October 18, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

ग्राउंड जीरो पहुँचा बस्तर अधिकार सँयुक्त मुक्ति मोर्चा

आर्सेल मित्तल निपान कम्पनी द्वारा आरक्षित इलाके से बहार जा कर किये जा रहे अवैध खनिज अवशेष भंडारण की की गई जांच

स्थानीय प्रभावितो ने मोर्चा के सदस्यों से कम्पनी व ठेकेदारों पर जबरन निजी जमीनो व वन भूमि में खनिज अवशेषों के भंडारण का लगाया आरोप

मोर्चा के जांच दल द्वारा दन्तेवाड़ा कलेक्टर से मिल कर कम्पनियों के अवैध कार्यो के दस्तावेज सौप कर जांच व कार्यवाही की की गई मांग

पेशा कानून के उल्लंघन करने वाले कम्पनियों के खिलाफ जल्द मोर्चा करेगा आंदोलन

महेश राव:-जगदलपुर

दन्तेवाड़ा जिला किरन्दुल स्थित आर्सेल मित्तल निपान कम्पनी के द्वारा पेशा कानून का उल्लंघन करते हुए बिना ग्राम सभा व शासन की अनुमति के स्थानीय आदिवासी व गैर आदिवासियों के जमीनों पर अतिक्रमण कर अवैध खनिज अवशेष के भण्डारणो का आरोप स्थानीय लोगो के द्वारा लगया गया था, विदित हो कि विगत दिनों बस्तर अधिकार सँयुक्त मुक्ति मोर्चा द्वारा प्रभावितों के गुहार को सुन कर बस्तर कमिश्नर को मिल कर सम्पूर्ण मामले की जांच व कम्पनी के लीज की स्थगन की कार्यवाही की मांग करते हुए केंद्रीय खनिज मंत्री छत्तीसगढ़ के राज्यपाल व मुख्य मंत्री के नाम ज्ञापन सौपा गया

वही मोर्चा द्वारा जांच गठित दल को ग्राउंड जीरो में जाने की अनुमति मांगी गई थी,जिसके अंतर्गत मोर्चा का जांच दल आज दन्तेवाड़ा जिला के किरन्दुल स्थित घटना स्थल पहुँच कर स्थानीय प्रभावितों से मिल कर बातचीत की, प्रभावितों ने कम्पनी के अवैध कार्यो को दिखा कर जो बताया वो चौकाने वाले थे
प्रभावितों ने बताया कि कम्पनी द्वारा बिना अनुमति के बगैरह पेशा कानून व माईनिंग नियम का उल्लंघन करते हुए जबरन भूमि अधिग्रहण कर लौह अयस्क के नुक्सानदेही अवशेषों को भंडारण करने का कार्य किया जा रहा है मना करने पर कम्पनी के ठेकेदारों द्वारा डरा धमका कर जबरन खेतो में अवशेषों को डलवाया जा रहा है प्रभावितों ने बताया कि कम्पनी व प्रशासन को शिकायत करने के बावजूद भी किसी भी प्रकार की कार्यवाही व न्याय वर्तमान समय तक प्राफ़्त नही हुआ है
मोर्चा के दल द्वारा घटना स्थल पर मुआयना करने पर यह पाया गया कि प्रभावितों के द्वारा कम्पनी पर आरोप सही पाए गए वन्ही कम्पनी द्वारा निजी ,सरकारी, व वन भूमि में भी अवैध कब्जा कर नियमो का मख़ौल उड़ाए जा रहा है
बस्तर अधिकार सँयुक्त मुक्ति मोर्चा द्वारा गठित जांच दल के सदस्य नवनीत चाँद, बेनी फर्नाडीज , भरत कश्यप ने बताया कि प्रभावितों के बयानो व घटना स्थल की मुआयना के बाद यह तो स्पष्ठ है कि कार्यरत कम्पनी के द्वारा पेशा कानून का उल्लंघन कर लीज छेत्र से बहार जा कर न केवल अवैध भंडारण किया है बल्कि बिना ग्राम सभा के अनुमति के सरकार व प्रशासन को गर्त में रख कर अवैध तरीको से कम्पनी के ठेकेदारों द्वारा डरा धमका कर कार्य को अंजाम दिया जा रहा है, दल ने बताया की घटना क्रम के सम्पूर्ण विवरण को ले कर दन्तेवाड़ा कलेक्टर से मुलाकात कर जाँच व कार्यवाही की मांग की गई है, कार्यवाही न होने पर मोर्चा द्वारा प्रभावित लोगों के पक्ष में सड़क से ले कर न्यायालय तक लड़ाई लड़ने बाध्य होगी

Related posts

सुकमा जिले में प्रवेश करना है तो rtpcr रिपोर्ट जरूरी कलेक्टर ने दिए कड़े निर्देश

jia

Chhttisgarh

jia

227 वी बटालियन हेडक्वार्टर तोंगपाल में 11 मार्च 2014 को शहीद निरी०सुभाष चन्द्र के नाम पर वाटिका का किया गया उद्घाटन

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!