September 23, 2021
Uncategorized

सीपीआई का प्रदर्शन दूसरे दिन भी जारी,मनरेगा में तुरंत नकदी भुगतान की मांग

Spread the love

जिया न्यूज़:-दिनेश/चन्दन-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा-स्थानीय दुर्गा पंडाल में सीपीआई कार्यकर्ता दूसरे दिन सरकार के खिलाफ मैदान में डटे हुए है ।पूर्व विधानसभा उम्मीदवार बोमड़ा कवासी ने बताया कि भाजपा और कांग्रेस की सरकार सिर्फ वादा करती हैं और सरकार बनाने के बाद भूल जाती हैं ।आम जनता को ठगने के लिए दोनों ही पार्टियों ने तरह-तरह के उपाय कर रखें है ।उन्होंने कहा कि गाड़ियों में ठूस-ठूस कर भोले-भाले ग्रामीणों को लाया जाता है ।सभा होने के बाद भगवान भरोसे छोड़ दिया जाता है ।

आदिवासी महासभा के सदस्यों में भीमसेन मंडावी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने चुनाव पूर्व कहा था कि सरकार में आते ही पहला काम नक्सली केस में जेलों में बंद निर्दोष आदिवासियों को रिहा कर देंगे लेकिन आज तीन साल होने को है सरकार ने अपना वादा पूरा नहीं किया ।सीपीआई नेता हिड़मा पोडियम ने बताया कि वन विभाग भी आदिवासियों के जमीन को वन भूमि के नाम से घेराबंदी कर रहा है ।मजदूर पलायन कर रहे है चारों ओर सरकार के खिलाफ असंतोष व्याप्त है केवल कमीशनखोरी का खेल खेलने वाले दोनों दल आम जनता को ठगने में पारंगत हैं ।मनरेगा के भुगतान में भारी विलंब और राशि कम मिलने से मजदूर इस काम में रुचि नहीं लेते ।इन क्षेत्रों में मजदूरों को बाजार के दिन न्यूनतम राशि की आवश्यकता होती है जिसे पंचायतें मैनेज करती हैं लेकिन बहुत लंबे समय हो जाने से पंचायतें भी भुगतान नहीं कर सकती ।और मजदूर काम छोड़ देते हैं ।इस प्रकार पलायन की प्रवृति बढ़ती है ।नेताओं में बल्लू भवानी,मनीराम मुड़ामी,लक्खू भास्कर, मुन्ना मंडावी, नरेंद्र भास्कर, लक्ष्मण वेक, सुकुलु सोढ़ी, सहित सैकड़ों की संख्या में आदिवासी महासभा के कार्यकर्ता उपस्थित थे ।

Related posts

सुगम स्वस्थ दंतेवाड़ा ले आपलो लगे-लगे चो गाड़ी ले फायदा मिरेसे मरीज झठके अमरसोत अस्पताल

jia

शालेय शिक्षक संघ दंतेवाड़ा ने शिक्षकों की ड्यूटी दूसरे विकासखंड में लगाने का किया विरोध साथ ही दिवंगत शिक्षकों के परिवार को अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान करने की मांग की।

jia

बस्तर अधिकार सँयुक्त मुक्ति मोर्चा द्वारा बस्तर के विभिन्न मुद्दों को लेकर कलेक्टर से की गयीं मुलाकात मामलों पर शीघ्र कार्यवाही न होने पर जन आंदोलन की कही बात आर्सेलर मित्तल निपान इंडिया कम्पनी द्वारा अवैध लौह अवशेष भंडारण पर प्रशासनिक जांच रिपोर्ट को सार्वजनिक करने की मांग की

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!