September 21, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

तीन ईनामी सहित पांच माओवादियों ने किया आत्मसमर्पण

खोखली माओवादी विचारधारा एवं उनके शोषण, अत्याचार, भेदभाव एवं हिंसा से तंग आकर किया आत्मसमर्पण

मनीष सिंग:-सुकमा,

सुकमा:-जिले में वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत
छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास योजना के प्रचार-प्रसार से प्रभावित होकर व खोखली माओवादी विचारधारा एवं उनके शोषण, अत्याचार, भेदभाव एवं हिंसा से तंग आकर प्रतिबंधित नक्सली संगठन में कार्यरत पांच नक्सल सदस्यों मीडियम बण्डी उर्फ नरेश निवासी केरलापाल क्षेत्र एरिया कमाण्ड इन चीफ केरलापाल एरिया कमेटी, ईनामी पांच लाख रूपये, माड़वी बुधरी उर्फ कमली निवासी किस्टाराम क्षेत्र किस्टाराम एलजीएस कमांडर, ईनामी पांच लाख रूपये,करटम पोज्जा उर्फ सोनू निवासी भेजी क्षेत्र डीव्हीसी एर्रा का सुरक्षा गार्ड व प्लाटून नम्बर चार का सदस्य, ईनामी दो लाख रूपये, पौड़ियम गंगा निवासी चिंतागुफा क्षेत्र जनसंपर्क शाखा अध्यक्ष, दुलोड़ आरपीसी, मड़कम हड़मा निवासी चिंतलनार क्षेत्र मिलिशिया सदस्य, सुरपनगुड़ा आरपीसी, के द्वारा नक्सल ऑपरेशन कार्यालय सुकमा शलभ सिन्हा पुलिस अधीक्षक सुकमा, सिद्धार्थ तिवारी अतिरिक्त पुलिस
अधीक्षक सुकमा, नरेश पाल उप कमाण्डेन्ट 226 वाहिनी सीआरपीएफ के समक्ष बिना हथियार आत्मसमर्पण किया।आत्मसमर्पित मिडियम बण्डी उर्फ नरेश निवासी केरलापाल क्षेत्र को वर्ष 2008 में दोरनापाल एलओएस कमांडर रमेश के द्वारा नक्सली संगठन में मिलिशिया सदस्य के पद पर शामिल किया गया था। नक्सली संगठन में शामिल होने के बाद वर्ष 2008 में लगभग 01 वर्ष मिलिशिया सदस्य, वर्ष 2009 से जून 2012 तक मिलिशिया कमांडर तत्पश्चात अच्छे कार्यों के कारण प्रमोट होकर दोरनापाल एलओएस सदस्य बना जहां जूलाई 2012 से मई 2016 तक कार्यरत रहा। तत्पश्चात जून 2016 से मई 2017 तक एरिया छात्र संगठन अध्यक्ष, जून 2018 से अब तक एरिया कमाण्ड इन चीफ के पद पर रहा।

Related posts

प्रभारी मंत्री लखमा के काफिले ने Covid नियमो कि उड़ाई धज्जियां प्रशासन बनी रही मूक दर्शक-कमलेश झाड़ी

jia

कलेक्टर-एसपी ने ली सरपंचों की बैठक
विकास कार्यों को तेजी के साथ संचालित कर नियत समय पर पूर्ण करने के निर्देश

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!