June 18, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

दुष्कर्म मामले में बेमेतरा पुलिस के द्वारा जनता से सहयोग के संबंध में

रिपोर्टर:-अरुण कुमार सोनी ,बेमेतरा छत्तीसगढ़

बेमेतरा :-पुलिस अधीक्षक बेमेतरा दिव्यांग पटेल द्वारा अति.पुलिस अधीक्षक बेमेतरा विमल कुमार बैस के नेतृत्व में एसडीओपी बेमेतरा राजीव शर्मा, प्रशि. उप. पु. अधी. तोमेश वर्मा, बेमेतरा नगर निरीक्षक राजेश मिश्रा, निरीक्षक अंबर सिंह, महिला सेल प्रभारी नीता राजपूत, सायबर सेल प्रभारी मोहित चेलक को टीम में शामिल करते हुए, इसके अतिरिक्त बेमेतरा जिले से दक्ष पुलिस अधीकारियों एवं कर्मचारियों की 40 लोगो की टीम बनाकर पृथक से 05 टीम तैयार की गई। जो घटना स्थल से लेकर सिमगा तक रास्ते में लगे विडियो फुटेज का संग्रहण की गई। जिसमें करीबन 20 स्थानो का विडियो फुटेज लिया गया तथा करीबन 100 से अधीक मोबाईल टावर डेटा प्राप्त किया गया है जिसमें 11 लाख नम्बरो में 1 लाख 50 हजार नम्बरो को जांच की दायरे में लिया गया है,।जिसकी बारीकी से वैज्ञानिक तरीके से विश्लेषण लगातार एक अन्य टीम एवं सायबर सेल के द्वारा किया जा रहा है।
एक अन्य टीम द्वारा घटना दिनांक एवं उसके पूर्व से करीबन 350 ट्रक एवं ड्रायवरों से पूछताछ की गई,। जिसमे लंबी दुरी के ट्रकों एवं धान परिवहन व रेत परिवहन में लगे हाइवा एवं ट्रक ड्रायवरो से पूछताछ की जा रही है। ट्रक ड्रायवरों से प्रभावी पूछताछ एवं निगरानी करने हेतु बेमेतरा ट्रक एसोसिएशन एवं कवर्धा व सिमगा के ट्रक एसोसिएशन के पदाधिकारी की मदद ली गई उनके साथ एक मिटिंग की गई। ट्रक ड्रायवरों के नाम एवं मोबाइल नंबर उपलब्ध कराने आग्रह किया गया।, ट्रक एसोसिएशन के पदाधिकारीयों द्वारा आगे आकर लगातर सहयोग किया जा रहा है।
एक अन्य टीम के द्वारा घटना स्थल में लगातार मौजूद रहकर घटना स्थल में ग्रामवासियों से घटना के संबंध में पुछताछ कर पुख्ता जानकारी हासिल की जा रही है। एक अन्य टीम द्वारा घटना स्थल से जितने भी निकलने वाले संभावित रास्ते है। उसमें लगातार भ्रमण कर आने जाने वाले प्रत्येक गाडीयों से पुछताछ, तस्दीक, घटना के संबंध में जानकारी ली जा रही है। एक अन्य टीम द्वारा मध्य प्रदेश एवं राजस्थान आरटीओ कार्यालय से भी ट्रको के रजिस्टेशन संबंधी एवं वाहन स्वामी की जानकारी प्राप्त कर ट्रक ड्रायवरो से लगातार जानकारी ली जा रही है।
प्रकरण में लगातार एवं गहन विवेचना में आरोपी की पकडे जाने की संभावना है।
लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम के मामले में माननीय न्यायालय द्वारा पीडिता को 02 लाख रूपये अंतरिम राहत की राशि प्रदाय करने का आदेश दिया गया है ।जिसमें प्रदाय करने की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है।
उक्त घटना के मामले में पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज दुर्ग के द्वारा सतत मॉनिटरिंग किया जा रहा है, साथ ही छ.ग. राज्य शासन के माननीय गृह मंत्री द्वारा भी सतत मार्गदर्शन दिया जा रहा है।
आप सभी जनता से अनुरोध है की इस संबंध में आपके पास कोई भी जानकारी हो तो कृपया आगे आकर पुलिस का सहयोग करे। जानकारी देने वाले को उचित ईनाम से पुरस्कृत किया जायेगा।

Related posts

Chhttisgarh

jia

राज्य से बाहर पलायन करते मजदूरों की एक टुकड़ी को पुलिस विभाग ने पकड़ा
12 महिलाओ व दो पुरुषों का एक दल मिर्ची तोड़ने जा रहा था आंध्र प्रदेश

jia

सौर ऊर्जा से नक्सल प्रभावित इलाकों में फैल रहा है उजाला, जिले में अब तक 176 गांवों के 1414 घरों में निःशुल्क सोलर होम लाईट स्थापित

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!