुमार, राज कुमार दास को मौके पर ही पकड़ा गया, पूछताछ पर आर. रवि ने यह बताया कि सराफा व्यापारी के साथ घटना को उनके गैंग के ही सदस्य शिबा राव, पी. रवि कुमार, राज कुमार दास तथा अन्य 2 लोगों द्वारा मिलकर किया गया था। घटना करने के उपरांत वो सीधा ग्राम चांदली के अपने किराये के घर में आकर लूटे गये आभूषण व पिस्टल को वही डंप कर दिये थे तथा तत्काल वहां से निकल गये थे कि पुलिस की नाकाबंदी में पकड़ में ना आ जाएं और यह सोचकर कुछ समय बीत जाने व पुलिस की गतिविधि सामान्य होने पर यहां आकर लूटे गये जेवरात का बंटवारा कर लेंगे, इसलिए सभी आरोपी आये थे। आरोपियों के कब्जे से घटना में उपयोग 2 मोटर सायकिल व 1 पिस्टल जिसे आरोपी शिबा उर्फ तूफान ने मुंगेर बिहार से खरीद कर लाना बताया है, पुलिस ने 470 ग्राम सोने के आभूषण कीमत 25 लाख रूपये का जप्त किया गया है। फरार 2 आरोपियों के संबंध में जानकारी एकत्र की जा रही है, गिरफ्तार किये गये आरोपियों का मुव्हमेंट तेलंगाना, आन्ध्रप्रदेश, झारखंड, बिहार, प.बंगाल व छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलों में देखा गया है। उन राज्यों में भी इस गैंग के द्वारा कारित इस आपराधिक कार्यप्रणाली के अपराधों के संबंध में जानकारी प्राप्त की जा रही है। आरोपियों को थाना बोधघाट के धारा 341,307,394,397,34 भादवि 25,27 आर्म्स एक्ट में गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा गया। इस लूट की वारदात में अंतर्राज्जीय आरोपियों की गिरफ्तारी सुनिश्चित करने पर पुलिस महानिरीक्षक महोदय सुन्दराज पी. ने टीम को बधाई देते हुए उन्हे पुरस्कृत करने की घोषणा की है,
इस प्रकरण में आरोपियों की गिरफ्तारी करने में सेनानी 9 वी वाहिनीं (सी.ए.एफ.) अजातशत्रु बहादुर सिंह, सरहदी राज्य उडीसा के पुलिस अधीक्षक गंजाम बृजेष राय, पुलिस अधीक्षक कोरापुट वरूण एवं वहां की स्थानीय पुलिस ने उल्लेखनीय सहयोग प्रदान किया है। वही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओम प्रकाश शर्मा, नगर पुलिस अधीक्षक हेमसागर सिदार
पुलिस अनुविभागीय अधिकारी उदयन बेहार, एश्वर्य चन्द्राकर, संजय सिंह, निरीक्षक धनंजय सिन्हा, एमन साहू,टामेश्वर चौहान, शिवशंकर गेंदले, शिवशंकर हुर्रा एवं एम्ब्रोस कुजूर
उप.निरी. खोमराज ठाकुर, प्रमोद ठाकुर, दिलीप मेश्राम, अरूण नामदेव, कृष्णा साहू, होरीलाल नाविक मुकेश शर्मा (सायबर सेल कोण्ड़गांव)
सउनि. सुदर्शन दुबे, मोहन नायडू, सतीश यदुराज, परिमल दास, अजीत सिंह, सतीश यादव, राजकुमार सिंह, रामविलास नेगी
प्रधान आरक्षक प्रदीप पटेल (सायबर सेल सुकमा) उमेश चंदेल, प्रमोद सिन्हा, आरक्षक प्रमोद बेहरा (सायबर सेल रायपुर), भूपेन्द्र नेताम, गौतम सिन्हा, वेदप्रकाश देशमुख, रूपेश यादव, विक्रम खरे, गायत्री तारम, बबलू ठाकुर, रवि ठाकुर, रवि सरदार, मौसम गुप्ता, सतीश ठाकुर, अशोक खाखा, धर्मेन्द्र ठाकुर, रवि कुमार, लोमेश दिवान, शैलेन्द्र साहू (सायबर सेल कांकेर), प्रदीप कश्यप, चंदन गोयल, गुमान सिंह ठाकुर, बिजेन्द्रमणी शुक्ला, धनसिंह, सोनवानी ओमप्रकाश सिंह, चन्द्रशेखर जांगडे, दीपक कुमार (सायबर सेल), सोनू गौतम, हिमांशु यादव, सन्नू मंडावी, प्रदीप पीटर, भीम मंडावी,
म.आर. शैलेन्द्रि ठाकुर, भगवती भतरा, थानेस्वरी कष्यप
डी.पी.सी.आर. श्री ईश्वर बघेल का काफी योगदान था।

Related posts

ग्राम पंचायत धुरली की सरपंच सुखमती कुंजाम ने एनएमडीसी के सीएसआर मद के बंदरबाट को लेकर शासन प्रशासन पर जमकर साधा निशाना
सीएसआर मद का उपयोग प्रभावित गांवो के विकास के लिए होना चाहिए – सुखमती

jia

दन्तेवाड़ा कांग्रेस नेता बबलू सिद्दीकी मिले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से जाना भाई का हाल

jia

बारिश बहा ले गया तेंदूपत्ता बंडल, लेकिन संग्राहकों को नुकसान नहीं

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!