January 18, 2022
Uncategorized

सी.एम.एच.ओ. डॉ० राजन द्वारा बी.एम.ओ. बस्तानार को हटाने के बाद अब नेत्र विभाग के नोडल अधिकारी को हटाने का तुगलकी फरमान कर्मचारी हुए एकत्रित।

Spread the love

जिया न्यूज:-जगदलपुर,

जगदलपुर:-नेत्र विभाग के नोडल अधिकारी डॉ० सरिता थॉमस को बिना कारण बताएं उन्हें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ अधिकारी डॉ० राजन ने जिला अंधत्व नियंत्रण समिति जिला बस्तर के पद से हटाने का तुगलकी फरमान जारी किया है। जिसके बाद नेत्र विभाग के कर्मचारी एकत्रित होकर उपायुक्त बी.एस. सीदार के समक्ष डॉ० सरिता थॉमस को यथावत करने के लिए आयुक्त के नाम ज्ञापन सौंपा गया है।
बता दे की इससे पूर्व खंड चिकित्सा अधिकारी बास्तानार डॉ० प्रदीप बघेल को एकाएक पद से हटाए जाने पर हड़कंप मच गया था, जिसके बाद स्वास्थ्य कर्मियों ने बीएमओ को यथावत बनाए रखने के लिए चित्रकूट विधायक राजमन बैज्जाम के समक्ष गुहार लगाने पहुंचे थे।
नेत्र विभाग के कर्मचारियों ने ज्ञापन सौंपते हुए मीडिया के समक्ष कहा कि डॉ० सरिता थामस विगत 03 वर्षो से नोडल अधिकारी (डी.बी.सी.एस) के रूप में अपनी सेवाये देते हुए नेत्र विभाग महारानी अस्पताल जगदलपुर को सबसे ज्यादा मोतियाबिंद आपरेशन करने सत्र 2018-19 में छग राज्य मे दुसरा स्थान, सत्र 2019-20 में छग राज्य में दूसरा स्थान एवं सत्र 2020-21 मे पुरे छग राज्य में महारानी अस्पताल जगदलपुर को पहला स्थान हासिल कर जिला बस्तर को गौरान्वित किया था। डॉक्टर थॉमस के कुशल नेतृत्व में यह उपलब्धियां हासिल हुई है।
आज दिनांक तक डॉ सरिता थामस के विरूद्ध किसी भी प्रकार की कोई शिकायत नही है एवं कर्मचारियों के साथ इनका व्यवहार स्वादपूर्ण आपसी सामंजस्य बनाकर कार्य कराना इनकी कुशल क्षमता को दर्शाता है।
नेत्र विभाग के कर्मचारियों ने यह भी कहा कि नेत्र विभाग में विगत 07 महिने से टेण्डर न होने के बाद भी, दवाईया, चश्मा की कमी को ध्यान में रखते हुए मोतियाबिंद आपरेशन का कार्य सुचारू एवं सुरक्षित रूप से संचालन करने में डॉक्टर सरिता की अहम भूमिका रही हैं। डॉ सरिता थामस के उपर किसी भी तरह का आरोप ना होने के बावजूद भी इनके उत्कृष्ट कार्यों को प्रोत्साहित न कर हतोत्साहित करते हुए डॉ सरिता थामस को नोडल अधिकारी के गरिमामय पद से बिना सूचना के हटाया जाना न्याय उचित नही है। जिसका नेत्र विभाग के समस्त कर्मचारी एक सुर में विरोध करते है।
नेत्र विभाग के कर्मचारियों ने ज्ञापन में बस्तर कमिश्नर को आग्रह करते हुए कहा कि डॉ. सरिता थॉमस को पुनः नोडल अधिकारी (डी.बी.सी.एस.) के पद पर यथावत रखने हेतु निवेदन किया ताकि समस्त नेत्र भाग के कर्मचारी आपके आभारी रहेंगें।
ज्ञापन में हस्ताक्षर किये कर्मचारी वरिष्ठ नेत्र सहायक अधिकारी फिरोज खान, लक्ष्मण बघेल, सुदीप प्रमाणिक, नीरज मामाड़ीकर, दयानंद पटेल, हनुमंत राव, कविता पांडे, सोनिया यादव, नितिक्षा सिंह, लोकेश चक्रवर्ती, तारकेश्वर राव, हेमधर नाग, नमिता मौर्य, गीता मौर्य, सुप्रिया मांझी, गोपाल कुरील, अन्नपूर्णा साहू, मल्लिका नायक, आदि शामिल हुए।

Related posts

दंतेवाड़ा में बूंदाबांदी तो गीदम में अंधड़ के साथ तेज़ बारिश,ओले भी गिरे

jia

ऑल इंडिया सिविल सर्विसेज लॉन टेनिस प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ के 9 खिलाड़ी भाग लेंगे
खिलाड़ियों में बस्तर जिले के डॉक्टर केएल आज़ाद भी है शामिल

jia

बाथरूम जाना युवक को पड़ा भारी, चोरों ने पार कर दिया मोटरसाइकिल
कोतवाली पुलिस ने गुम हुये मोटर सायकल को खोज किया प्रार्थी को सुपुर्द

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!