September 21, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

शिक्षक ने क्वॉरेंटाइन सेंटर प्रभारी अधिकारी डॉ कुशवाहा के दुर्व्यवहार की शिकायत कलेक्टर से की

की कार्यवाही की मांग

जिया न्यूज़:-दंतेवाडा/गीदम,

गीदम ब्लॉक के माध्यमिक शाला मड़से में पदस्थ शिक्षक सुनील सी जार्ज की ड्यूटी क्वॉरेंटाइन सेंटर एकलव्य आवासीय विद्यालय जावंगा गीदम में प्रातः आठ बजे से दोपहर दो बजे तक लगायी गयी है। उन्होंने कलेक्टर दंतेवाड़ा को पत्र लिख कर गीदम ग्रामीण क्षेत्र के क्वॉरेंटाइन सेंटर के प्रभारी अधिकारी डॉ अजमेरा सिंह कुशवाहा पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुये शिकायत की है। कि डॉ अजमेरा सिंह कुशवाहा ने 5 जून 2020 को मुझे क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे मजदूरों को अंदर जाकर बुला लाने हेतु कहा गया। उन्होंने कहा कि वो क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रहे लोगो को पौधा सौपेंगे। जिसे वो घर मे जाकर लगायेंगे। तब प्रार्थी द्वारा नियम का हवाला देते हुये मना किया गया कि उन्हें अंदर जाने की मनाही है। साथ ही प्रभारी अधिकारी को बताया गया कि आज की स्थिति में किसी भी व्यक्ति ने चौदह दिन का क्वॉरेंटाइन पुर्ण नही किया गया है। इस सभी जानकारी देने के बाद भी प्रभारी डॉ कुशवाहा द्वारा पुनः प्रार्थी पर दबाव डाला गया कि वे क्वॉरेंटाइन सेंटर के अंदर जाकर रह रहे लोगो को बाहर बुला कर लाये। साथ ही लोगो को बुलाकर न लाने की स्थिति में सस्पेंड करने की धमकी भी दी गयी। साथ ही प्रार्थी शिक्षक पर शराब पिये हुये होने का आरोप भी लगाया।पीड़ित शिक्षक ने कलेक्टर महोदय से मांग की है कि प्रभारी अधिकारी डॉ अजमेरा सिंह कुशवाहा पर उचित दण्डात्मक कार्यवाही की जाये।क्योंकि उन्होंने ही मुझे बिना किसी सुरक्षा के क्वॉरेंटाइन सेंटर के अंदर जाने के लिये बाध्य किया।इस संबंध में प्रभारी अधिकारी डॉ अजमेरा सिंह कुशवाहा ने कहा कि ये सभी आरोप निराधार है। और शिक्षक सुनील सी जार्च ने अपनी ऊपर होने वाली कार्यवाही से बचने के लिये ये सभी मिथ्या आरोप लगाते हुये आवेदन दिया हैं।क्वॉरेंटाइन सेंटर रहने वाले लोगो को विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में पौधा वितरण किया जाना था जिसके लिये उनके साथ जनपद गीदम सीईओ डीपी पटेल, पीआरओ मेडम व यूनिसेफ व वसुधा विकास संस्था की शिल्पी शुक्ला मेडम भी साथ मे थी। मैने शिक्षक के अभद्र व्यवहार की जानकारी डीईओ को तुरन्त दी थीं। और उनसे निवेदन भी किया था कि क्वॉरेंटाइन सेंटर में जिम्मेदार कर्मचारियों की ही ड्यूटी लगाये।

Related posts

Chhttisgarh

jia

जकांछ दंतेवाड़ा ने महामहिम भारत के राष्ट्रपति के नाम दिया ज्ञापन, आर्थिक आपातकाल घोषित करने की मांग की

jia

डूबते लोगो को कैसे बचाना है किया गया मॉक ड्रिल

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!