June 23, 2021
Uncategorized

सिलगेर गोली कांड के विरोध में भारतीय कम्यूनिस्ट का र्कोर्रा में धरना प्रदर्शन
पूर्व के वादे याद आये होगे, शर्म छिपाने के लिए ये आडम्बर तो नहीं है–मनीष-कुंजाम

Spread the love

जिया न्यूज़:-योगेंद्र सिंह भदोरिया-सुकमा,

सुकमा:-अनेक राजनीतिक संगठनो व सामाजिक संगठनो की ओर से तथा पूरे प्रेस की टीम के सिलगेर आने जाने से देस दुनियां में हलचल मचने की वजह से विवस हो कर कांग्रेस पार्टी भारी भरकम 8सदस्यों की जांच टीम लांच किया है. शायद सरकार मे होने के कारण लखमा राम इस दल के हिस्सा नहीं है.

दूसरे प्रदेशों के आदिवासी विधायक इस मामले को लेकर पत्र लिख रहे थे किन्तु यहाँ के विधायक, सान्सद मुह में ताले लगाये हुए थे. विपक्ष में जब वे लोग थे तब हर ऐसी घटना होने पर तुरंत प्रदेश कांग्रेस की ओर से जाँच टीम बन जाती थी और उसके सर्वमान्य मुखिया लखमा राम होते थे. वे कोविड प्रकोप काल में जिले में ही थे लेकिन 17 तारीख़ की घटना के एक दिन बाद रायपुर जाते हैं, तीसरे दिन मुख्य मंत्री के साथ बैठक में निर्णय लेते हैं कि माओ वादियो के विरुद्ध लडाई तेज किया जायेगा.

अब सवाल उठता है कि ये भारी भरकम दल क्या जांच करेगा. मारे गए वो चार लोग जिन्हें पुलिस नक्शली बता रही है उस रिपोर्ट को गलत बता सकेंगे? कैम्प हटाने की मुख्य मान्ग है उस बारे में क्या रिपोर्ट देगे. पेशा कानून के हवाले से लोग ये मान्ग कर रहे हैं, कांग्रेस की घोषणा पत्र में ये प्रमुख मुद्दा था इस हिसाब से तो कानून विरुद्ध हुआ फ़िर तो हटाने के पक्ष में बात होनी चाहिए. ये कुछ ऐसे मुद्दे है इस पर कांग्रेस जांच दल के रिपोर्ट का बेसब्री से इंतजार रहेगा. एक और बात छूट रहा है वो ये है कि ig पुलिस बस्तर का कुछ दिन पहले मीडिया मे उनका वक्तव्य छपा था कि सिलगेर आंदोलन में अरबन नक्शलीयो का हाथ है, जल्दी वे तह में पहुँचने वाले हैं, ये शब्द बहुत दिनों बाद यहाँ सुनने मिला है क्या ये जांच टीम इस बारे में भी पडताल करने वाला है. मैं जांच रिपोर्ट के इंतज़ार में उत्सुकता के मारे जैसे व्याकुल हो रहा हूँ. कहीं ऐसा न हो जाये की ये उत्सुकता दिल में ही मर जाये.सवाल करने के चक्कर में इतना जल्दी मे हूँ कि उनके पहले की बाते भूल रहा हूँ ,ऐसे घटना के बाद कांग्रेस के लोग काफ़ी हो हल्ला मचाते थे, निर्दोष आदिवासियों को पुलिस ने मार डाला ,दोषी पुलिस कर्मियों के विरुद्ध तत्काल कार्यवाही किया जाये, मृतक के परिवार जनो को मुआवजा दो, नौकरी दो, आदि. अब क्या कहेन्गे एक तो वे लोग काफ़ी देर हो गये हैं. पूर्व के वादे याद आये होगे, शर्म छिपाने के लिए ये आडम्बर तो नहीं है.

Related posts

Chhttisgarh

jia

दंतेवाड़ा पुलिस के पाच जवान कोरोंना पॉजिटिव भांसी थाना के जवानों की रिपोर्ट रेपिस्ट कीट मे कोरोंना पॉजिटिव

jia

लोन वर्राटू से प्रभावित होकर दो इनामी सहित पांच माओवादियों ने किया आत्मसमर्पण
पुलिस विरोधी विभिन्न नक्सल गतिविधियों में रहे है शामिल

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!