September 23, 2021
Uncategorized

कलेक्टर दीपक सोनी ने जारी किया आदेश दन्तेवाड़ा जिले में 31 मई रात्रि 12 बजे तक बढ़ा लॉकडाउन

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा:-कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी दीपक सोनी ने दन्तेवाड़ा जिले के संपूर्ण क्षेत्र को आगामी 31 मई रात्रि 12 बजे तक पूर्ववत कंटेन्मेंट जोन रखने आदेश जारी किया है। विदित है कि पूर्व आदेश के अनुसार जिले में 06 मई तक कंटेन्मेंट जोन घोषित था। कोरोना वायरस, कोविड-19 के संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर सोनी ने आगमी 31 मई रात्रि 12 बजे तक पूर्ववत कंटेन्मेंट जोन रखने के आदेश जारी किए है। उपर्युक्त दर्शित अवधि में दन्तेवाड़ा जिले में व्यवसायिक गतिविधियों पर अधिरोपित प्रतिबंधों एवं सम्पूर्ण जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित करने के बावजूद कोविड-19 प्रकरणों की संख्या चिन्ता का विषय है। मानव जीवन की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता का विषय है, तथा मुक्त आवागमन से आम जनता की सुरक्षा को भी गंभीर खतरा उत्पन्न होने की आशंका बनी हुई है। जिससे सम्पूर्ण दन्तेवाड़ा जिले में कंटेनमेंट जोन की अवधि बढ़ाया जाना आवश्यक हो गया है। यह आदेश 16 मई 2021 रात्रि 12 बजे से लागू होगा।
उपरोक्त अवधि में निम्नलिखित गतिविधियां पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगीः-
सभी सुपर मार्केट/सुपर बाजार, सब्जी बाजार, मॉल, शो-रूम, मैरीज हॉल, स्विमिंग पूल, क्लब, सिनेमा हॉल, सैलून, ब्यूटी-पार्लर, स्पा, जिम तथा अन्य सार्वजनिक स्थल बंद रहेंगे। जिला अन्तर्गत संचालित समस्त शराब दुकानु एवं बार बन्द रहेंगे, किन्तु ऑनलाईन एप्लीकेशन के माध्यम से होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी। सभी पार्क, रिसॉर्ट तथा समूह उपस्थिति वाले सभी धार्मिक स्थल, सास्कृतिक एवं पर्यटन स्थल पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे। सभी कार्यालय विशिष्ट आदेश को छोड़कर सामान्यतः आम जनता हेतु बंद रहेंगे, किन्तु 50 प्रतिशत स्टाफ रोटेशन के साथ कार्यालयीन एवं आम जनता विषयक अति-आवश्यक प्रयोजन हेतु सभी कर्यालय खोले जायेंगे। उप पंजीयक कार्यालय आवश्यक स्टाफ सहित पूर्ववत टोकन/ ऑनलाईन सिस्टम के साथ संचालित होंगें। टेलीकाम, रेल्वे एवं एयर पोर्ट संचालन व रख-रखाव से जुड़े कार्यालय/वर्कशॉप, रेक प्वाईट पर लोडिंग-अन्लोडिंग का कार्य, खाद्य सामाग्री के थोक परिवहन, धान मिलिंग हेतु परिवहन की अनुमति पूर्ववत रहेंगी। स्कूल एवं कॉलेज विद्यार्थी हेतु बंद रहेंगे। छात्रावास में केवल परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को निवास की अनुमति होगी। शासन से अनुमति प्राप्त समस्त परीक्षाओं को छोड़कर कोचिंग क्लासेस सहित अन्य समस्त शैक्षणिक गतिविधियां बंद रहेंगी।
