October 25, 2021
Uncategorized

जिले का हृदय स्थल कहे जाने वाले सरदार वल्लभभाई पटेल मैदान पर सेल की अनुमति देना आमजन के समझ से परे ….

Spread the love

जिया न्यूज़:-बालोद,

बालोद:-देश एवं प्रदेश के साथ-साथ बालोद जिला पर कोरोनावायरस की दूसरी लहर से आमजन अभी सम्भले ही नही है , और तीसरी लहर का खतरा निरंतर बना हुआ है,
फिर भी शहर के सरदार वल्लभभाई पटेल मैदान पर सेल लगाने की अनुमति देना समझ से परे है । कोरोनावायरस की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए शादी ब्याह, रैलिया, पर व्यक्तियो की संख्या तय की गई है, परंतु चर्चा का विषय यह भी है क्या सेल पर भी खरीदी करने वाले व्यक्तियो के लिए भी संख्या तय की गई है ।
बालोद जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रो पर शादी समारोह पर तय व्यक्तियों से अधिक पाए जाने पर निरंतर चालानी कार्यवाही की गई । एवं स्थानीय दुकानदारो पर भी नियमो का हवाला देते हुए चालानी कार्यवाही की जा रही है ।
कोरोनावायरस की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए शहर के बीचो बीच सेल लगाने की अनुमति देकर , कोरोनावायरस को फिर से निमंत्रण दी जा रही है। शहर के बीचो बीच लगे सेल पर ग्रामीण एवं शहरी जवान ,बूढ़े ,बच्चे सेल पर प्रत्येक दिन हजारों की संख्या मे खरीदी करने आया करेंगे जिससे वायरस फैलना लाजमी है ।
उक्त सरदार वल्लभभाई पटेल मैदान पर लगे सेल पर सभी छत्तीसगढ़ प्रदेश के बाहर के व्यापारी है , क्या उक्त व्यापारियो का कोरोना टेस्ट कराया गया है , कितने दुकानें खोलने की अनुमति दी गई है , उक्त दुकानो मे खरीदी करने बुजुर्गो, जवानो, बच्चो को सेल पर प्रवेश से पहले सेनीटाइजर कराया जाता है, मास्क लगा कर ही प्रवेश की अनुमति दी गई है, उक्त नियमो का पालन सेल पर किया जा रहा है या नही उक्त जानकारी प्रशासनिक अधिकारियो को लेनी चाहिए ।
उक्त विषय पर एसडीएम बालोद रामसिंह ठाकुर द्वारा बताया गया की सरदार पटेल मैदान में लगने वाले सेल पर कोरोना गाइडलाइन का पालन करना पड़ेगा, सेल में शामिल लोगों के वैक्सीनेशन का कागज मंगवाया गया है, सेल में शामिल लोगों का जांच भी करवाएंगे, किसका वैक्सीनेशन हुआ है कि नही सूची मंगवाई गई है। एवं कितने लोग रहेंगे कितने लोग बाहर से आएंगे इसकी भी जानकारी ली जावेगी।
सरदार पटेल मैदान में सेल लगाने की अनुमति दिए जाने को आसपास के लोगों ने इसे प्रशासन की बड़ी लापरवाही बता रहे है । आक्रोशित लोगों का कहना है कि कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए प्रशासन को अनुमति नहीं देनी चाहिए थी ।
सेल पर कई तरह के समान एक ही जगह आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं इसलिए सेल लोगों को आकर्षित करेगा ‌। जिससे संक्रमण का खतरा बना रहेगा , अनुमति निरस्त किए जाने की बात आसपास के लोगों ने कही है।

Related posts

कटेकल्याण में नेटवर्क की समस्या,क्षेत्रवासी परेशान

jia

Chhttisgarh

jia

स्व सहायता समूह की महिलाओं की शिकायत पर कलेक्टर ने गठित की तीन सदस्यों की जांच टीम जांच टीम साथ दिनों में प्रस्तुत करेगी अपनी जांच रिपोर्ट महिलाओं ने कार्यवाही न होने पर जिले की पीडीएस प्रणाली को ठप्प करने की बात कही

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!