September 21, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

युवा कांग्रेस के द्वारा मेरी जिम्मेदारी अभियान के तहत रिलीफ टीम को की गयी सहायता

मुख्यमंत्री सहायता कोष में किया चालीस हजार रुपये का सहयोग

गीदम:-पूरे देश में फैली वैश्विक महामारी कोविड-19 के रोकथाम, बेहतर भोजन व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सुविधा हेतु इच्छानुसार मुख्यमंत्री सहायता कोष एवं भारतीय राष्ट्रीय युवा कांग्रेस के द्वारा मेरी जिम्मेदारी अभियान के तहत रिलीफ टीम को सहायता प्रदान किया गया। जिसमें प्रदेश महासचिव एवं प्रभारी दंतेवाड़ा दुर्गेश राय के निर्देश पर दंतेवाड़ा जिला अध्यक्ष विमल सलाम एवं जिला समन्वयक जोगराज बुरड़ के नेतृत्व में इस कार्य को किया गया। जिला समन्वयक जोगराज बुरड़ ने बताया कि दंतेवाड़ा युवा कांग्रेस की टीम ने भी ऑनलाइन फंड ट्रांसफर कर अपना सहयोग प्रदान किया। इस प्रकार लगभग चालीस हजार रुपये दंतेवाड़ा युवा कांग्रेस द्वारा सहायता राशि दिया गया। इस पर जिलाध्यक्ष विमल सलाम एवं जिला समन्वयक दंतेवाड़ा जोगराज बुरड़ ने सभी युवा साथियों का युवा कांग्रेस दंतेवाड़ा की ओर से धन्यवाद एवं आभार प्रकट किया। जिसमे जनपद सदस्य राजेश कश्यप व सांसद प्रतिनिधि प्रवीण राणा द्वारा पांच पांच हजार, जिला अध्यक्ष विमल सलाम व जिला समन्वयक जोगराज बुरड़ द्वारा तीन तीन हजार रूपये व गीदम के युवाओं द्वारा छः हजार पांच सौ रुपये जिसमें संदीप राठौर, उमेश कश्यप, पंकज कुमार, रवि मंडावी, मल्कीत सिंह, विजय गायकवाड़, सदानंद सिंह, सुमित, अमित कश्यप, सुमित कश्यप, लक्ष्मीनथ नाग, हितेश बेंजाम, सैमसन साईमन, श्याम जॉन, अक्षय चौहान, दीपक यादव, सुनील मादे, चंदू यादव, रौशन पवार, रमेश कश्यप का सहयोग रहा। कुंआकोंडा ब्लाक से अभिषेक गौतम द्वारा दस हजार दो सौ रुपये व बचेली से विधा सागर, मैचेल, सुप्रभा, आकाश, विवेक, कृष्णा, विजय भोगामी, प्रवीण, अरविंद, संदीप, तकेश्वेत साहू, मोनू, अनुराग, गगन व हितेश का योगदान रहा। युवा कांग्रेस दंतेवाड़ा ब्लाक से अशोक यादव, नरेश कुमार धुर्व, आशीष शर्मा, सागर बघेल, सुरजीत सेठिया, शैलेन्द्र ठाकुर, सुक्को मंडावी, लच्छू मंडावी, जग्गु मंडावी, अनिल कुमार गावड़े ने सहयोग किया।

Related posts

डीआरजी के जवानों ने किया नक्सली कैम्प ध्वस्त , मौके से 01 वायरलेस सेट , 25 हजार रूपये नगद व नक्सली विस्फोटक सामग्री बरामद

jia

अक्षय भरत खण्ड के राम उत्सव में जिला कोण्डागांव ने भी निभाई अभूतपूर्व सहभागिता नगर ने मनाया पर्व

jia

80 के दशक में बीजापुर से दोरनापाल तक चलती थी बसें
सड़क बन जाने के बाद अब ईलाके के गांव फिर से होने  लगे हैं आबाद

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!