सभी प्रकार की सभा, जुलूस, धरना, सामाजिक, धार्मिक एवं राजनैतिक आयोजन इत्यादि पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे, किन्तु विवाह कार्यक्रम वर अथवा वधू के निवास-गृह में ही आयोजित करने तथा कोविड-19 प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन की शर्त के अधीन आयोजन में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या पूर्ववत 10 रहेंगी। इसी प्रकार अत्योष्टि, दसगात्र, इत्यादि मृत्यु संबंधि कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 रहेगी। सभी प्रकार के मंडियों एवं सब्जी बाजार आम जनता हेतु बंद रहेंगे, किन्तु आवश्यक वस्तुओं/माल की आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु गोडउन/मंडियों में थोक माल/कार्गो/फल सब्जी लोडिंग/ अन-लोडिंग की अनुमति रात्रि 9 बजे से प्रातः 9 बजे तक रहेंगी। फल एवं सब्जी थोक बाजार रात्रि 9 बजे से प्रातः 9 बजे तक ही संचालित होगा। सभी पान/सिगरेट ठेला तथा चौपाटी, चाट, समोसा, गुपचुप, फास्ट-फूड इत्यादि के विक्रय हेतु ठेलो का संचालन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगा। होटलो एवं रेस्टोरेंट्स से केवल स्विगी, जोमेटो इत्यादि ऑनलाईन एप्लीकेशन के माध्यम से होम डिलीवरी के अनुमति पूर्ववत रहेंगी, किन्तु ग्राहकों के लिए इन-हाउस डाइनिंग तथा टेक -अवे पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। होम डिलीवरी के लिए होटल एवं रेस्टोरेंट्स ने होम डिलीवरी आर्डर समय रात्रि 9 बजे तक लिया जा सकेगा। तथा आम जनता हेतु होम डिलीवरी रात्रि 10 बजे तक ही की जा सकेगी। भीड़-भाड़ या निर्देशों का उल्लंघन होने पर होटलो एवे रेस्टोरेंट्स को नियमानुसार 30 दिवस हेतु सील करने की कार्यवाही की जावेगी। शासकीय उचित मूल्य की दुकानों को टोकन की व्यवस्था कर खोलने की अनुमति होगी, ताकि भीड़ को नियंत्रित किया जा सकें। दुकानदार द्वारा 50 से 80 के बीच प्रतिदिन के लिए टोकन जारी किया जाये एवं हितग्राहियों/लाभार्थियों को राशन वितरण किया जायेगा। खाद्य विभाग उपरोक्तानुसार खाद्यान्न वितरण की वयवस्था सुनिश्चित करें। सभी प्रकार की मंडिया तथा थोक दुकाने बंद रहेंगी। किराना दुकाने, डेलीनीड्स, आटा चक्की, अंडा, पोल्ट्री, मटन, मछली, दुध डेयरी और डेयरी उत्पादन की दुकानो को प्रातः 6 बजे से अपरान्हन 3 बजे तक खोलने की अनुमति रहेंगी। वाहन मरम्मत/पंचर सुधार/आटो पार्टस/स्टेशनरी/लॉण्ड्री सर्विसेस/आटा चक्की/आप्टकल शॉप, निर्माण सामग्री विक्रय की दुकाने/रिपेयरिंग सामग्री विक्रय हेतु इलेक्ट्रीकल्स दुकाने (शो-रूम प्रतिबंधित), पेट शॉप/एक्वेरियम/कृषि से संबंधित(खाद्य/उर्वरक, किटनाशक, बीज विनिर्माण, वितरण एवं विक्रय, कृषि मशीनरी विक्रय एवं उससे संबंधित स्पेयर पार्टस एवं मरम्मत) दुकाने अधिकतम अपर्राहन 3 बजे तक संचालित की जा सकेगी। वाहन विक्रय हेतु शो-रूम नही खुलेंगे किन्तु वाहन रिपेयरिंग वर्क शॉप खुल सकेंगे। फल सब्जी प्रातः 6 बजे से अपर्राहन 3 बजे तक केवल स्ट्रीट वेण्डर्स/ठेले वालों/पीक-अप/अन्य उपयुक्त छोटे वाहन के माध्यम से की जा सकेंगी। इस हेतु प्रयुक्त वाहन पर बैनर या बड़ा स्टीकर