Uncategorized

सुदूर क्षेत्रों में सड़क निर्माण से आवागमन में हुई बढ़ोत्तरी
ग्रामीणों के सहयोग एवं सुरक्षाबलों की सतत निगरानी में सड़क निर्माण में मिली सफलता

Spread the love

जिया न्यूज़:-राजेश जैन-बिजापुर,

बीजापुर:- विकास कार्यों में तेजी लाने अंदरूनी गांवों में शासन की विभिन्न योजनाओं को पहुंचाने में सड़क की भूमिका महत्वपूर्ण है। कुटरू से बेदरे मार्ग का निर्माण कुछ वर्षो से सुरक्षागत कारणों से पूर्ण नहीं हो पाया था जिसे विगत वर्ष पूरा किया गया। लोक निर्माण विभाग एवं सुरक्षाबलों के जवानों के सहयोग एवं सतत निगरानी द्वारा कुटरू से बेदरे मार्ग बनाया गया है।

जिसमें ग्रामीणों का सहयोग भी सराहनीय रहा। ग्रामीणों ने सड़क निर्माण हेतु स्वयं टैक्टर-ट्राली द्वारा मुरूम बिछाई, गिट्टी सप्लाई के कार्य भी किये। जिसके परिणाम स्वरूप सड़क निर्माण पूर्ण हो पाया। सड़क बनने के बाद स्वास्थ्य सुविधाओं में वृद्धि हुई ग्रामीण बताते है कि इसके पूर्व बेदरे से कुटरू जाने में अधिक समय लगता था, रोड की स्थिति बहुत खराब थी जगह-जगह गड्ढे थे सामान्य दिनों में इन रास्तों से जाना तकलीफ भरा होता ही था। लेकिन बारिश के दिनों में यह आवागमन पूर्ण रूप से बंद हो जाता था। अब सड़क बनने से लोगों में काफी खुशी है।

बेदरे सहित करकेली, छोटे करकेली, उसकापटनम, अम्बेली आंकलंका, कुटरू सहित 10-12 गांवों के करीब 10 हजार लोगों को आवागमन सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध हुई। अब बरसात के दिनों में आवागमन में कोई समस्या नहीं है। गांव तक सही समय में लोग पहुंच जाते है। यहां तक कि बेदरे स्थित पीडीएस दुकानों में बरसात में राशन पहुंचने में काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ता था। बेदरे में स्थित राशन दुकान में बेदरे के अलावा नारायणपुर जिले के कुछ पंचायतों को भी राशन मिलता है इस सड़क के बन जाने से सिर्फ बीजापुर के ही नहीं बल्कि नारायणपुर के 4-5 पंचायतों को भी राशन की सुविधा प्राप्त हो रही है। नारायणपुर के ग्राम पंचायत लंका, पदमेट्टा, कांगूर, जाटूर के ग्रामीण बेदरे स्थित दुकान से राशन लेते है। कुटरू में संचार व्यवस्था की समस्या को देखते हुए जियो टावर लगाया गया। टावर लगाने के दौरान नक्सलियों द्वारा कार्य में लगे वाहनों को क्षति पहुंचाने के बाद भी टाॅवर लगाने में प्रशासन सफल रहा। जिससे ग्रामीण छात्र-छात्राओं, शिक्षित युवा सहित आम नागरिकों को नेटवर्क से जुड़ना संभव हो पाया। शासन की विभिन्न योजनाओं की जानकारी, आधार कार्ड, राशन कार्ड, जाति, निवास सहित अन्य दस्तावेजों को च्वाईस सेंटर के माध्यम से बनाने में सहुलियत हुई। वहीं बच्चों को ऑनलाईन क्लास की सुविधा मिली।

Related posts

शहर में चल रहे सट्टा पर बस्तर पुलिस की कार्यवाही
सट्टा पट्टी के साथ 03 आरोपी गिरफ्तार,सट्टा पट्टी एवं रजिस्टर बरामद

jia

सुरभि कॉलोनी के पास हुयी सड़क दुघर्टना में तीन युवक घायल घायलों के सिर, हाथ व पैर में आयी गंभीर चोटें

jia

कोविड कॉल व 144धारा प्रभावशील गोपाल स्पंज आयरन उद्योग स्थापना हेतु 12 अप्रैल को प्रस्तावित पर्यावरण जनसुनवाई पर लगे प्रतिबंध? -मुक्तिमोर्चा

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!