August 8, 2022
Uncategorized

आॅनलाइन पढ़ाई से से बच्चों के आंखों पर हुआ असर
खण्डस्त्रोत समन्वयक कटेकल्याण ने निःशुल्क नेत्र जांच शिविर का आयोजन कराया

Spread the love

जिया न्यूज़:-सुभाष यादव-दंतेवाड़ा,

दन्तेवाड़ा:-कोरोना के संकटकाल को देखते हुए जिले के सभी स्कूल,कालेज, बंद पडे़ है। बच्चें अपने घरों में कैद होने को मजबूर है। छोटे क्लास से लेकर बड़े क्लास तक सभी बच्चों की आॅनलाइन क्लास शुरू हो चुकी है। बच्चों को अब आॅनलाइन क्लास को अटेंड करना अनिवार्य हो गया है। जिला प्रशासन को भी मजबूरी में यह निर्णय लेना पड़ा, कि स्कूल बन्द होने से बच्चों की पढ़ाई पर असर ना पडे़ इसको देखते हुए जिले के सभी स्कूलों में आॅनलाइन क्लास की शुरूआत की गई।

सुबह से लेकर शाम तक बच्चें आॅनलाइन पढ़ाई करते है। जिस वजह से पढ़ाई के लिए ब्लैक बोर्ड की जगह अब मोबाईल एवं लैपटाप की स्क्रीन ने ले लिया है। इसी वजह से बच्चों के आखों पर असर दिखना शुरू हो गया है। लगातार मोबाइल फोन पर पढ़ाई करने पर बच्चों की सेहत पर असर पड़ सकता है। आॅनलाइन पढ़ाई के दौरान बच्चे मोबाइल, लैपटाप पर नजरे गड़ाए रखते है और पलक कम झपकते है। इससे आंखों का पानी सुखने लगता है, और आंखों में खुजली एवं दर्द होने लगता है।
इन सभी समस्याओं को देखते हुए खण्डस्त्रोत समन्वयक कटेकल्याण के द्वारा शासकिय कन्या प्राथमिक शाला बाजारपारा कटेकल्याण में बाल ज्योति निःशुल्क नेत्र जांच शिविर का आयोजन कराया गया है।
वर्जन
इस संबंध में खण्ड स्त्रोत समन्वयक से चर्चा की गई तो उन्होने बताया की लाॅकडाउन के बाद सभी स्कूलों में जिला प्रशासन की पहल पर आॅनलाइन क्लास शुरू की गई थी। कई बच्चों को दखने एवं आंख संबंधित समस्या आ रही थी। इसी वजह से कटेकल्याण ब्लाक में निःशुल्क नेत्र जांच शिविर का आयोजन करवाया गया।
प्रमोद कर्मा खण्डस्त्रोत समन्वयक कटेकल्याण

Related posts

युवक ने ट्रेन से कटकर दी अपनी जान, सर धड़ से हुआ अलग, पुलिस मिला सुसाइड नोट
बड़े भाई का आरोप पत्नी कर रही थी मानसिक रूप ने प्रताड़ित

jia

आंदोलन के 56वें दिन मनरेगा कर्मियों ने निकाली वायदा निभाओ रैली
अपनी 2 सूत्रीय मांगों के लिए एस डी एम को सौंपा ज्ञापन

jia

मेकाज में इलाज चल रहे एक गर्भवती महिला व उसके बच्चे की मौत
महिला को झटका के चलते किया गया था भर्ती, कोरोना रिपोर्ट था पॉजिटिव

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!