June 13, 2021
Uncategorized

गीदम में शहीद कोरोना योद्धाओं को राष्ट्रीय पुरानी पेंशन संयुक्त मोर्चा संघ के राष्ट्रीय आह्वान पर कर्मचारी,एवं समाजसेवी संस्थाओं ने दी श्रद्धांजलि।

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा/गीदम,

गीदम:- पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर शालेय शिक्षक संघ के तत्वाधान में आज यूथ क्लब गीदम के पास सांस्कृतिक कला मंच में संयुक्त रूप से श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कर covid-19 में शहीद हुए कोरोना वारियर्स को 2 मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित की गई. जिसके तहत शिक्षा,स्वास्थ्य एवं सयुक्त अनियमित कर्मचारी,राजस्व विभाग सहित अन्य विभाग के कर्मचारियों ने दीप प्रज्वलित कर 2 मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित की.

कोरोना के कारण शहीद हुए कोरोना वारियर्स कर्मचारियों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए गीदम नगर के समाज सेवी श्री रवीश सुराना जी भी उपस्थित रहे उन्होंने श्रद्धांजलि अर्पित कर कहा कि हमारे साथ जो भी कर्मचारी साथी नहीं रहे उनका जाना हमारे लिए तथा प्रदेश के लिए अपूर्ण क्षति है।

उन्होंने सभी कर्मचारियों का आभार व्यक्त करते हुए सीमित संसाधनों के साथ इस कोरोना में सभी कर्मचारी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं इस दौरान हमारे कई कर्मचारी साथियों ने कोविड संक्रमण के चलते हमारा साथ छोड़ दिया जिनके प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए सरकार को कर्मचारियों की जायज मांगों पर विचार करते हुए उनकी मांग जरूर पूरी करने की बात कही इसी क्रम में श्रद्धांजलि सभा में उपस्थित श्री सूरज सिंह जिला अध्यक्ष दंतेवाड़ा एवं कार्यकारी प्रांत अध्यक्ष संयुक्त अनियमित कर्मचारी संघ छत्तीसगढ़ ने अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि covid-19 जैसे महामारी के दौरान आज सबसे ज्यादा अगर प्रशासन शासन का सहयोग कोई कर रहा है तो वह अनियमित कर्मचारी हैं जबकि उन्हें शासन द्वारा किसी प्रकार का कोई अतिरिक्त भत्ता या लाभ नहीं दिया जा रहा है जबकि शासन ने अपने घोषणा पत्र में संविदा में पदस्थ कर्मचारियों एवं अनियमित कर्मचारियों को नियमित करने का वादा किया था परंतु आज पर्यंत तक वादा को पूरा नहीं किया गया है जिससे कर्मचारियों में उदासी व्याप्त है