प्रदर्शित करना होगा। स्थानीय ऑनलाईन शॉप तथा ई-कॉमर्स सेवाओं तथा अमेजॉन,फ्लिप कार्ड इत्यादि को उपरोक्त समयावधि में होम डिलीवरी हेतु अनुमति प्रदान की जाती है, किन्तु शॉप/स्टोर आम जनता हेतु नही खुलेंगे। उपरोक्तानुसार होटलों एवं रेस्टोरेंट्स से केवल स्विगी, जोमेटो इत्यादि ऑनलाईन एप्लीकेशन के माध्यम से होम डिलीवरी की अनुमति दी जाती है, किन्तु ग्राहकों के लिए इन-हाउस डायनिंग तथा टेक-अवे पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। भीड़-भाड़ या निर्देशो का उल्लंघन होने पर होटलो एवं रेस्टोरेंट्स को नियमानुसार 30 दिवस हेतु सील करने की कार्यवाही की जावेगी। इस व्यवस्था में संलग्न सभी व्यक्तियों को नियमित अंतराल में कोविड-19 जॉच तथा 45 वर्ष से अधिक अवस्था वाले व्यक्तियों को कोविड-19 वैक्सीनेशन करना आवश्यक रहेगा। होम डिलीवरी के दौरान मास्क धारण करना एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा। किसी दुकान में होम डिलीवरी के दौरान भीड़-भाड़ होने पर एपिडेमिक एक्ट 1897 के अधीन चालान/अर्थदण्ड अधिरोपित करने के साथ-साथ दुकान को 30 दिवस हेतु सील किया जावेंगा। संबंधित नगरीय/ग्रामीण क्षेत्र के अधिकारी उनके क्षेत्र में स्थित प्रोविजन स्टोर/किराना दुकानों से संपर्क हेतु उनके मोबाईल नम्बर/ पोर्टल की जानकारी सोशल मिडिया के माध्यम से प्रसारित करेंगे। उपरोक्त निर्देशों के उल्लंघन की दशा में दुकान को सील करने/ठेले को जब्त करने/ अर्धदण्ड या चालान की कार्यवाही की जावेगी।
पेट्रोल पम्प एवं गैस एजेन्सियां को खोले जाने की अनुमति रहेंगी। गैस एजेन्सियां होम डिलीवरी को प्राथमिकता देंगे। न्यूज पेपर हॉकर द्वारा समाचार पत्रों के वितरण की समयावधि प्रातः 7 बजे से प्रातः 10 बजे तक एवं संध्या 5:30 से संध्या 8 बजे तक ही होगी। इलेक्ट्रीशियन/प्लंबर, एसी, कुलर एवं सैनीटरी फिटिंग की घरेलू सेवाओं/ मरम्मत के लिए दुकाने प्रातः 6 बजे से अपर्राहन 3 बजे तक खोले जा सकेंगे। यह स्पष्ट किय जाता है कि एसी, पंखे, कुलर की दुकाने विक्रय के लिए नही खोली जा सकेगी, परन्तु होम डिलीवरी की अनुमति होगी।
निजी निर्माण कार्य सायं 5 बजे तक तथा औद्योगिक संस्थानों शासकीय निर्माण कार्यो को अपने समय पर संचालन व निर्माण कार्य की अनुमति होगी। इसके अतिरिक्त मनरेगा के कार्य एवं वनविभाग के लघु/गौण वनोपज से संबंधित संग्रहण विपणन, भंडारण एवं परिवहन कार्य इस प्रतिबंध से मुक्त होंगे। पूर्व से ही विभिन्न होटलों मे रूके हुए अथितियों के लिए डायनिंग सेवाएं केवल रूम सर्विस के माध्यम से उपलब्ध होगी।
बैंक एवं पोस्ट ऑफिस अपनी क्षमता के 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ कोविड गाईड लाईन का पालन करते हुए सभी प्रकार के लेन-देन संचालित करने की अनुमति होगी। लोक सेवा केन्द्र एवं च्वाईस सेंटर अपर्राहन 3 बजे तक खोले जायेंगे किन्तु मास्क तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा। उल्लंघन की दशा में अर्थदण्ड के साथ-साथ केन्द्र की आई.डी.निलंबित की जावेंगी।
