November 26, 2022
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

जिला अस्पताल में मरीजो की जिंदगी से किया जा रहा खिलवाड़।

अस्पताल में 4 घण्टे डायलिसिस की जगह ढाई घण्टे कर जान जोखिम में डाली जा रही किडनी रोगियों।

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा/बचेली,

बचेली:-एक तरफ कोरोना संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है वही जिला अस्पताल दंतेवाड़ा में मरीजो की जान से खिलवाड़ किये जाने का मामला सामने आया है। जब डायलिसिस की मशीन जिला अस्पताल में आई तब गुर्दा रोगों से पीड़ित मरीजो के लिए ये मशीन किसी वरदान से कम नही थी गुर्दा रोगियों को इसके लिए जगदलपुर जाना पड़ता था जिससे आने जाने हेतु जो अतिरिक्त खर्च होता था वो इन रोगियों की कमर तोड़ रहा था। नई मशीन के आटे ही अधिकारियों ने भी अपनी पीठ थपथपाने में कोई कसर नही छोड़ी थी। परंतु पिछले एक सप्ताह से ये वरदान किडनी मरीजो के लिए अभिशाप बनता हुआ नजर आ रहा है। दअरसल पिछले 1 सप्ताह से जिला अस्पताल में अस्पताल प्रबंधन द्वारा मरीजो की जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। मरीजो के मुताबिक 4 घण्टो की डायलिसिस सिर्फ ढाई घण्टो में पूरी करके उन्हें वापस भेजा जा रहा है। कारण पूछे जाने पर बताया गया कि अस्पताल में डॉक्टरों की कमी है जिसकी वजह से दूसरी पाली में डायलिसिस बंद है। इसी वजह से मरीजो की 4 की बजाय ढाई घण्टे ही डायलिसिस की जाएगी। आपको बता दे कि जिले में आस पास के क्षेत्रों से किडनी रोगी भारी परेशानी उठाकर वाहनों के माध्यम से जिला अस्पताल डायलिसिस हेतु आते है जिसमे कई परिवार आर्थिक रूप से सक्षम नही है। डायलिसिस का शुल्क 1500 रुपये है जो कि कही ना कही सेवा भावना जैसे दावों की पोल खोलता है। इतना ही नही ढाई घण्टो की डायलीसिस में भी मरीजो से 1500 रुपये शुल्क लिया गया है। इस बारे में सीएमओ शाण्डिल्य से बात की गई तो उन्होंने कहा कि वरिष्ठ शल्य चिकित्सक से बातचीत कर इस मामले में जानकारी देंगे। वही जब डायलिसिस टेक्नीशियन से बात की गई तो उन्होंने भी डाक्टरो की कमी की बात कही है। एवं 3 घंटे ही डाइलिसिस किये जाने की बात कही। अब चिंताजनक बात है की हम कोविड 19 जैसे संक्रमण के लिए दिन रात लगे हुए है परंतु जिंदगी से रोज लड़ने वाले इन किडनी मरीजो की चिंता अस्पताल प्रबंधन को बिल्कुल नही है।

Related posts

जिला स्तर के विकास कार्यों में तेजी लाते हुए समय से पूर्ण करें- लखमा,
जिले में हुए विभिन्न विकास कार्यों की समीक्षा एवं जीवनदीप समिति की बैठक संपन्न

jia

Chhttisgarh

jia

महावीर कोविड-19सेंटर बालोद से 14 मरीज हुए डिस्चार्ज सामाजिक संगठनों द्वारा भेंट कर दी गई विदाई ।

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!