September 26, 2021
Uncategorized

जेल बंदी रिहाई समिति ने सीआरपीएफ के जवान की सकुशल वापसी हेतु माओवादियों से की अपील

Spread the love

जिया न्यूज़:-दंतेवाड़ा

जवान की वापसी में देरी होने पर जेल बंदी रिहाई समिति 07 अप्रैल को एक टीम गठित कर घटना स्थल की ओर जायेगी

दंतेवाड़ा:-बीजापुर जिले के तर्रेम में शनिवार को नक्सलियों और सुरक्षा बलों के बीच हुयी मुठभेड़ के बाद सीआरपीएफ के एक जवान के माओवादियों के पास होने की खबर के बाद जेल बंदी रिहाई समिति ने प्रेस नोट जारी किया है। जिसमे जवान की सकुशल वापसी की अपील की है। गौरतलब है कि बीजपुर जिले में हुई मुठभेड़ में 22 जवानों की शहादत हुई है और 31 घायल है और जिसमें 13 जवान गंभीर रूप से घायल है । इस विषय पर जेल बंदी रिहाई समिति अपनी संवेदना प्रकट करते हुए शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की हैं। तथा शहीद जवानों के परिवार वालों को इस विषम परिस्थिति में इस दुख की घड़ी में इस पीड़ा को सहन कर सकने के लिए शक्ति प्रदान हो उसके लिए ईश्वर से कामना की है। जेल बंदी रिहाई समिति ने कहा कि हम सदैव से ही हिंसा के विरोधी रहे है चाहे हिंसा किसी भी तरफ से क्यों न किया जाए । हम न ही हरे और काले रंग के कपड़ो वाले वर्दी का समर्थन करते है। न ही हम खाकी और दूसरे प्रकार के वर्दी का समर्थन करते है । और न ही किसी रंग के वर्दी का विरोध करते है । जाने तो दोनो तरफ से गई है इसलिए सिर्फ मानवता और इंसानियत के नाते हम माओवादियो से विनम्र अपील करते है की सीआरपीएफ जवान राजेश्वर सिंह मन्हास जो वर्तमान में आपके पास है। उन्हे सकुशल रिहा कर दिया जाये । इस परिस्थिति में उनके परिवार वालो पर क्या बीत रही है इसका अनुभव कोई नही कर सकता। इसलिए जेल बंदी रिहाई समिति माओवादियो से उनकी रिहाई की निवेदन करती है। अगर किसी भी कारण से जवान के वापसी में देरी होती है तो जेल बंदी रिहाई समिति 07/04/2021 को एक टीम गठित कर के घटना स्थल के जंगलों की ओर आगे बढ़ेगी । और बिना किसी भी विषय पर टिप्पणी करते हुए सिर्फ और सिर्फ जवान के रिहाई की मांग को लेकर जवान को वापस लाने के उद्देश्य से माओवादियों के प्रतिनिधि मंडल से बात करने के लिए आगे बड़ेगी।

Related posts

Chhttisgarh

jia

जगदलपुर आम रोड़ पे बंडा लहराते 2 गिरफ्तार

jia

दिन दहाडे़ मोटर सायकल चोरी करने वाले चोर को गीदम पुलिस ने किया गिरफ्तार मोटर सायकल को बचेली के चोरो द्वारा चोरी कर पांच हजार में बेच दिया गया था

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!