July 29, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

प्रदेश के अति नक्सल प्रभावित इलाकों में सरकारी नियमो को ताक में रख कर किस प्रकार से धज्जियाँ उड़ाते हुए सरकारी खजाने में ढाका डाला जा रहा है इसका जीता जागता उदाहरण सुकमा जिले के कोन्टा नगर में देखने को मिल रहा है

सर्वाधिक उल्लेखनीय तथ्य यह है इस पूरे मामले में विकास की ढोंग रच कर ढिंढोरा पीटने वाले मूक दर्शक बने हुए हैं

बी महेश राव सुकमा-कोन्टा

कोन्टा नगर में जिला निर्माण समिति के माध्यम से बनाये जा रहे सी सी सड़क निर्माण का कार्य भृस्टाचार की भेंट चढ़ जाने की कहानी इन दिनों सुर्खियों में हैं*

बताया जाता है कि कोन्टा नगर पंचायत के अंतर्गत आस्पताल से मर्च्युरी भवन तक सी सी सड़क का निर्माण कार्य मे जिस निर्माण एजेंसी के द्वारा कार्य करवाया जा रहा है वो अपने राजनीतिक रसूखदार आकाओं के बलबूते उक्त सड़क निर्माण कार्य मे शासन के सभी नियम कानून को नजर अंदाज कर एक नई परम्परा की शुरुआत की है जो कि प्रत्यक्ष रूप से देखते ही बनता है

कोन्टा के कुछ रहवासियों के अनुसार उक्त ठेकेदार ने बड़े ही शातिर अंदाज में सड़क निर्माण कार्य को उपयंत्री के अनुपस्थिति में (जो निर्माण कार्य देख रेख कर रहे) 72 घण्टे के भीतर ही गुणवत्ता हीन कार्य को अंजाम दे कर अपने आकाओं को खुश करने इतिहास रचने में कामयाबी हासिल की है

हालांकि इस गम्भीर लीपापोती मामले को ले कर कोन्टा नगर के ही जागरूक नव यवको ने अखिल भारतीय नव जवान सभा के बैनर तले जिला कलेक्टर सुकमा को शिकायत पत्र लिख कर जन हित के मद्देनजर न्याय की गुहार लगाने का बीड़ा उठाई है, अब देखना यह होगा कि जिला कलेक्टर अपने संज्ञान में आये भर्ष्टाचार के तथ्यों किस अंदाज में कार्यवाही कर जन हित की रक्षा करेंगे यह वक्त ही बताएगा

शेष अगले एपिसोड में इसी खबर को ले कर अन्य सटीक जानकारीयो सहित आपको अवगत कराएंगे, आप बने रहे हमारे साथ

Related posts

24 घंटे के बाद भी नही मिला युवक का शव
लहर व पत्थर बन रही है वजह, टीम को हो रही परेशानी

jia

गोपालन और कृषि को अधिक लाभ का व्यवसाय बनाने की अभिनव योजना : बसंत ताटी ‘गोधन न्याय योजना’ के फ़ायदे बताते हुए मुख्यमंत्री की दूरदृष्टि की तारीफ़ की ताटी ने

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!