August 9, 2022
Uncategorized

बस्तर का विकास उसकी संस्कृति के हिसाब से होगा-चंदन कुमार
2013-22 वर्ष में काफी फर्क आया है,

Spread the love

जिया न्यूज:-जगदलपुर,

कलेक्टर चंदन कुमार
पहले भी बस्तर में दे चुके है अपनी सेवा एसडीएम के रूप में

जगदलपुर:-बस्तर में सोमवार को नए कलेक्टर के रूप में चंदन कुमार ने चार्ज लिया, चार्ज लेने के बाद सबसे पहले पत्रकारों से चर्चा करते हुए यहां के वास्तुस्थिति के बारे में जानने के साथ ही आगे की रणनीति तैयार करने की बात कही, वही बस्तर कलेक्टर चंदन कुमार ने 2013 व 2022 वर्ष में काफी फर्क होने की बात को कहने के साथ ही अपने आने वाले दिनों के अन्य प्रोजेक्ट में किस प्रकार से काम कर सकते है उस पर भी प्रकाश डाला,
अपने बारें में बताते हुए कलेक्टर चंदन कुमार ने बताया कि वे 2011 बैच के है, इसके अलावा कांकेर, सुकमा में अपनी सेवा देने की बात कही, जबकि बस्तर में दुबारा काम करने का मौका मिलने की बात कही, बस्तर में पहले एसडीएम के पद में होने के साथ ही काम करने की बात बताई, साथ ही वर्ष 2013 के बाद 2022 में काफी फर्क आया है, सभी विभाग के बारें में बारीकी से जानने के बाद कार्य किया जाएगा, बस्तर के शहरी क्षेत्रों के साथ ही अंदुरुनी क्षेत्रों में भी अच्छे से कार्य करने की बात सामने आई, बस्तर के विकास में किसी भी प्रकार से कोई कमी नही आएगी, बस्तर को और ऊंचाइयों पर ले जाने की बात कही गई, इसके अलावा बस्तर में भी स्वास्थ्य, शिक्षा, पर फोकस रहेगा, ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों की समस्या पर भी गौर से काम किया जाएगा, सभी टीम वर्क की तरह काम करेंगे, चाहे कैसी भी परिस्थिति हो उसे जल्द से जल्द सुलझाने की कोशिश किया जाएगा, सुकमा हो या कांकेर वहां पर भी स्वास्थ्य, शिक्षा को प्रमुखता दिया जाएगा, बस्तर केंद्र बिंदु है , इसलिए बस्तर में जो विकास होगा वह गाँव के ही संस्कृति, परिवेश के हिसाब से किया जाएगा, क्योंकि गाँव में होने वाले विकास से ग्रामीणों को अपने संस्कृति को खोने का डर लगने की बात सामने आती है, बस्तर को उसी के परिवेश के हिसाब से काम किया जाएगा, इन सबके अलावा स्कूलों की स्थिति से लेकर स्वास्थ्य सुविधा खराब, ट्रांसपोर्ट नगर, अतिक्रमण, जर्जर भवन, गोल बाजार व संजय मार्केट का विस्तार आदि विषयों पर चर्चा किया गया, जिसपर जल्द से जल्द सुलझाने की बात कही गई,

Related posts

मेकाज में पहुची एक कोरोना पॉजिटिव मरीज
विगत दिनों दीपावली में गई थी अपने घर, लौटने के बाद हुआ था टेस्ट

jia

कटेकल्याण में महिला वार्ड की समस्या बरकरार, महिला डॉक्टर होने के बावजूद सेवाएं नहीं ली जा रही

jia

जिम्मेदार ही तोड़ रहे कोविड प्रोटोकाल,सुरभि कॉलोनी का मामला
सुरभि कॉलोनी में निवासरत आईसीडीएस अधिकारी की दबंगई सामने आई

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!