November 30, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

बिना गुरु के योग में दक्ष हुआ नन्हा बालक

कई राज्य स्तरीय स्पर्धाओं में जीत चुका है इनाम

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा/गीदम,

गीदम ब्लॉक के बारसूर के समरथ पारा में रहने वाला 14 वर्षीय नन्हा बालक योग के कठिन से कठिन आसन आसानी से कर लेता है। जिसे देखकर लोग आश्चर्य में पड़ जाते हैं। लोगो को हैरत तो तब होती है जब उन्हें पता चलता है कि इस नन्हे बालक कर्ण नाग ने बिना किसी योग गुरु की सहायता से प्राणायाम व आसन सीखा है। कर्ण नाग ने टीवी देखकर व योग की किताबें पढ़कर ही प्राणायाम व आसन में दक्षता हासिल कर ली है। कर्ण नाग के पिता अनिल नाग ने बताया कि कर्ण जब केवल तीन वर्ष का था तभी से वह योगासन व प्राणायाम की ओर आकृष्ट हो गया था। आस्था चैनल में बाबा रामदेव को योगासन करते हुये देख वह भी उनके साथ प्राणायाम व आसन करने लगा। और शीघ्र ही कर्ण ने भी कठिन से कठिन आसनों में दक्षता हासिल कर ली। अब वह वृश्चिक आसन, मयूरासन, भीम आसन, मंडल आसन, ओमकार आसन सहित सभी आसनों को सहजता से कर लेता है। 14 वर्ष की आयु में कर्ण योग की कई राज्य स्तरीय स्पर्धा में भाग ले चुका है। और मेगा योग चैंपियनशिप दंतेवाड़ा में प्रथम स्थान एवं योग विकास अकादमी धमतरी द्वारा आयोजित स्पर्धा में प्रथम स्थान, वर्तमान में राज्य स्तरीय स्पर्धा में ऑनलाइन भाग लिया है। कर्ण नाग का मानना है कि लगन हो तो हर राह आसान हो जाती है। दंतेवाड़ा जैसे सुविधा विहीन जिले में जहाँ योग प्रशिक्षक नहीं है वह कर्ण की उपलब्धि सराहनीय व प्रोत्साहन योग्य है। और इस वर्ष तो कोविड 19 के संक्रमण को देखते हुये अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर सामूहिक कार्यक्रमों का आयोजन नही किया जा रहा है। इसे डिजिटल प्लेटफार्म पर मनाया जा रहा है। जिसमे कर्ण ने भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया है।

Related posts

Chhttisgarh

jia

माँ ने खाया जहर, मेकाज में हुई मौत,
4 बच्चों के सिर से उठा माँ-पिता का साया
सामाजिक संगठनों से लेकर विधायक ने की मदद, मेकाज पहुँचे लोग

jia

चित्रकोट से लौटने के दौरान युवतियो को क्यों पड़ी 112 की जरूरत

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!