September 21, 2021
Uncategorized

Chhttisgarh

Spread the love

शिवनाथ नदी का पानी बना जहर।
राम तेरी गंगा मैली हो गई।

रिपोर्टर:-अरुण कुमार सोनी,बेमेतरा

देश विदेश में कोरोना वायरस होने का खतरा को देखते हुए स्कुल कालेज को छत्तीसगढ़ शासन ने 31 मार्च तक स्कूल,कालेजो को बंद करने का आदेश जारी कर दिया। वहीं जिला मुख्यालय से महज नव किलोमीटर दूर अमोरा स्थित शिवनाथ नदी दूसरी ओर मीठा पानी बेमेतरा जिले में नगर व आसपास गांव तक पहुंचाई जा रही है। एक हकीकत आपके पास बया करना चाहते हैं। क्या आप शिवनाथ नदी से आने वाली फिल्टर प्लांट का मीठा पानी पीते हैं ।तो सावधान हो जाये क्योंकि हम आपको एक ऐसी खबर दिखाना चाहते हैं। जिसे सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे और फ़िल्टर का मीठा पानी पीना बंद कर देंगे, क्योंकि अमोरा घाट स्थित शिवनाथ नदी में मुर्गी के चूजे व् अंडे बडी तादाद में नदी में डाला गया है। अमोरा स्थित फिल्टर प्लांट के पानी से 57गांवो में समूह जल प्रदाय योजना की माध्यम से बेमेतरा जिला ही नहीं वरन ग्रामीण कस्बे के लोगों की प्यास बुझा रहे है।
वही जिला प्रशासन इस बात से बेखबर हैं अभी तक किसी प्रकार से कोई भी कार्यवाही व सुरक्षा की दृष्टि से कुछ नजर नहीं आ रहा है। इससे पहले भी बेमेतरा जिला सुखा प्रभावित रहा। जिनके कारण से लोगों को पीने पानी को लेकर काफी किल्लत का सामना करना पडता था। आपको बता दूं इससे पहले भी इस तरह की वारदात हो चुकी है मगर इस बार हद ही पार कर दिया गया।शिवनाथ नदी के पानी की अंदर अंडे व मुर्गी के चुजे स्पष्ट बयां दिखाई दे रही है। बहर हाल बेमेतरा जिला के रहवासियों के सेहत के नाम पर जहर परोसा जा रहा है।

Related posts

जिले में झमाझम बारिश और आंधी तूफान के साथ ओलावृष्टि से जिले के किसानों को हुआ भारी नुकसान

jia

जिले में 4 दिन में वैक्सीन की 116 डोज हुई खराब, वैक्सीन का संकट बरकरार

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!