January 22, 2022
Uncategorized

बेख़ौफ़ चल रहे हैं अवैध क्लिनिक, जांच की दरकार

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा,

दंतेवाड़ा-लगातार समाचारों की सुर्खियों में रहने वाले झोलाछाप डॉक्टरों पर आखिर संरक्षण किसका है यह प्रश्न स्वाभाविक भी है ।नाम नहीं छापने की शर्त पर कुछ विभागीय विभीषण कहते हैं कि ये झोला छाप डॉक्टर जरूरी भी है हॉस्पिटल पर भरोसा कम लोगों का कम होता है ।जाहिर और सत्य बात है जब हॉस्पिटल में लोगों का भरोसा नहीं होगा तब ही वे भारी -भरकम राशि इन अवैध संचालित क्लीनिकों पर खर्च करते हैं ।जहां जांच के नाम पर मरीज केके साथ आर्थिक लूट होती है कुछ जांच बाहर करना होता है ऐसा भी कहा जाता है ।इन क्लीनिकों के सामने जांच की दरें नहीं होती न ही कोई बिल दिया जाता है ।जीएसटी तो यहां लागू ही नहीं होती इसका परिणाम होता है इनके पास अत्याधुनिक महंगी मशीनें और आलीशान क्लिनिक ।सरकार और प्रशासन को केवल इनके संचालन की ही जांच नहीं करनी चाहिए वरन इनके द्वारा अर्जित सम्पतियों का ब्यौरा सहित कितना टैक्स इनपर बकाया है उसकी भी जांच होनी चाहिए ।पूर्ववर्ती भाजपा सरकार में अधिक फली -फूली यह बीमारी अब भी बरकरार है ।न्याय पर निशाना साधने वाली सरकार को कुछ अलग करने की इच्छा जरूर होगी ऐसा कहा भी जाता है सुना भी जाता है अब देखना शेष है ।

Related posts

प्रदेश शिक्षक कल्याण संघ ने सौपा ज्ञापन, पेंशन रहा विषय

jia

पीढ़ापाल एवं धनेलीकन्हार कोविड सेंटर में वैक्सीन
लगाने लोगों में देखा गया उत्साह

jia

Chhttisgarh

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!