May 26, 2022
Uncategorized

NSUI के द्वारा ऑनलाइन परीक्षा की मांग को लेकर महामहिम राज्यपाल को दिया ज्ञापन और कड़ा विरोध प्रदर्शन किया

Spread the love

जिया न्यूज:-जगदलपुर,

जगदलपुर:-शैक्षणिक सत्र 2021 -2022 में बढ़े कोरोना के प्रकोप को देखते हुए महाविद्यालयो का संचालन व पढ़ाई ऑनलाइन माध्यम से करवाई गई परन्तु बस्तर एक आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र है यहाँ बहुत से छात्रों के पास ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए साधन उपलब्ध नही है जिससे बहुत से छात्र छात्रायें पढ़ाई से वंचित रहे और उनकी पढ़ाई पूरी नही हो पाई इन परिस्थितियों के बीच अगर परीक्षा ऑफलाइन होने की स्थिति बनती है तो बहुत से छात्रों का भविष्य खरब हो सकता है जिसके चलते सभी छात्रों की मांग है कि सेमेस्टर परीक्षा जिस तरह से ऑनलाइन माध्यम से संचालित की गई है उसी तरह इस वर्ष की सालाना परीक्षा को भी ऑनलाइन माध्यम से करवाया जाए ।
जब तक ऑनलाइन परीक्षा के विषय में कोई निर्णय नही आता तब तक कॉलेजों में ऑफ़लाइन संचालित होने वाली मॉडल परीक्षा पर तत्काल प्रभाव से रोकने का आदेश जारी किया जाए ।
अतः जल्द से जल्द छात्र हित में छात्रों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए परीक्षा ऑनलाइन करने का आदेश जारी करने का निर्णय लिया जाए अगर छात्र हित में 3 दिवस में कोई निर्णय नही लिया जाता है तो छात्रों के द्वारा धरना प्रदर्शन किया जाएगा जिसकी पूरी जवाबदारी विश्वविद्यालय प्रशासन की होगी,ढ़े कोरोना के प्रकोप को देखते हुए महाविद्यालयो का संचालन व पढ़ाई ऑनलाइन माध्यम से करवाई गई परन्तु बस्तर एक आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र है यहाँ बहुत से छात्रों के पास ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए साधन उपलब्ध नही है जिससे बहुत से छात्र छात्रायें पढ़ाई से वंचित रहे और उनकी पढ़ाई पूरी नही हो पाई इन परिस्थितियों के बीच अगर परीक्षा ऑफलाइन होने की स्थिति बनती है तो बहुत से छात्रों का भविष्य खरब हो सकता है जिसके चलते सभी छात्रों की मांग है कि सेमेस्टर परीक्षा जिस तरह से ऑनलाइन माध्यम से संचालित की गई है उसी तरह इस वर्ष की सालाना परीक्षा को भी ऑनलाइन माध्यम से करवाया जाए ।
जब तक ऑनलाइन परीक्षा के विषय में कोई निर्णय नही आता तब तक कॉलेजों में ऑफ़लाइन संचालित होने वाली मॉडल परीक्षा पर तत्काल प्रभाव से रोकने का आदेश जारी किया जाए ।
अतः जल्द से जल्द छात्र हित में छात्रों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए परीक्षा ऑनलाइन करने का आदेश जारी करने का निर्णय लिया जाए अगर छात्र हित में 3 दिवस में कोई निर्णय नही लिया जाता है तो छात्रों के द्वारा धरना प्रदर्शन किया जाएगा जिसकी पूरी जवाबदारी विश्वविद्यालय प्रशासन की होगी,

Related posts

जिला बेमेतरा चौकी कंडरका पुलिस की कार्यवाही – 87 पौवा अंग्रेजी गोवा व देशी मसाला शराब के साथ एक आरोपी गिरफ्तार

jia

Chhttisgarh

jia

कहीं औपचारिकता तो नहीं क्लीनिकों पर कार्यवाही ?

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!