September 26, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

संवेदनशील युवा जिला प्रमुख ने दुर्गम ग्राम”कोकपाड” की दुर्दशा पर लिया संज्ञान,दी आधारभूत सुविधाएं

बब्बी शर्मा:-कोण्डागांव,

कोण्डागांव:-अतिसंवेदनशील व अत्यन्त दुर्गम पहाड़ियो एवं जंगलो के मध्य बसा एक जनजातिय ग्राम है कोकपाड इस गांव मे आधारभूत सुविधाओ की हमेशा से कमी रही है इस इलाके मे ग्रामीण पेयजल की उचित व्यवस्था ना होने के कारण सदियो से ग्रीष्मकाल मे पहाड़ो के मध्य बनी छोटी-छोटी प्राकृतिक झिरियों के गदें जल को पीने पर मजबूर हो जाते थे। ज्ञात हो की इन झिरियों का ग्रामीणो के अतिरिक्त मवेशियों एवं जानवरो के द्वारा भी पेयजल के रूप मे उपयोग किया जाता था। विगत दिनो सामाजिक कार्यकर्ता प्रकाश बागड़े एवं कुछ पत्रकारों द्वारा इसकी जानकारी कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा को दी गई जिस पर त्वरीत कार्यवाही करने का आदेश कलेक्टर ने संबधित अधिकारियो को दिया। जिसका अनुपालन करते हुए नलकुप स्थापना दो दिन के अन्दर कराये जाने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई
दुर्गम रास्तो के कारण ग्राम तक पंहुच पाना अत्यंत मुश्किल था पंरतु अस्थाई रास्तोंं का मशीनोंं की सहायता से निर्माण कर नलकूप खनन् वाहन को गांव तक पंहुचाया गया.तत्पशचात नलकूप खनन का कार्य किया जा सका।
अन्तिम जानकारी तक नलकुप खनन् का कार्य पूर्ण होने के पश्चात हेण्डपंप स्थापना एवं चबुतरे का निर्माण प्रारंभ कर दिया है।
इस विषय पर कार्यपालन अभियंता जे.एल. माहला ने बताया कि इस क्षेत्र की चट्टानी संरचना एवं घने जंगलो के कारण यहां बोरिंग वाहनो का जा पाना मुश्किल था पर बोरिंग वाहन को ले जाने के लिए रास्ते मे बड़े-बड़े गड्डो को पाटकर, बड़े-बड़े बोल्डरो को मार्ग से हटाकर तथा कुछ पेड़ो को भी इस स्थान तक पहुचने केे लिए काटना पड़ा।
इस प्रकार एक अस्थाई मार्ग का निर्माण कर बोरिंग वाहन को कोकपाड़ तक पंहुचाया गया। विगत 7 जून को बोरिंग खुदाई का कार्य पूर्ण कर लिया गया था।अब कर्मचारियों द्वारा स्थल पर चबुतरे का निर्माण एवं हेण्डपंप स्थापना का कार्य किया जा रहा है। जिसे जल्दी ही पूर्ण कर लिया जायेगा।

कलेक्टर ने सांमाजिक कार्यकर्ताओं एवं पत्रकारो का जताया आभार

कलेक्टर ने सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं पत्रकार बंधु जिन्होने ग्रामीणो की मर्मआवाज प्रशासन तक पंहुचाने का कार्य किया उनका आभार व्यक्त किया साथ ही उन्होने कहा कि अतिसंवेदनशील क्षेत्रोंं तक विकास कार्यो को ले जाना प्रशासन की प्राथमिकता रही है बेचा एवं कड़ेनार मे बारहमासी सड़को, स्वास्थ्य एवं शिक्षा के क्षेत्रो मे भी विशेष प्रयत्न आगामी दिनो मे किये जायेगें।
बेचा एवं कड़ेनार क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ता प्रकाश बागड़े ने कहा कि यह क्षेत्र हमेशा से विकास कार्यो मे पिछड़ा रहा है साथ ही पेयजल व चकित्सा जैसी कई समस्या यहां अन्य रोगो को जन्म देती थी। कलेक्टर की संवेदनशीलता से ग्रामीणो के लिए स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था कराये जाने के लिए हम उनके सदैव आभारी रहेगें। इससे यहां के ग्रामीणो को नया जीवन प्राप्त हुआ है।

Related posts

जिम्मेदार ही तोड़ रहे कोविड प्रोटोकाल,सुरभि कॉलोनी का मामला
सुरभि कॉलोनी में निवासरत आईसीडीएस अधिकारी की दबंगई सामने आई

jia

Chhttisgarh

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!