January 26, 2022
Uncategorized

पुरानी रंजिश के चलते छोटे भाई ने की बड़े भाई की हत्या
जमीन विवाद बना हत्या का कारण, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार
3 हजार रुपये देकर अन्य आरोपियों की मदद से शव को लगाया ढिकाना

Spread the love

जिया न्यूज़:-जगदलपुर,

जगदलपुर:- दरभा क्षेत्र में विगत दिनों गुम हुए युवक के शव मिलने के बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज करते हुए आरोपी की पतासाजी में जुट गये, जहाँ भाई ने भाई को जमीन विवाद के चलते उसकी हत्या करने की बात को स्वीकार किया, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।
मामले के बारे में दरभा थाना प्रभारी ने बताया कि 18 अगस्त को भागीरथी कश्यप द्वारा चौंकी पखनार आकर बुधराम मडकामी 25 वर्ष निवासी चंद्रगिरी बेलापारा का गुम होने का रिपोर्ट दर्ज कराया गया, अनुविभागीय अधिकारी केशलूर ऐश्वर्य चंद्राकर के साथ ही चौकी पखनार व दरभा पुलिस द्वारा कार्यवाही करते हुये गुम इंसान का पतासाजी किया जा रहा था, इसी दौरान पता चला कि सन्नू मड़कामी के द्वारा गुम बुधराम मड़कामी का सगा भाई है, दोनो भाई साथ में रहते थे, बुधराम द्वारा सन्नू को जमीन नहीं देने के संबंध में अक्सर वाद-विवाद लड़ाई झगड़ा होते रहता था, पिछले तीन महिने से दोनो अलग-अलग रह रहे थे। सन्नू मडकामी अपने ससुराल गायतापारा में रहता था, 12 अगस्त को सन्नू मडकामी पुरानी रंजीश के चलते अपने भाई बुधराम को जान से मारने की नियत से टंगिया लेकर अपने ससुराल से आया था, रात्रि में ही बुधराम को जयराम मण्डावी के घरवालों के साथ लांदा पी रहा था, जिसके बाद दारू पीयेंगे कहकर अपने साथ ले गया। बुधराम पहले से अधिक नशे में था, ढंग से चल नहीं पा रहा था, रास्ते में सुनसान जगह पर मौका देकर कर रात्रि 8:30 बजे सन्नू मडकामी ने अपने बड़े भाई बुधराम मडकामी का हाथ व टंगिया के बेट से गला दबाकर हत्या कर दिया, वही पास में ही सोनारू के घर गया, जहाँ माहरू मण्डावी, दुलगो मडकामी एवं सोमारू मड़कामी लांदा पी रहे थे, जिसे घटना को बताकर तीन हजार रूपये में बुधराम के शव को दफनाने के लिए बात कर सभी के सहयोग से एक राय होकर लाश को व घटना को छुपाने की नियत से रात को ही मृतक को उसी के कपड़े से उसके दोनों हाथ व पैर को बांधकर एक मोटा लकड़ी के डण्डे से बाधकर ले गये और जंगल के नजदीक खेत किनारे खेत में पहले से रखे फावड़ा से गड्ढा खोदकर दफना दिये और झाड़ियों से दफन स्थल को ढक दिये। फिर सभी घटना की जानकारी किसी को नहीं देना कहकर अपने-अपने घर चले गये, मामले की जानकारी लगने के बाद कार्यपालिक दण्डाधिकारी दरभा द्वारा शव उत्खनन व मर्ग कार्यवाही किया गया। फॉरेसिक एक्सपर्ट डॉ० बी०सुरी बाबू का आवश्यक सहयोग लिया गया है। आरोपियों को कड़ाई से पूछताछ करने पर अपराध करना कबूल किया, दरभा में अपराध धारा 302,201, 34 ताहि० कायम कर घटना में उपयोग हुए टंगिया व लकड़ी गढढा खोदने में फावड़ा को जप्त किया गया है।
पूरे कार्यवाही में निरी-लालजी सिन्हा थाना प्रभारी दरभा, चौकी प्रभारी पखनार राकेश राठौर, उनि० शिशुपाल सिन्हा, प्रआर त्रिपुरारी राय, आरक्षक – आजूराम पिद्दा, संजय रजावत, तेजकुमार खाखा का मुख्य भूमिका रहा।

Related posts

धुमाल और ब्रास बैंड संचालकों को राहत दिलाने पूर्व विधायक संतोष बाफना ने की पहल…

jia

बारसूर नगर में अवैध शराब और सट्टा की धूम
आम जनता से बढ़ती पुलिस की दूरी

jia

इंजीनियरिंग के देवता भगवान विश्वकर्मा की जयंती बीजापुर में धूम धाम से मनाई गई

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!