October 18, 2021
Uncategorized

कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के प्रांतीय आहवान पर डी ए की माँग को लेकर माननीय मुख्यमंत्री के नाम सौंपा एस डी एम को ज्ञापन

Spread the love

जिया न्यूज़:-राजेश जैन बीजापुर,

बीजापुर:-कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के प्रांतीय आहवान पर प्रदेश के कर्मचारी एवं अधिकारीयों ने डी ए की माँग को लेकर माननीय मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन शोंपा,कर्मचारी फेडरेशन के जिलाघ्य क्षजाकीर खान एवं जिला संयोजक के डी राय के नेतृत्व मे एस डी एम बीजापुर देवेश ध्रुव को सौंपा गया।ज्ञात हो कि लंबित मँहगाई भत्ता को लेकर फेडरेशन के बैनर तले आज छ्ग के समस्त जिलों मे ज्ञापन सौंपा जा रहा है।फेडरेशन ने चौदह सूत्रीय माँगो को लेकर दिसंबर 2020 मे कलम रख मशाल उठा ,आंदोलन तीन चरणों मे पूरा कर चुका है।लेख है कि केंद्र सरकार द्वारा जनवरी 2020 का चार प्रतिशत ,जुलाई 2020 का तीन प्रतिशत एवं जनवरी 2021 का चार प्रतिशत कुल ग्यारह प्रतिशत मँहगाई भत्ता के भुगतान का निर्णय लिया गया है।इस तरह केंद्र के कर्मचारियों को कुल 28 प्रतिशत मँहगाई भत्ता मिलेगा जबकि प्रदेश के कर्मचारियों को बारह प्रतिशत मँहगाई मिल रहा है जो कि न्यायोचित नही है।उल्लेखनीय है कि प्रदेश मे कोरोना संक्रमण को रोकने शासकीय सेवकों ने दिन रात परिश्रम किया है ।शासन से उनका हक मिलना अपेक्षित है।वर्तमान मे मँहगाई बहुत बढ़ गई है।इन सब तथ्यों से अवगत होते हुये कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन जिला बीजापुर ने प्रदेश के शासकीय सेवकों वा पेंशनरों को देय तिथि से सोलह प्रतिशत मँहगाई भत्ता स्वीकृत करने की माँग मुख्यमंत्री से की है। प्रतिनिधि मंडल मे विभिन्न संगठन के पदाधिकारी शामिल थे।छ्ग शिक्षक संघ के आर डी झाड़ी,ईश्वर झाड़ी,तलाण्डी नारायण,पूनेम सत्यम,डी सुब्बैया ,तृतीय वर्ग कमचारी संघ के एम वी राव,वाहन चालक संघ के बालेन्द्र राठौर,वन कर्मचारी संघ के लोकेश रेड्डी, चतुर्थ श्रेणी संघ के गनपत गुरला के अलावा छ्ग शालेय शिक्षक संघ,पंचायत सचिव संघ,पटवारी संघ ,अनियमित कर्मचारी संघ, स्वास्थ्य कर्मचारी संघ ,लोक निर्माण विभाग संघ,वेटनरी संघ,कृषि संघ ,पेंशनर कल्याण संघ लिपिक संघ सहित कई संगठनों ने अपना समर्थन दिया है।

Related posts

15 सौ जवानों को अपने बैंड धुन में चलाने वाले एएसआई का हुआ निधन
भर्ती से लेकर सेवा समाप्ति तक बैंड दल का किया नेतृत्व

jia

जगदलपुर सीएसपी रहे देवनारायण पटेल ने पत्नी और बच्चों को गोली मारकर सन् 2014 में खुदकुशी कर ली थी. सरकार फिर शुरू कर सकती है जांच

jia

शहीद महेन्द्र कर्मा स्मृति चिकित्सालय को किया जाएगा सम्मानित

jia

Leave a Comment

error: Content is protected !!