उपरोक्त आदेश में अतिआवश्यक सेवाओं से जुडे़ छूट प्राप्त कार्यालयों के अतिरिक्त राज्य शासन के समस्त कार्यालय लॉकडाउन अवधि में बंद रहेंगे कार्यालय प्रमुख द्वारा आवश्यकतानुसार अधीनस्त अधिकारी/कर्मचारियों को कार्य पर बुलाया जा सकेगा। समस्त अधिकारी/कर्मचारी अपने मुख्यालय में अनिवार्य रूप से उपलब्ध रहेगा। आपात स्थिति में यात्रा के दौरान 4 पहिया वाहनों में ड्राईवर सहित अधिकतम 4 व्याक्ति, आटो में ड्राईवर सहित अधिकतम 3 व्यक्ति, एवं दो पहिया वाहन में अधिकतम 2 व्यक्तियों को यात्रा की अनुमति होगी। रेल्वे स्टेशन, एयरपोर्ट, बस स्टैण्ड, हॉस्पीटल आवागमन हेतु आटो/टैक्सी परिचालन की अनुमति रहेंगी, किन्तु अन्य प्रयोजन हेतु परिचालन पूर्णतः प्रतिबंध रहेगा। अपरिहार्य परिस्थितयों में दक्षिण बस्तर दन्तेवाड़ा जिले से अन्यत्र आने-जाने वाले यात्रियों को ई-पास के माध्यम से पूर्व अनुमति लिया जाना अनिवार्य होगा तथापि प्रतियोगी/अन्य परीक्षाओं में सम्मिलित होने वाले परीक्षार्थियों हेतु उनका एडमिट कार्ड तथा रेल्वे/पोस्टल/टेलीकॉम/एयरपोर्ट संचालन एवं रख-रखाव कार्य या हॉस्पीटल या कोविड-19 ड्यूटी में संलग्न अधिकारी/कर्मचारियों/चिकित्सकों/नीजी अस्पतालों में कार्यरत चिकित्सक एवं स्वास्थ्य कर्मियों/चिन्हाकित वाले वालेन्टियर्स की दशा में नियोक्ता द्वारा जारी आई.डी. कार्ड ई-पास के रूप मान्य किया जावेगा तथा आवश्यक परिस्थितयों में संबंधित एसडीएम द्वारा पास जारी किये जायेंगे। रेल/बस/हवाई यात्रा के माध्यम से जिले में आने वाले यात्रियों का कोविड-19 जॉच अनिवार्य होगा।
कोविड संक्रमण के रोकथाम हेतु जिले में समस्त कार्य जैसे कॉन्टेक्ट, टेªसिंग, एक्टिव, सर्विलांस, होम आईसोलेशन, दवाई वितरण आदि पूर्वानुसार चलते रहेंगे। इन कार्यो में संलग्न सभी शासकीय कर्मचारियों की उपस्थिति पूर्वानुसार अनिवार्य होगी कोविड केयर सेंटर से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के परिवहन में संलग्न वाहन पूर्वानुसार संचालित रहेंगे।
कोविड-19 टिकाकरण हेतु पंजीयन, कोविड-19 जॉच हेतु मेडिकल दस्तावेज या आधार कार्ड/विधिमान्य परिचय-पत्र दिखाने पर कोविड-19 टिकाकारण केन्द्र अस्पताल/पैथॉलोजी लैबा अथवा आने-जाने की अनुमति होगी, किन्तु अनावश्यक भ्रमण सख्त प्रतिबंधित रहेंगा। सी.जी.टीका रजिस्ट्रेशन पश्चात् टीकाकरण हेतु संबंधित हितग्राहियों को पर्ची के साथ टिकाकरण केन्द्र में पहुंचना आवश्यक होगा।
मिडिया कर्मी यथासंभव वर्क फ्रॉम होम द्वारा कार्य संपादित करेगे। अत्यावश्यक स्थिति में कार्य हेतु बाहर निकलने पर अपना आई-कार्ड साथ रखेंगे तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबंधि निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करेंगे। राज्य शासन या इस कार्यालय के विशेष आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त किसी सेवा के संचालन की अनुमति होगी। जरूरत मेंदों को राहत सामग्री पहुंचाने हेतु इच्छुक संस्थाओं/व्यक्तियों को कोरोना बचाव हेतु प्रसारित निर्देशों के तहत् एक समय में अधिकतम 4 व्यक्तियों को प्रातः 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक संबंधित अनुविभागीय दण्डाधिकारी की पूर्वानुमति से राहत सामग्री वितरण की अनुमति होगी।
