September 21, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

हैंड पम्प बिगड़ने से आदिवासी मोहल्ले में पानी का भीषण संकट..!

विभाग की उदासीनता के चलते लाँक डाउन में पानी के लिए भटक रहे आदिवासी..

प्रशासन आदिवासियों की भीषण समस्या से निजात दिलाये…

दिनेश शर्मा:-गीदम

गीदम विकास खण्ड मुख्यालय से मात्र 4 किलो मीटर की दूरी पर स्थित ग्राम पंचायत मड़से के भकचन्द पारा के निवासी विभागीय उदासीनता के चलते पीने के शुद्ध पानी के संकट से जूझ रहे है.. पिछले लाँक डाउन से आदिवासी पानी के एक एक बूंद के लिए संघर्ष जो कर रहे है..!आदिवासी बाहुल्य मोहल्ले में शासन द्वारा हैंड पम्प की व्यवस्था तो की गई है मगर तकनीकी खराबी के चलते हैंड पम्प से पानी नही निकलने के चलते आदिवासी भीषण जल संकट का सामना करने को मजबूर है ..बताया जाता है की विभाग को इसकी जानकारी के बाद भी अब तक विभाग का कोई भी कर्मी भकचन्द पारा मड़से नही पहुँचा..वही उदासीनता के चलते आदिवासियों को बेवजह पीने के पानी के लिये भटकना पड़ रहा है..गीदम विकास खण्ड से मात्र 4 किलो मीटर मुख्य सड़क से लगा ग्राम पंचायत मड़से के भकचन्द पारा के लोंगो के सूखे कंठ प्रशासन की ओर देख रहे है की उनकी समस्या के समाधान के लिए कोई पहल करेगा..? जिला प्रशासन से अप्रेक्षा है की आदिवासियों के एक मात्र हैंड पम्प बिगड़ने के कारण भकचन्द पारा के लोंगो को हो रही परेशानी को ध्यान में रखते हुवे तत्काल सम्बंधित विभाग को निर्देश दे की वो हैंड पम्प की मरमम्त करे.. ताकि आदिवासियों को लॉक डाउन में पीने के पानी के लिये दर दर भटकना न पड़े..!

Related posts

ग्राम पंचायत उपेट-ऑल इज़ नॉट वेल दंतेवाड़ा -गीदम ब्लॉक के उपेट

jia

कोरोना की रोकथाम के लिए सघन जांच और कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग पर दें जोर
कलेक्टर एवं एसपी ने बस्तर तहसील के भ्रमण के दौरान दिए निर्देश

jia

तेजपाल शर्मा भाजपा सोशल मीडिया व आशुतोष आचार्य आईटी सेल बस्तर के जिला संयोजक बने

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!