September 22, 2021
Uncategorized

कोरोना हारा मेकाज के वारियर्स की हुई जीत
मेकाज में अब एक भी नही है कोरोना के मरीज

Spread the love

जिया न्यूज़:-जगदलपुर,

जगदलपुर। मेडिकल कॉलेज डिमरापाल के स्टाफ नर्स से लेकर डॉक्टर, सफाई कर्मचारी, वार्ड बॉय, वार्ड आया कि मेहनत आखिरकार 12 माह के बाद दिखाई दिया, जहाँ मेकाज में अब एक भी कोरोना के मरीज नही है, इस सफलता को लेकर मेकाज प्रबंधन से लेकर कोविड प्रभारी आदि ने सभी को शुभकामनाएं देते हुए उनका मनोबल बढ़ाया, मेकाज में इन 17 माह में जहाँ सैकड़ा के लगभग लोगो ने अपनी जान गवाँई तो वही हजारों के लगभग मरीज यहां से स्वस्थ होकर यहां के वारियर्स को धन्यवाद भी दिया है।
कोविड प्रभारी डॉक्टर नवीन दुल्हानी ने बताया कि मार्च 2020 से जब से लॉक डाउन के साथ ही जब से कोरोना की लहर आई, तब मेकाज में बटवारा करने के साथ ही कोरोना मरीजो के लिए अलग से वार्ड बनाया गया, जिसके लिए अलग से स्टाफ की भी भर्ती किया गया, 24 घंटे कोरोना मरीजो के लिए दिनरात वारियर्स के द्वारा मरीजो का इलाज किया जा रहा था, वर्ष 2020 से लेकर अगस्त 2021 तक मेकाज में 2703 मरीज भर्ती किया गया, जिसमें 2416 मरीज ठीक हुए, 24 मरीजो को रेफर किया गया, जबकि 243 मरीजो की अब तक मौत हुई है, अब बस्तर जिले के अलावा अन्य जिलों से भी एक भी कोरोना मरीज नही पाए गए, जिसके कारण उन्हें रेफर नही किया गया है, स्टाफ ने बताया कि कोरोना वार्ड में काम करने वाले हर स्टाफ नर्स , वार्ड बॉय, आया अपने 8 घंटे की ड्यूटी में पीपी कीट पहनकर वार्ड के अंदर ही रहता था, जिसके कारण मरीजो को हर छोटी बड़ी तकलीफ के लिये आवाज देने की जरूरत नही पड़ती थी, मरीजो ने अपने रिश्तेदारों के स्वस्थ होने के बाद जहां डॉक्टरों को बधाई देने के साथ ही एक फोटो भी खिंचवाने की इच्छा जताई थी, जिसमे डॉक्टरों ने भी खुश होकर उनके साथ इस पल को कैद करवाया था, ऐसे कई और मामले थे जिसमें डॉक्टरों ने मरीजो के ठीक होने पर उनका फोन नंबर तक लिया, जिससे कि उनके स्वस्थ के बारे में जानकारी लिया जा सके, वही कई मरीज तो जाते जाते रोने भी लगे थे, उनका कहना था कि यहां पर कार्यरत सभी स्टाफ से इस तरह से लगाव हो गया था कि ऐसा लग रहा था कि अपने परिवार से बिछड़ रहे है। इन्ही वारियर्स की मेहनत को चिकित्सको ने भी काफी तारीफ करते हुए मेकाज में कोरोना मरीज शून्य होने पर बधाई दिया गया।

Related posts

बिना काम किये ही, ठेकेदार को कर दिया 58 लाख का भुगतान, इस भरस्टाचार पर जिला पंचायत सदस्य बसन्त ताटी ने उठाई कार्रवाई की मांग

jia

राष्ट्रीय बजरंग दल अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने घायल व्यक्ति को दवाई व राशन की मदद की आगे भी मदद का दिया आश्वसन टेंट हाउस में काम करने के दौरान पैर में लगी थी गहरी चोट

jia

राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना के अंतर्गत मिली बीस हजार रुपये की सहयोग राशि

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!