May 17, 2022
Uncategorized

डीएमएफटी वाले स्वास्थ्यकर्मियों को मिलेगी आगामी भर्तियों में प्राथमिकता
डीएमएफटी के शासी परिषद की बैठक में लिया गया निर्णय

Spread the love

जिया न्यूज़:-जगदलपुर,

जगदलपुर:-डीएमएफटी से वेतन प्राप्त करने वाले स्वास्थ्य विभाग के अधीन महारानी अस्पताल, मेडिकल कॉलेज एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के अधीन ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यरत कर्मचारियों की सेवा को निरंतर रखने के लिए आगामी भर्तियों में नियमानुसार प्राथमिकता दी जाएगी। यह निर्णय आज कलेक्टोरेट के प्रेरणा कक्ष में आयोजित डीएमएफटी के शासी परिषद की बैठक में लिया गया। सांसद दीपक बैज, जगदलपुर विधायक रेखचंद जैन, नारायणपुर विधायक चंदन कश्यप, चित्रकोट विधायक राजमन बेंजाम, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती वेदवती कश्यप, कलेक्टर रजत बंसल, पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र मीणा सहित डीएमएफटी शासी परिषद के सदस्यों की उपस्थिति में यह बैठक आयोजित की गई। बस्तर में स्वास्थ्य एवं शिक्षा की स्थिति को बेहतर करने पर जोर दिया गया। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन तथा मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य अंतर्गत आगामी भर्तियों में प्राथमिकता प्रदान करने के निर्देश दिए गए। महारानी अस्पताल में बिस्तरों की संख्या बढ़ाए जाने के कारण सेवा प्रदान करने हेतु कर्मचारियों की भर्ती में शीघ्रता लाने के साथ ही मेडिकल कॉलेज के अस्पताल में रिक्त पदों पर भर्ती के लिए आवश्यक कार्यवाही शीघ्रता से करने के निर्देश दिए गए। डीएमएफटी से भुगतान प्राप्त करने वाले स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों की कोरोना काल के दौरान समर्पण एवं निष्ठा के साथ ही इनके अनुभव को देखते हुए आगामी भर्तियों में प्राथमिकता देते हुए सेवा निरंतर जारी रखने के लिए शासन स्तर पर पहल करने की बात जनप्रतिनिधियों द्वारा कही गई। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी भर्तियों में तेजी लाने के साथ ही आगामी जनवरी माह तक डीएमएफटी से भुगतान निरंतर जारी रखने का निर्णय भी बैठक में लिया गया।
मेडिकल कॉलेज में औषधियों की पर्याप्त उपलब्धता बनाए रखने के साथ ही आयुष्मान योजना के तहत 24 घंटे सेवाएं प्रदान करने और स्वशासी मद से कर्मचारियों की भर्ती में तेजी लाने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही युवाओं के खेलकूद और सांस्कृतिक आयोजनों के लिए भी राशि के प्रावधान का निर्णय लिया गया। बस्तर फाईटर्स हेतु प्रशिक्षण में युवाओं की रुचि को देखते हुए ओपन जिम के निर्माण का निर्णय भी लिया गया। पुराने जर्जर स्कूल, आंगनबाड़ी, आश्रम और छात्रावास भवनों स्थान पर नए भवनों का निर्माण करने तथा सभी स्कूलों में शिक्षकों की पर्याप्त उपलब्धता के लिए युक्तियुक्तकरण हेतु एक सप्ताह के भीतर प्रस्ताव रखने तथा अनुकंपा नियुक्ति के प्रकरणों में तत्काल कार्यवाही के निर्देश दिए गए। पूर्व में स्वीकृत सभी कार्यों में तेजी से गुणवत्तापूर्ण कार्य करने के निर्देश दिए गए। बैठक में अपर कलेक्टर अरविदं एक्का, सहायक कलेक्टर सुश्री सुरुचि सिंह, संयुक्त कलेक्टर गोकुल रावटे सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे,

Related posts

Chhttisgarh

jia

बिलासपुर सिमगा मार्ग में हुआ सड़क दुर्घटना, वाहन के उड़ गए परखच्चे
घटना इतनी जबरदस्त की सामने के दोनों चक्के हो गए अलग

jia

जिले में मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान व पोषण के लिए बेहतर कार्य:- डा प्रियंका शुक्ला

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!