उपरोक्त अवधि में केवल अस्पताल, क्लीनिक, दवा की दुकाने, पशुचारा से संबंधित दुकाने, पेट्रोल पम्प एवं होम डिलीवरी सेवाओं को छोड़कर अन्य सभी दुकाने रविवार को बंद रहेंगी। उक्त आदेश में परिस्थितयों को आंकलन कर समय विस्तार एवं संशोधन किया जा सकेगा। जिले के नगरीय निकाय/ग्रामीण क्षेत्र में साप्ताहिक हाट-बाजार पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगी। टेंस्टिंग पश्चात् कोविड- पॉजिटिव पाये जाने पर चिकित्सक के अनुमति पश्चात ही होम आईशोलेसन की अनुमति होगी। विरोध की दशा में एवं टिकाकरण के संबंध में अपवाह फैलाने वालों के विरूध सुसंगत अधिनियम एवं धाराओं के अन्तर्गत कठोरतम कार्यवाही की जायेंगी।
जारी आदेश में बताया गया है कि मीडियाकर्मी यथासंभव वर्क फार्म होम द्वारा कार्य संपादित करेंगे। अत्यावश्यक स्थिति में कार्य हेतु बाहर निकलने पर अपना आई-कार्ड साथ रखेंगें तथा फिजिकल डिस्टेसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चत करेंगे।
यह आदेश कार्यालय कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, उप पुलिस अधीक्षक, जिला पंचायत एवं जनपद पंचायत, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय एवं उनके अधीनस्थ समस्त कार्यालय, तहसील, अस्पताल, थाना एवं पुलिस चौकी पर लागू नहीं होगा। इसके अतिरिक्त कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित अधिकारी, विद्युत, पेयजल आपूर्ति एवं नगर पालिका सेवायें जिसमें सफाई, सीवरेज एवं कचरे का डिस्पोजल इत्यादि भी शामिल है तथा अग्निशमन सेवाओं के संचालन हेतु संबंधित अधिकारियों, कर्मचारियों को कार्यालय संचालन एवं आवागमन की अनुमति होगी किन्तु इन शासकीय कार्यालयों में उपर्युक्त अवधि में आम जनता का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। उपरोक्त बिन्दुओं को छोड़कर जिले में समस्त गतिविधियां पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगी। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति, प्रतिष्ठानों पर भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 188, आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51-60 तथा अन्य सुसंगत विधि अनुसार कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

Related posts

भाजपा के नेता मुद्दे के अभाव में अब ओछी राजनीति पर उतर आए हैं- राजमन बेंजाम ( विधायक) चित्रकोट

jia

भैसा चराने गया बुजुर्ग ग्रामीण की डूबने से हुई मौत
सोमवार से था लापता, घर से 1 किमी दूर तालाब के पास मिला कपड़ा

jia

कोविड 19 नियमों का पालन करते हुए लौह नगरी किरंदुल में हर्षोल्लास के साथ महिलाओं ने घर पर ही हलषष्ठी माँ की व्रत – पूजा।

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!