October 21, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

बस्तर आईजी से मिले सेंट्रल बैंक के कर्मचारी व् कलेक्टर से, मांगा न्याय
जाने क्या है पूरा मामला

सुभाष रतनपाल:-जगदलपुर,

जगदलपुर:-ज्ञात हो कि पिछले दिनों सेंट्रल बैंक आफ इंडिया, बेलर शाखा के उप प्रबंधक दीपक कुमार के द्वारा बैंक ऋण एवं सरकारी सब्सिडी के दुरुपयोग के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाने एवं इस प्रकार के ऋण की अनुशंसा हेतु इंकार किए जाने से आक्रोशित होकर ऋणी मीनाक्षी यादव , भाई शंकर यादव एवं गिरोह के अन्य सदस्यों ने शाखा परिसर के अंदर ही कार्यावधि के दौरान दिनांक 9 अप्रैल 2020 को जानलेवा हमला कर दिया था, जब सारी दुनिया कोरोना जैसी महामारी से बचाव हेतू आपने परिवार के साथ घर पर थे उस समय भी बैंककर्मी अपनी जिम्मेवारी एवं कर्तव्यों का निर्वाहन कर रहे थे।
बाद में बड़ांजी थाना में मामला दर्ज होने पर तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था लेकिन कुछ ही दिनों में वो जमानत पर बाहर आ गए।

अब उक्त गिरोह के द्वारा अपनी नई चाल के तहत अपने कृत्यों को छुपाने के उद्देश्य से ऋणी मीनाक्षी यादव के द्वारा बैंक अधिकारी दीपक कुमार के ऊपर ही चारित्रिक लांछन और रिश्वत मांगने का झूठा आरोप लगाने की कोशिश की जा रही है। साथ ही साथ पूरे वाकये से बौखलाए गिरोह ने जांच कमिटी के पुलिस अधिकारियों के ख़िलाफ़ भी बदसलूकी एवं गाली गलौज की शिकायत राज्यपाल एवं अन्य से की है।

इस संदर्भ में बैंक अधिकारी दीपक कुमार के द्वारा बस्तर आई.जी. एवं कलेक्टर से मिल कर न्याय की गुहार लगाई गई तथा अपने साथ हुए बिगत जानलेवा हमला, गिरोह के द्वारा बैंक के शाखा प्रबंधक श्रीमती मीनाक्षी कुमारी के साथ मिलकर सरकारी योजनाओं के तहत सब्सिडी युक्त ऋण की स्वीकृति एवं आवंटन में भ्रष्टाचार के मामले से अवगत कराया तथा साक्ष्य भी प्रस्तुत किये। अधिकारी ने बताया के वे इन सब घटनाओ से भारी मानसिक तनाव में हैं। गिरोह के द्वारा उन्हें टारगेट किया जा रहा है तथा बदले की भावना से झूठे आरोप में फंसाने की कोशिश की जा रही है।साथ ही साथ भविष्य में भी जानलेवा हमला होने की आशंका बनी हुई है।

पूरे मामले को संज्ञान में लेते हुए बस्तर आई. जी. श्री सुंदरराज पी ने जांच कमिटी गठित होने की जानकारी एवं निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया है।

Related posts

भूपेश सरकार की संवेदनहीनता पर बरसीं पूर्व मंत्री लता उसेन्डी

jia

पार्षद रत्नी मंडावी के द्वारा पत्रकारों को धमकी दिया गया और कहा कि मैं तुम्हें गायब करवा दूंगी – पत्रकार आखिर अब तक वन विभाग के अधिकारी मौन होकर क्यों चुप बैठे हैं ? पार्षद के द्वारा पत्रकारों की छवि को धूमिल व खराब करने साजिश की जा रही है ।

jia

दो बाइक की टक्कर में एक युवक की हुई मौत
मंगनी घर से लौटने के बाद आज सुबह घर जाने के दौरान हुआ हादसा

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!