परंतु फिर भी हमारे अनियमित कर्मचारी इस महामारी में भी अपनी जिम्मेदारी को पूरी निष्ठा व ईमानदारी के साथ सभी जगह निर्वहन कर रहे हैं चाहे स्वास्थ्य केंद्रों, कोविड केयर सेंटर, टीकाकरण केंद्रों या fever clinic में कोविड test जैसे सभी स्थानों पर हमारे संविदा कर्मचारी ही स्वास्थ्य विभाग की रीढ़ बने हुए हैं। सरकार से अपेक्षा है कि जब बुरे वक्त में कर्मचारी आपका पूरा सहयोग कर रहे हैं तो सरकार भी उनकी जायज मांगों को समय रहते पूरा करे। इसी क्रम में स्वास्थ्य विभाग के जिलाध्यक्ष श्री अंकित सिंह ने भी दिवंगत कोरोना वरियर्स को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए सभी कर्मचारियों को बीमा सहित पुरानी पेंशन की मांग को दोहराया वहीं सहायक शिक्षक फेडरेशन के संयोजक श्री संतोष मानिकपुरी ने दिवंगत कर्मचारियों को श्रद्धांजलि अर्पित कर कहा कि इस कोरोना काल मे स्थिति बड़ी भयावह है हमारे कई कर्मचारी अपनी धर्मपत्नी सहित दिवंगत हो गए हैं ऐसे में कर्मचारियों को ना ही पेंशन की पात्रता है ना ही शासन द्वारा बीमा किया जा रहा है ऐसी स्थिति में कर्मचारियों को अपने परिवार की आर्थिक सुरक्षा की चिंता बनी हुई है उन्होंने कहा कि शासन हमारी जायज मांगों को तत्काल पूर्ण करें जिससे कर्मचारियों का मनोबल ऊँचा हो । शालेय शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष संतोष मिश्रा का कहना है की आज कोरोना जैसी महामारी में लाखों कर्मचारी कोविड-19 की ड्यूटी के दौरान संक्रमित होकर असमय ही मृत्यु को प्राप्त हो रहे हैं बिना पर्याप्त सुरक्षित उपाय के कर्मचारी ड्यूटी करने को बाध्य हैं। ऐसे में कर्मचारी संक्रमित हो रहे हैं जिस कारण कर्मचारी का परिवार भी हाई रिस्क पर है तथा कई जगह यह भी देखने में आया कि संक्रमित होने के कारण दोनों ही दम्पत्तियों की मौत हो गई और उनके बच्चे अनाथ हो गए लेकिन उन कर्मचारियों के परिवार को ना तो पेंशन की पात्रता है और ना ही किसी प्रकार की बीमा राशि की ऐसे में कर्मचारी के परिवार की आर्थिक स्थिति एवं भविष्य बहुत ही चिंताजनक बनी हुई है उन्होंने कहा कि प्रशासन कर्मचारी संगठनों के संवाद कर कर्मचारियों के प्रति सकारात्मक एवं सहयोगात्मक दृष्टिकोण अपना कर दिवंगत कर्मचारियों के परिवारों को तत्काल प्रकरण तैयार कर उनके सभी देयकों का भुगतान तत्काल कर दिवंगत परिवार के किसी भी योग्य सदस्य को अनुकंपा नियुक्ति प्रदान किया जाए। मिश्रा जी ने न्यू पेंशन स्कीम पर कहा कि जब एक देश, एक संविधान है, तो पुरानी पेंशन क्यों नही संसद विधायक को पेंशन की पात्रता है वही कर्मचारियों को एनपीएसदिया जा रहा है जो की कर्मचारियों के साथ अन्याय है। इस पर केंद्र एवं राज्य सरकारों को पुनः विचार करना चाहिए और कर्मचारियों की पुरानी पेंशन की मांग को पूरी करनी चाहिए क्योंकि कर्मचारियों के वृद्धावस्था में एक ही सहारा होता है पेंशन उसे भी सरकार ने बंद कर दिया। वर्तमान सरकार से अपेक्षा है की सरकार कर्मचारियों की न्याय संगत मांगों पर जरूर विचार करेगी एवं समय रहते मांगों को पूर्ण किया जाएगा।श्रद्धांजलि देने के लिए छ ग शालेय शिक्षक संघ दंतेवाड़ा इकाई के आह्वान पर दंतेवाड़ा ब्लॉक के चारों विकासखण्ड गीदम दन्तेवाड़ा कुआकोण्डा कटेकल्याण उपतहसील बारसूर एवं बचेली किरन्दुल में शिक्षकों ने अपने अपने घरों पर दीप प्रज्वलित कर दिवंगत कोरोना वॉरियर्स शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की तथा सभी ने अपने घर पर परिवार सहित 2 मिनट का मौन धारण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया है कर्यक्रम को सफल बनाने हेतु प्रांतीयपदाधिकारी शैलेष सिंह कुलदीप सिंह चौहान महेन्द्र यादव धीरेंद्र सिंहगौतम,पुरुषोत्तम साहू,संदीप सामंत, रजनीश ओसवाल,दिनेश कुमार गवेल, पी एल ठाकुर,जितेंद्र सिंह चौहान,अंकित गुप्ता, नारायण साहू राजीव मिश्रा,पलकेंष सोनी,माधुरी उके,दिप माला वेक,वेदिका नाग मीना कोर्राम प्रेमलता जैन,शीला कड़ियांम दिलेश्वरि ठाकुर संगीत चंद्रवंशी नीलम नेताम द्रोपती बगमरिया संध्या मरकाम राजकुमारी सिन्हा सुधा ठाकुर ,केेशाव स्वर्ण,आनंद मुड़ामी,गजलू पोडियाम, महावीर नाग,चंद्रकांत कुमार छांटा,ज्ञानेंद्र चतुर्वेदी, अजीत राम गोविंद दास देवांगन लेखन साहू चैंपेश्वर साहू,विकास , चुम्मन लाल, संतोष यादव ,उमेश श्रीमाली ठाकुर राम सेठिया,रामचरण यादव,योगेश सोनी आशुतोष शिवहरे एवं अन्य शिक्षकों ने शासन से ये अपील किया कि हमारे जो कोविड डियूटी करते हुए कोरोना से संक्रमित हो कर शहीद हुए हैं उनको सरकार बीमा योजना के अंतर्गत निर्धारित रु0 50 लाख की बीमा धनराशि शहीद हुए कर्मचारियों के निराश्रित और शोकाकुल परिवार को प्रदान की जाये।

Related posts

नक्सल प्रभावित क्षेत्र में लाल सलाम के बजाय
जय हिन्द की गुज सुनाई देने लगी.

jia

भारी बारिस के चलते मिरतुर नदी में बाढ़, विधायक विक्रम ने प्रशासनिक अमले के साथ किया दौरा,

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!