September 26, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

प्रकृतिक, पर्यावरण की रक्षा के लिए होगा वनमहोत्सव
जुलाई के प्रथम सप्ताह में होगें वृक्षा रोपण कार्यक्रम

जिया न्यूज़-बब्बी शर्मा:-कोण्डागांव,

कोण्डागांव:-विगत दिनों वनविभाग, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ’बिहान’ एवं रूर्बन मिशन की संयुक्त बैठक का आयोजन कलेक्टेट में हुआ इस बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने की इस बैठक मे कलेक्टर ने जुलाई के प्रथम सप्ताह मे वन विभाग के सहयोग से सम्पूर्ण जिले मे वृहद अभियान चलाकर वृक्षारोपण करने की कार्ययोजना पर विस्तार से चर्चा की उन्होने कहा कि वृक्षारोपण मे अधिक से अधिक वनोपज एवं फलो के माध्यम से रोजगार दिलाने वाले वृक्षो को लगाया जायेगा। जिसके तहत् मुंनगा, इमली, महुआ, कटहल, अमरूद, जामुन जैसे फलदार वृक्षो के साथ आंवला, कुसुम जैसे औषधिय गुणो वाले पौधो का रोपण किया जावेगा। इसके लिए एफ.आर.ए. क्लस्टरों एवं गौठानो में विशेष रूप से फलदार वृक्षो को लगाया जायेगा साथ ही ऐसे वृक्ष जिनका व्यवसायिक दृष्टि से गौठानो मे प्रसंस्करण किया जा सकता है उन्हे प्राथमिकता दी जायेगी। हरियाली प्रसार योजना अतंर्गत वन विभाग द्वारा 35 हजार आम, अमरूद, नीबू, आंवला एवं चार लाख मुनगे के पौधे का रोपण होगा साथ ही 55 हजार कलम किये गए फलदार पौधे का वितरण कृषको को किया जावेगा।
इस अवसर पर कलेक्टर ने वनोपजो के उनके पूर्ण परिपक्व होने से पूर्व तोडे़े जाने से उनकी उपयोगिता कम हो जाने की समस्या को ध्यान मे रखते हुए सभी ग्राम पंचायतो को पत्र जारी कर अपने पंचायत के माध्यम से ग्रामीणो को सही समय पर वनोत्पादो को तोड़ने का प्रशिक्षण पंचायत स्तर पर देने के निर्देश दिये साथ ही विभिन्न वनोत्पादो से निर्मित सामानो जैसे इमली के द्वारा चपाती निर्माण, तिखूर प्रसंस्करण से शर्बत एवं बर्फी निर्माण, अचार निर्माण आदि से बिहान समुहो को जोड़ कर क्लस्टर वार वस्तुओं के निर्माण हेतु कार्ययोजना बनाने को कहा।
कलेक्टर ने वनधन केन्द्रो के माध्यम से हो रहे वनोपज संग्रहण की विभिन्न समस्याओं पर गौर करते हुए राजस्व अधिकारियों जैसे तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक, पटवारी को समय-समय पर अपने क्षेत्र के वनोपज संग्रहण केन्द्रो मे जाकर निरीक्षण करने हेतु आदेश जारी किया ताकि इन केन्द्रो मे नगदी की कमी तथा व्यवस्थाओं मे किसी प्रकार की कोई भी कमी ना रहे। इस अवसर पर बैठक मेंं सहायक परी क्षेत्र अधिकारी वन विभाग महेन्द्र यदु, जिला मिशन प्रबंधक एन आर एल एम विनय सिंह, नीति आयोग सलाहकार रजनीश उपस्थित थे।
वनविभाग द्वारा जिले मे इस वर्षाऋतु के प्रारंभ मे पौधारोपण के लिए सीडबाॅल का प्रयोग वनो एंव ऐसे स्थान जंहा पर पेड़ो की संख्या कम है वहां किया जायेगा। इसके लिए वन विभाग द्वारा सीडबाॅल पूर्व मे ही बनाकर रखे गये है। जिनका छिड़काव आगामी दिनों मे किया जावेगा। इसके अन्तर्गत कटहल, जामुन, आवंला, कुसुम के बीजो के सीडबाॅल तैयार किये गये है।

Related posts

दशकों पहले बीजापुर में आदिवासियों ने जंगल बचाने फूंका था बिगुल। ” एक साल वृक्ष के पीछे एक व्यक्ति का सिर” के नारे से हुई थी “कोई विद्रोह” की मुनादी।

jia

बढ़ते कोरोना संक्रमण को ध्यान मे रखकर होली पर्व मनाने की अपील
होली के मद्देनजर शांति समिति का बैठक सम्पन्न

jia

300 किलो गाँजा के साथ युवक हुआ गिरफ्तार
15 लाख रुपये आंका गया पकड़े गए गाँजे की कीमत

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!