July 5, 2022
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

शासन द्वारा वेतन वृद्धि रोकने के आदेश के विरोध में मुख्यमंत्री के नाम का कलेक्टर को सौपा ज्ञापन

अधिकारी कर्मचारी फेडरेशन ने शासन के इस आदेश को कर्मचारी विरोधी व कर्मचारियों को हतोत्साहित करने वाला बताया

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा:-छत्तीसगढ़ अधिकारी कर्मचारी फेडरेशन ने छत्तीसगढ़ वित्त विभाग द्वारा सभी कर्मचारियों का वार्षिक वेतन वृद्धि रोकने संबंधी आदेश के विरोध में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम से कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।छत्तीसगढ़ अधिकारी कर्मचारी फेडरेशन के जिला संयोजक एस के दास ने कहा कि नोवेल कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी को रोकने हेतु राज्य शासन के अधीन सभी अधिकारी कर्मचारी लगातार संघर्षरत है। इस कार्य में समस्त विभाग के अधिकारी कर्मचारी अपनी जान को जोखिम में डालकर लगातार सेवाएं दे रहे हैं। छत्तीसगढ़ शासन से कर्मचारियों द्वारा अन्य राज्यों की भांति जोखिम भत्ता, कर्मचारियों की असमायिक मृत्यु होने पर अनुग्रह राशि की मांग की गई है। लेकिन शासन द्वारा इन मांगों पर कोई विचार नही किया जा रहा है। शासन द्वारा इस समय कोरोना योद्धाओं को पुरस्कृत करने की बजाय इस आदेश के द्वारा हतोत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के कर्मचारियो द्वारा स्वयं से इस विपदा की घड़ी में मुख्यमंत्री राहत कोष में एक दिन का वेतन दिया जा चुका है। साथ ही अन्य संगठनों से भी अपना वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने की अपील भी की जा रही है। इसके बाद भी शासन द्वारा कर्मचारी विरोधी आदेश जारी करना निंदनीय हैं। छत्तीसगढ़ अधिकारी कर्मचारी फेडरेशन शासन के इस निर्णय का विरोध करता है। और शासन द्वारा इस आदेश को निरस्त नही किया जाता है। तो फेडरेशन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समस्त कर्मचारी संगठनों के प्रांन्ताध्यक्षो से चर्चा कर आंदोलन करने के लिये बाध्य होगा। इस दौरान कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते समय अधिकारी कर्मचारी फेडरेशन के जिला संयोजक एस के दास,संजय सिंह ठाकुर, उपाध्यक्ष टी एस मंडावी, कोषाध्यक्ष राजकुमार कर्मा,संगठन सचिव सनकु कर्मा, पीलाराम सिन्हा संयुक्त सचिव एस पी आत्राम एवं अन्य पदाधिकारी और सदस्य उपस्थित रहे।

Related posts

सरपंच-उपसरपंच सहित छः भाजपा कार्यकर्ताओं ने थामा कांग्रेस का हाथ,
कांग्रेस पार्टी जन-जन की पार्टी है- विक्रम शाह मंडावी

jia

जेल बंदी रिहाई मंच के बैनर तले आदिवासियों ने खोला मोर्चा, निर्दोष आदिवासियों और विचारधीन कैदियों के रिहाई की मांग, राज्य सरकार पर वादा खिलाफी का लगाया आरोप।

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!